Friday, December 06, 2019
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
नहीं चढ़ा डंडे पर तिरंगा , लेकिन फिर भी हमीर उत्सव शुरूब्रेकिंग : हमीरपुर तकनीकी विश्वविद्यालय के विकास के लिए सीएम जय राम ठाकुर ने दिए 10 करोड़ रुपए, लंबलू को मिला उपतहसील का तौहफ़ाब्रेकिंग : हमीरपुर तकनीकी विश्वविद्यालय के विकास के लिए सीएम जय राम ठाकुर ने दिए 10 करोड़ रुपए, लंबलू को मिला उपतहसील का तौहफ़ासीएम जयराम ने हमीरपुर में कहा, “हम विधानसभा में प्रत्येक प्रश्न का उत्तर देने को तेयार”।मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने हमीरपुर में किए करोड़ों रुपए के लोकार्पण व शिलान्यासहैदराबाद केस: मडर और रेप के चारो आरोपी एनकाउंटर में ढेर हमीर उत्सव पर विशेष : बेशक सबसे छोटा लेकिन विकास में सबसे आगे है हमीरपुर, देश की सीमाओं पर तैनात हैं यहाँ के हज़ारों नौजवानहमीरपुर उत्सव में 270 जवान संभालेंगे मोर्चा, पाँच स्थानों पर लगेंगे पुलिस के नाके, शराबियों से सख़्ती से निपटेगी पुलिसब्रेकिंग : राजीव चोपड़ा की हमीरपुर कांग्रेस सेवादल के संयोजक के रूप में नियुक्ति, समर्थकों में उत्साह
-
मनोरंजन

विक्की चौहान के नाम रही,आनी सिराज उत्सव लवी की दूसरी व अंतिम सांस्कृतिक संध्या

हिमालयन अपडेट ब्यूरो | November 04, 2019 11:28 AM

 

एसएमएस चवासी हिट संजय ठाकुर,श्याम ठाकुर,लोक गायिका पूनम सरकैक व पॉल सिंह ने भी नचाये दर्शक
संध्या में एसडीएम चेत सिंह व सेसराम आजाद रहे मुख्यातिथि
 
आनी,
सिराज उत्सव आनी लवी मेले की दूसरी व अंतिम सांस्कृतिक संध्या में प्रदेश के प्रसिद्ध लोक गायक विककी चौहान, लोक गायिका पूनम सरकैक,पॉल सिंह तथा एसएमएस चवासी हिट के लोक गायक संजय ठाकुर व श्याम ठाकुर ने बेहतरीन प्रस्तुत्ति से खूब धमाल मचाया और संध्या को यादगार बनाया।अंतिम संध्या में हिमाचली स्टार लोक गायक विककी चौहान ने मंच पर आते ही अपने हिट गीत "सही पकड़े हैं,सही पकड़े हैं, ये लगी नाटी"  से अपनी प्रस्तुत्ति की शुरुआत की,जिसकी मधुर तान ने दर्शकों से खचाखच भरे पंडाल को झूमने पर विवश कर दिया।विककी चौहान ने उसके बाद "ओरी आजा तू, बैश मेरी कारो दी,,", 'धन राजा जुबलो रा', "डाली झूमा,झूमा रे डालिए",,"झुमके झुमके" ,"भाई जी बातवहा ऐसी","चुड़पुडा जाना चुड़पुडा' तथा भाई री सालिये",सहित एक से बढ़कर एक प्रस्तुत्ति देकर मुख्यतिथि , विशिष्ट अतिथि व मेला कमेटी के पदाधिकारियों सहित दर्शकों को हल्की वर्षा के बाबजूद भी खूब झुमायासंध्या में लोक गायिका पूनम सरकैक ने जहां अपने हिंदी, पंजाबी व पहाड़ी गीतों से खूब समां बांधा लोक गायक पाल सिंह ने अपनी प्रस्तुत्ति में "शेतु लाड़िये",'किदी पाई मेरी दोलडी","बांका लागा सगेतड़िये तेरे घाटू रा फूरू," ,तथा सुणे उजी री जेचिये"की प्रस्तुत्ति से दर्शकों को नचाने में कोई कसर नहीं छोड़ी।वहीं संध्या में एसएमएस चवासी के हिट लोक गायक संजय ठाकुर व श्याम ठाकुर ने अपनी प्रस्तुत्ति में अपने चर्चित लोक गीत "घरै बी आगु तेरे आंगने", 'हालरा लागा गै  राधुये","फेर बोला फिरदी" तथा म्हारे बी पंडता मेघ सिंघा" सहित अन्य कई नाटियों से दर्शकों को जमकर नचाया।संध्या में इसके अलावा स्थानीय लोक गायकों ने भी  अपना कार्यक्रम पेश किया।संध्या में मंच का संचालन ललित शर्मा व विजय मोडका ने किया, जबकि धरोहर डांस ग्रुप के डांसरों ने भी अपने सुंदर नृत्य से दर्शकों को खूब मंत्रमुग्ध किया।वहीं मेले के प्रायोजक  केशव आरके प्रोडक्शन रहे।
मेले की दूसरी व अंतिम सांस्कृतिक संध्या में एसडीएम आनी चेत सिंह ने बतौर मुख्यातिथि तथा,अराजपत्रित कर्मचारी संघ के पूर्व नेता एवं सेवानिवृत्त एसडीओ सेसराम आजाद व वाईन कॉन्ट्रेक्टर गोबिंद ठाकुर  ने बतौर विशेष अतिथि शिरकत की।मेला कमेटी अध्यक्ष यूपेंद्र कांत मिश्रा ने उन्हें टोपी, बैज व मफलर पहनाकर सम्मानित किया। एसडीएम चेतसिंह व सेसराम आजाद ने अपने सम्बोधन में लोगों को मेले की बधाई दी और कहा कि मेले हमारी संस्कृति के  संबाहक है,जिन्हें सजोये रखना  हमारा व भावी पीढ़ी का परम कर्तव्य है।संध्या में मुख्यतिथि एसडीएम चेतसिंह के साथ उनकी पत्नी श्रीमती अनु चौहान, विशेष अतिथि सेसराम आजाद व गोविंद ठाकुर, मेला कमेटी अध्यक्ष यूपेंद्र कांत मिश्रा,सतपाल ठाकुर,संतोष ठाकुर, एसपी ठाकुर, नरेंद्र पम्मी, महेंद्र ठाकुर,प्रताप ठाकुर, शिवराज शर्मा, व तारा चन्द, प्रकाश, महेंद्र कायथ, तथा भगवान दास सहित मेला कमेटी के अन्य कई सदस्य मौजूद रहे।
Have something to say? Post your comment
 
और मनोरंजन खबरें