Friday, December 06, 2019
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
नहीं चढ़ा डंडे पर तिरंगा , लेकिन फिर भी हमीर उत्सव शुरूब्रेकिंग : हमीरपुर तकनीकी विश्वविद्यालय के विकास के लिए सीएम जय राम ठाकुर ने दिए 10 करोड़ रुपए, लंबलू को मिला उपतहसील का तौहफ़ाब्रेकिंग : हमीरपुर तकनीकी विश्वविद्यालय के विकास के लिए सीएम जय राम ठाकुर ने दिए 10 करोड़ रुपए, लंबलू को मिला उपतहसील का तौहफ़ासीएम जयराम ने हमीरपुर में कहा, “हम विधानसभा में प्रत्येक प्रश्न का उत्तर देने को तेयार”।मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने हमीरपुर में किए करोड़ों रुपए के लोकार्पण व शिलान्यासहैदराबाद केस: मडर और रेप के चारो आरोपी एनकाउंटर में ढेर हमीर उत्सव पर विशेष : बेशक सबसे छोटा लेकिन विकास में सबसे आगे है हमीरपुर, देश की सीमाओं पर तैनात हैं यहाँ के हज़ारों नौजवानहमीरपुर उत्सव में 270 जवान संभालेंगे मोर्चा, पाँच स्थानों पर लगेंगे पुलिस के नाके, शराबियों से सख़्ती से निपटेगी पुलिसब्रेकिंग : राजीव चोपड़ा की हमीरपुर कांग्रेस सेवादल के संयोजक के रूप में नियुक्ति, समर्थकों में उत्साह
-
विशेष

सराहकड़ ( हमीरपुर) : सरकार-प्रशासन से नहीं माँगी मदद, श्मशान घाट बनाने खुद उतर पड़े गांव वाले

रजनीश शर्मा | November 15, 2019 10:32 AM

हमीरपुर , 

हमीरपुर ज़िला के बमसन ब्लॉक के सराहकड़ गांव में लोग खुद ही सड़क बनाकर नया श्मशान घाट बनाने में जुट गए हैं दरअसल, जीवन की अंतिम यात्रा की क़रीब ढाई किलोमीटर लम्बी ऊबड़ खाबड़ राह को देख ग्रामीणों ने यह फैसला लिया है। कलंझड़ी माता मंदिर के ठीक नीचे क़रीब चार मरले ज़मीन पर सड़क , पार्किंग, रैनशेड, बिजली एवं पानी की उपलब्धता के साथ सराहकड़ गाँव के क़रीब 64 परिवारों ने अपने ख़र्च पर ही नया श्मशान घाट बनाने के लिए काम शुरू कर दिया है। आबादी से दूर इस नए श्मशान घाट का नाम गोबिंद घाट रखा गया है गोबिंद घाट के लिए चार मरले का खेत एन॰आई॰टी॰ में तैनात सुरक्षा गार्ड सराहकड़ गाँव के अजय कुमार रांगड़ा पुत्र जयकृष्ण ने दान किया है । इसके अलावा क़रीब साढ़े तीन लाख रुपए की राशि गाँव के लोगों ने एकत्रित कर ली है।

क्या  है समस्या
जीवन की अंतिम यात्रा को पूर्ण करवाने के लिए सराहकड़ गाँव के लोगों को क़रीब ढाई किलोमीटर दूर कराड़ा में कटियारा गाँव के श्मशान घाट तक जाना पड़ता है। यह रास्ता अत्यंत ऊबड़ खाबड़ है तथा अर्थी को ले जाने वालों के लिए भी जोखिम भरा है। इस समस्या को सराहकड़ गाँव के अजय कुमार ने समझा और 64 परिवारों के आगे बात रखी । अजय द्वारा चार मरला ज़मीन दान करते ही कैप्टन सुखदेव सिंह, भाग चंद , जसवंत सिंह , माला राम धीमान, सुनील कुमार धीमान ,विजय कुमार धीमान,बिहारी लाल धीमान, ईश्वर दास धीमान, प्रभात सिंह, राकेश कुमार, पीर चंद, मुकेश रांगड़ा, प्रीतम चंद, कर्म चंद, कुलतार सिंह, राजकमल, अंकित रांगड़ा, विपन रांगड़ा और मस्तराम ने लाखों रुपए इस पुण्य कार्य के लिए एकत्रित कर लिए।ग्रामीणों ने सरकार या प्रशासन से इस काम के लिए एक भी पैसे की मदद न लेने का प्रण भी लिया है।
अजय कुमार रांगड़ा ने बताया कि भूमि पूजन के साथ सड़क निर्माण का कार्य शुरू हो गया है। गाँव के ही एक बुज़ुर्ग स्वर्गीय गोबिंदु पुत्र जोधा राम के नाम पर घाट  का  नाम गोविंद घाट रखा गया है।यहाँ सड़क , पार्किंग, रैनशेड, बिजली एवं पानी की उपलब्धता रहेगी ।

 

 

 

Have something to say? Post your comment
 
और विशेष खबरें
हमीर उत्सव पर विशेष : बेशक सबसे छोटा लेकिन विकास में सबसे आगे है हमीरपुर, देश की सीमाओं पर तैनात हैं यहाँ के हज़ारों नौजवान मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर हमीरपुर में करेंगे करोड़ों रुपए के लोकार्पण व शिलान्यास, इंडोर स्टेडियम समेत मिलेंगी कई सौग़ातें ब्रेकिंग) टौणी देवी ( स्वाहलवा) : सुबह 5:30 बजे पढ़ने के लिए उठी आठवीं की बच्ची, संदिग्ध हालत में ग़ायब, पूरा गाँव व पुलिस कर रही तलाश हत्या के मामले में हमीरपुर कोर्ट ने दो लोगों को सुनाई उम्रक़ैद की सज़ा, 15-15 हज़ार जुर्माना भी भरने के आदेश देव संसद से विख्यात जगती एक समृद्ध लोकतांत्रिक परंपरा चौपाल के क़ुरग गाँव की 110 वर्षीय सुंदी देवी के निधन पर आसमान भी रोया , याददाश्त व मिलनसार स्वभाव के चलते इलाक़े में थी अलग पहचान, हमीरपुर पुलिस के फ़ेसबुक पेज पर ख़ूब शेयर हो रही ‘हिमालयन अपडेट’ की ख़बर, पुलिस को मिल रही बधाईयाँ शुभ मुहूर्त में करें करवाचौथ व्रत का पूजन देवकृपा से जड़ से उखड़े उल्टे पेड़ में भी रहती है हरियाली रामपुर के दत्तनगर हाइड्रो पावर प्रोजेक्ट 412 मेगावाट ने किया सतलुज आराधना का आयोजन