Saturday, July 11, 2020
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
नादौन पुलिस स्टेशन हिमाचल का सर्वश्रेष्ठ थाना घोषित , 47 पंचायतों की क़रीब एक लाख जनता को बेहतर सुरक्षा, व 19 मानकों पर तय हुई रैंकिंगब्रेकिंग: कलयुगी दादा ने अपनी 9 साल की पोती को बनाया हवस का शिकारशहादत : तिरंगे में लिपटे अमर शहीद अंकुश के पार्थिव शरीर को देख बिलख उठे हमीरपुरवासी, आसमान भी रोया, राजकीय सम्मान के साथ दी गई अंतिम विदाई , सीएम कल मिलेंगे परिजनों से तिरंगे में लिपटे अमर शहीद अंकुश का पार्थिव शरीर ले आज 10 बजे लेह से चण्डीगढ़ के लिए उड़ान भरेगा विशेष विमान, क़ड़ोहता के बरसेला नाला में होगी राष्ट्रीय सम्मान के साथ अंतिम विदाईअंकुश की शहादत से हमीरपुर गमगीन, हमीरपुर जिला के कड़ोहता ( भोरंज उपमंडल)का वीर सैनिक अंकुश शहीद हुआ , कड़ोहता में बेसब्री से हो रहा शहीद के पार्थिव देह का इंतज़ार ब्रेकिंग ) हमीरपुर : मानसिक परेशानी से घर से ग़ायब युवक की सातवें दिन जंगलबेरी में मिली डेड बॉडी,ब्रेकिंग : जिला सोलन के अर्की में कोरोना का पहला मामला आने से हड़कंप ब्रेकिंग: कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति गुरुग्राम से सीधे पहुंचा अस्पताल, मेडिकल कॉलेज नेरचौक में मची अफरातफरी
-
राज्य

नशा निवारण अभियान के तहत बहुविशेषज्ञ चिकित्सा शिविर आयोजित 

हिमालयन अपडेट ब्यूरो | November 17, 2019 05:40 PM
सोलन,
 

मादक द्रव्यों के सेवन एवं मदिरा व्यसन पर रोक के लिए 15 दिसंबर, 2019 तक प्रदेश सरकार द्वारा कार्यान्वित किए जा रहे विशेष अभियान के अंतर्गत आज यहां बहुविशेषज्ञ चिकित्सा शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण तथा आयुर्वेद विभाग के विशेषज्ञों ने लोगों को मादक पदार्थों के विषय में जानकारी दी। शिविर में लोगों का स्वास्थ्य मानकों के अनुरूप परीक्षण भी किया गया।
शिविर में लोगों को विभिन्न मादक द्रव्यों एवं मदिरा सेवन के दुष्प्रभावों से अवगत करवाया गया।
शिविर का शुभारम्भ उपमण्डलाधिकारी सोलन रोहित राठौर ने किया।
रोहित राठौर ने इस अवसर पर कहा कि समाज में विभिन्न कारणों से नशाखोरी की बढ़ती प्रवृत्ति सभी के लिए चिन्ता का विषय है। उन्होंने कहा कि मादक द्रव्यों के सेवन एवं मदिरा व्यसन पर रोक सभी का सामूहिक उत्तरदायित्व है। उन्होंने युवाओें से आग्रह किया कि नशे से बचाव के लिए सर्वप्रथम अपने विवेक का प्रयोग करें। उन्होंने कहा कि यदि युवा पहली बार नशा करने के लिए कहने पर दृढ़तापूर्वक मना कर दें तो वे नशे के चंगुल से बच सकते हैं। युवाओं को अपने साथियों को भी नशे को न कहने के लिए प्रेरित करना होगा।
उपमण्डलाधिकारी ने कहा कि नशे का सेवन व्यक्ति को व्यसनी बनाता है और इसके प्रभाव से व्यक्ति सामाजिक, आर्थिक रूप से शून्य हो जाता है। उन्होंने कहा कि नशा सदैव पतन का कारण बनता है। उन्होंने कहा कि युवा अपने परिवार के भरण-पोषण तथा देश के विकास का प्रमुख कारक हैं। इसके लिए उन्हें शारीरिक एंव मानसिक रूप से स्वस्थ रहना होगा। उन्होंने युवाओं से आग्रह किया कि वे नशामुक्ति के लिए संकल्पबद्ध हों।
शिविर में चिकित्सकों ने सभी को नियमित व्यायाम एवं योग करने के लिए प्रेरित किया। लोगों को अवगत करवाया गया कि व्यायाम एवं योग से नशे से दूर रहा जा सकता है। शिविर में युवाओं को नशे से दूर रहने के लिए परामर्श भी प्रदान किया गया।
शिविर में 181 रोगियों का स्वास्थ्य भी जांचा गया।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी सोलन डाॅ. राजन उप्पल, जिला कार्यक्रम अधिकारी डाॅ. एन.के. गुप्ता, डाॅ. अजय सिंह, डाॅ. धर्मेन्द्र, डाॅ. कुशाल, डाॅ. किरण, डाॅ. सरोज, आयुर्वेद विभाग के डाॅ. राजेन्द्र शर्मा, डाॅ. अरविन्द गुप्ता, डाॅ. सीमा गुप्ता, डाॅ. मन्जेश शर्मा, डाॅ. अंजु गुप्ता सहित अन्य चिकित्सकों ने रोगियों को सेवाएं प्रदान की।

Have something to say? Post your comment
और राज्य खबरें
जिला में यलो अलर्ट, डीसी ने की एडवाईजरी जारी लोक व्यवहार राष्ट्र स्तरीय संस्थानों पर लग रहे भ्रष्टाचार के आरोपों पर केंद्र से बात करें मुख्यमंत्री : राणा वंदे भारत मिशन के अंतर्गत 39 देशों/शहरों से अब तक 444 व्यक्तियों को हिमाचल प्रदेश वापिस लाया जा चुका है। जिका के अंतर्गत पौधरोपण व ग्रामीण आजीविका सुधार पर खर्च होंगे 41.78 करोड़ रुपयेः वन मंत्री बिजली उपभोक्ताओं को प्रदान किए जाने वाले उपदान का युक्तिकरण प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के हाथों में सुरक्षित है देशः मुख्यमंत्री प्रदेष के लोगों ने पाई पाई जोड़कर राहत कोष में दिया पैसा और नेताओं ने भरी अपनी जेबें कुठियाड़ी का वार्ड नंबर 4 कंटेनमेंट जोन बना, बौट व बाथू हॉटस्पॉट क्षेत्र से बाहर पुलिस थाना बद्दी में विश्राम कक्ष का शुभारम्भ