Sunday, September 27, 2020
Follow us on
-
शिक्षा

अनिल चौहान ने नशा निवारण अभियान के दौरान बच्चो को किया जागरूक

बालम गोगटा, जिला ब्यूरो प्रमुख, हिमालयन अपडेट | November 24, 2019 01:20 PM

चौपाल,

 

नशा निवारण अभियान के दौरान बच्चो को जागरूक करते उपमंडलाधिकारी चौपाल अनिल चौहान ने इस दौरान इनके द्वारा बच्चो को नशे से दुर रेहने के लिये प्रेरित किया गया ! इन्होने कहाँ की नशे से ना केवल एक परिवार प्रभावित होता है बल्कि पूरे समाज मॆ इसका विपरीत असर पड़ता है ! युवाओं को नशे से दुर रेहना चाहिये !नशे की लत से पीड़ित व्यक्ति परिवार के साथ समाज पर बोझ बन जाता है। युवा पीढ़ी सबसे ज्यादा नशे की लत से पीड़ित है !
युवाओं को नशे से दुर रेहना चाहिये ! उन्होने कहाँ नशे में धूत व्यक्ति को इस बात का संज्ञान नहीं रहता है कि वह कहाँ है किसके सामने हैं तथा क्या बात कर रहा हैं. वह किसी वैचारिक दुनियां में अपने दिमाग को ले जाता हैं. उसके लिए समाज, मर्यादा, बहु बेटी, छोटे बड़े का फर्क शून्य हो जाता हैं.

एक आधुनिक समाज में नशा सबसे घातक बुराई हैं, जो न सिर्फ व्यक्ति को शारीरिक, मानसिक तथा आर्थिक रूप से ही बदहाल नहीं करते बल्कि परिवार के परिवार बर्बाद कर देती हैं. आपने भी कई ऐसे नशेड़ी लोगों को अपने जीवन में देखा होगा, जिनकी एक बुरी आदत या यूँ कहे एक गलती ने उनके जीवन को तबाह कर दिया हैं.

उस परिवार की कल्पना करिए जिसमें पांच छः सदस्य हो तथा घर का एकमात्र मुखिया जो कमाता हैं. उसे नशे की लत हैं. परिवार के सभी सदस्य उनके घर आने का इन्तजार कर रहे है जिससे चूल्हा जलाया जाए, मगर यदि वही हाथ में शराब की बोतल लिए अश्लील बाते कहते हुए घर में आकर मारपीट शुरू कर दे, परिवार के सदस्यों का जीवन कैसा होगा. उन्हें शारीरिक चोट से ज्यादा मान सम्मान का नुक्सान होता हैं. पड़ोसी उन पर हंसने लगते हैं. शराबी की बीबी बेटा जैसे शब्दों से सम्बोधित किया जाता हैं.

हमें संकल्प करना चाहिए कि हम एक नयें विचारों का समाज बनाए. जिसमें इन सामाजिक बुराइयों का कोई स्थान न हो. जो व्यक्ति नशेड़ी हैं. कोशिश करे उन्हें यह लत छुडाएं तथा एक अच्छे समाज का सदस्य होने के नाते उनके कठिनाई भरे जीवन पर बुरे कमेन्ट करने की बजाय उनका इस बुराई से पीछा छुड़ाने में मदद करे. उन्होने बच्चो से आग्रह किया की वो अपने समाज के लोगों को भी जागरूक बनाए तथा भविष्य में कोई भी व्यक्ति इस गलत राह को न चूने इसके लिए विशेष रूप से जागरूक रहे.

Have something to say? Post your comment
और शिक्षा खबरें
टीजीटी पदों की बैच आधार पर भर्ती के लिए काउन्सिलिंग 28 सितम्बर से आइटीआई के सत्र 2020-21 हेतु प्रथम काउंसलिंग में चयनित अभ्यार्थियों की सूची जारी दसवीं कक्षा में 4 नकलची को नकल पकड़ते हुए पकड़ा गया और किया UMC CASE दर्ज अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय इकाई कोरोना पॉजिटिव अभ्यर्थी भी दे सकेंगे एचएएस परीक्षा कंप्यूटर शिक्षको को नही मिली बजट सत्र में बढ़ी हुई 10%वेतन बृद्धि कन्या विद्यालय आनी में ऑनलाइन परीक्षा सफल  मंडी परीक्षा केंद्र में कोरोना संक्रमित परीक्षार्थी छात्रा व अन्य छात्रों की जान की जिम्मेवारी लें सरकार। नई शिक्षा नीति को लेकर परिचर्चा में 500 शिक्षक भाग लेंगे  डिग्री कॉलेज आनी में गत वर्ष 842 के मुकाबले इस वर्ष कुल 894 छात्र छात्राओं ने लिया दाखिला