Friday, December 06, 2019
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
नहीं चढ़ा डंडे पर तिरंगा , लेकिन फिर भी हमीर उत्सव शुरूब्रेकिंग : हमीरपुर तकनीकी विश्वविद्यालय के विकास के लिए सीएम जय राम ठाकुर ने दिए 10 करोड़ रुपए, लंबलू को मिला उपतहसील का तौहफ़ाब्रेकिंग : हमीरपुर तकनीकी विश्वविद्यालय के विकास के लिए सीएम जय राम ठाकुर ने दिए 10 करोड़ रुपए, लंबलू को मिला उपतहसील का तौहफ़ासीएम जयराम ने हमीरपुर में कहा, “हम विधानसभा में प्रत्येक प्रश्न का उत्तर देने को तेयार”।मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने हमीरपुर में किए करोड़ों रुपए के लोकार्पण व शिलान्यासहैदराबाद केस: मडर और रेप के चारो आरोपी एनकाउंटर में ढेर हमीर उत्सव पर विशेष : बेशक सबसे छोटा लेकिन विकास में सबसे आगे है हमीरपुर, देश की सीमाओं पर तैनात हैं यहाँ के हज़ारों नौजवानहमीरपुर उत्सव में 270 जवान संभालेंगे मोर्चा, पाँच स्थानों पर लगेंगे पुलिस के नाके, शराबियों से सख़्ती से निपटेगी पुलिसब्रेकिंग : राजीव चोपड़ा की हमीरपुर कांग्रेस सेवादल के संयोजक के रूप में नियुक्ति, समर्थकों में उत्साह
-
राज्य

अपडेट) टौणी देवी ( स्वाहलवा) : आख़िर गसोता में मासी के घर से मिल गयी नैंसी

रजनीश शर्मा | November 30, 2019 01:41 PM
.........आख़िर मिल गयी नैंसी

हमीरपुर/ रजनीश शर्मा

9882751006

टौणी देवी - लंघवाण रोड पर स्थित स्वाहलवा गाँव की 14 वर्षीय बच्ची नैंसी को पुलिस ने खोज निकाला है। टौणी देवी चौकी इंचार्ज ज्ञान चंद ने बताया कि बच्ची को गसोता के पास मीना कुमारी पत्नी राजेंद्र सिंह के घर से इसे ट्रेस किया गया। बच्ची को डुग्गा के पास अकेले घुमते देख वे इसे घर ले आए थे। बच्ची के पिता चमन लाल ने बताया कि बच्ची मिल गयी है। आपको बता दें कि बच्ची को तलाश करने के लिए एस॰एच॰ओ॰ संजीव गौतम के नेतृत्व में चार टीमें डटी हुई थीं। सुबह 9-9:30 बजे बच्ची को खुले बालों और काली पजामी व शर्ट में अणु चौक की तरफ़ देखे जाने की अपुष्ट जनकारी मिली है। क़रीब 9:46 पर बच्ची को हमीरपुर बाज़ार में गुज़रते देखा गया। पुलिस इसे हमीरपुर बाज़ार, स्कूल मैदान , बस स्टैंड तथा इसके आसपास गम्भीरता से तलाश करती रही। फ़िलहाल बच्ची का पता लग जाने से पुलिस व माँ बाप ने राहत की साँस ली है। माँ भी बच्ची तक पहुँच गयी है।औपचारिकताओं के बाद इसे घर लाया जा रहा है।

क्या है मामला

नैंसी पुत्री चमन लाल गाँव स्वाहलवा डी॰ए॰वी॰ पब्लिक स्कूल टौणी देवी की आठवीं कक्षा की छात्रा है। रोज़ की तरह वह अपनी छोटी बहन के साथ रात को सोई थी । अक्सर वे पाँच बजे पढ़ने के लिए उठ जाती हैं। शुक्रवार को भी दोनों बहनें एक सोई थीं। शनिवार सुबह क़रीब 5:30 बजे नैंसी कमरे से बाहर निकली लेकिन उसका कोई पता न चला। छोटी बहन ने स्वजनों को इस बारे बताया तो तलाश शुरू हो गयी।

डुग्गा  तक पैदल पहुँची बच्ची

स्वाहलवा से टौणी देवी, ठाना दरोगन, कोट , अणु से होते हुए बच्ची हमीरपुर बाज़ार तक पैदल ही पहुँच गयी। एन॰आई॰टी॰ अणु व हमीरपुर बाज़ार में सी॰सी॰टी॰वी॰ फूटेज में क़ैद हुईं बच्ची की तस्वीरें पुलिस के लिए अहम कड़ियाँ बनती गयीं। वह डुग्गा तक पैदल चली गयी जहाँ से उसे मीना कुमारी पत्नी राजेंद्र सिंह गसोता अपने घर ले आए।

एसपी हमीरपुर अर्जित सेन ठाकुर ने क्या बताया 

इस बारे एसपी हमीरपुर अर्जित सेन ठाकुर ने बताया कि शनिवार सुबह लगभग 7:45 बजे बच्ची नैंसी के लापता होने के बारे में एक रिपोर्ट प्राप्त हुई। स्थानीय निवासियों के साथ पुलिस टीमों ने लापता बच्ची की तलाश शुरू की। हमीरपुर शहर में लगे सीसीटीवी कैमरों से 6 घंटे की खोज और पहचान करने के बाद, जहाँ लड़की को चलते देखा गया था, लड़की को आखिरकार गसोता से मीना कुमारी पत्नी राजेंद्र सिंह के घर से ट्रेस किया गया। इन्होंने डुग्गा के पास सड़क पर बच्चे को अकेले घूमते हुए पाया था और इसे अपने घर ले गया। लड़की के अनुसार वह रास्ता भटक गई थी और तब तक चलती रही जब तक कि उसका पता नहीं चल पाया। बच्ची को माता-पिता को सौंप दिया गया।है। 

Have something to say? Post your comment
 
और राज्य खबरें
जन सुरक्षा व सेवा में अहम योगदान दे रहे गृहरक्षक : हंसराज आनी में निर्वाचन साक्षरता क्लब की कार्यशाला आयोजित निंगलू गांव में दूर हुई लो वोल्टेज की समस्या सोलन जिला का 16वां जनमंच अर्की विधानसभा क्षेत्र के भूमती में चैलचौक को मिला उप अग्निशमन केंद्र एक्सपोर्ट चौंक से एलेम्बिक चाैंक, झाड़माजरी मार्ग ‘नो पार्किंग जोन’ घोषित पैरागॉन होटल से मिनी सचिवालय तक वन वे मार्ग की समय सारिणी में संशोधन मुख्यमंत्री ने डाॅ. भीमराव अम्बेडकर की पुण्य तिथि पर पुष्पांजलि अर्पित की सीएम जयराम ने हमीरपुर में कहा, “हम विधानसभा में प्रत्येक प्रश्न का उत्तर देने को तेयार”।मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने हमीरपुर में किए करोड़ों रुपए के लोकार्पण व शिलान्यास 6 दिसम्बर को होगा चौपाल सराह पुलबाहल रोड़ का जॉन्ट इंस्पेक्शन का निरीक्षण