Monday, February 24, 2020
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को जाता है बदला-बदली के दौर को ख़त्म करने का श्रेय : नरेंद्र ठाकुरब्रेकिंग : शिक्षा विभाग उठाएगा एसिड पीड़ित छात्राओं के इलाज का ख़र्च , जाँच के बाद निष्कासित होगा आरोपित छात्र , पीड़ित परिवार को नहीं मिली एफ़आईआर की कॉपी(ब्रेकिंग) हमीरपुर : मर्डर केस में पुलिस के हत्थे चढ़ा आरोपी आमिर खान, गिरफ़्तारी के बाद पुलिस ने तेज़ की जाँच Breaking News : नारकंडा में कार दुर्घटनाग्रस्त एक की मौतएसिड प्रकरण : आरोपी के ख़िलाफ़ रविवार को एफ़आईआर नंबर 13/2020 दर्ज, उटपुर पीएचसी से पुलिस ने लिए एमएलसी, आई जाँच में तेज़ी।एसिड प्रकरण : राम भरोसे सरकारी स्कूलों की विज्ञान प्रयोगशालाएँ , चपड़ासी से प्रोमोट हो लैब अटेंडेंट दे रहे सेवाएँ, हाई स्कूलों में नहीं है लैब अटेंडेंट की पोस्टअपडेट: एसिड पीड़िता शिवांगी का बयान लिख वापिस लौटी पुलिस, आज स्कूल प्रशासन से होगी पूछताछ, सिर्फ़ उटपुर में ही हुआ पीड़िता का इलाज, टौणी देवी या हमीरपुर में इलाज की ख़बरें निकली झूठीसरकाघाट राजदेई वृद्धा मामला : हाई कोर्ट से राहत मिली एक आरोपी को , गाँव में घुसे 23, राजदेई भी बेटी संग बड़ा समाहल में, जान को ख़तरा
-
शिक्षा

युवा समाजिक कार्यकर्ता ने कहा बच्चो के भविष्य हो रहा खराब !

हिमालयन अपडेट ब्यूरो | December 12, 2019 12:33 PM

शिमला,

जिला शिमला मॆ इस समय सरकारी विद्यालय मॆ शिक्षकॊ की भारी कमी खल रही है ! वही दर्जनों ऐसे विद्यालय है जहाँ स्टाफ की कमी के कारण बच्चो का भविष्य दाव पर लगा है ! जिसकी ना तो सरकार कॊ कोई चिंता है ना ही प्रशासन कॊ ! बात यदि शिक्षा विभाग की की जाये तो सरकार मॆ शिक्षा मंत्री भी इसी जिले से है शिमला जिला के भीतर कई ऐसे विद्यालय है जहाँ पर कई वर्षों से अध्यापक ही नही है ! वही इस विषय मॆ युवा समाजिक कार्यकर्ता विशाल चौहान ने प्रारम्भिक शिक्षा निर्देशालय से सूचना माँगी तो प्रारम्भिक शिक्षा निर्देशालय द्वारा दी गई सूचना के अनुसार 442 पद जिला शिमला मॆ शिक्षकों के खाली चल रहे है ! जिसमे भाषा अध्यापक 39 , शास्त्री 138, कला अध्यापक 121, शारारिक शिक्षक 119, गृह विज्ञान 14, पंजाबी भाषा अध्यापक 1, उर्दू अध्यापक 10 पद रिक्त चले है ! वही इस विषय मॆ विशाल चौहान का केहना है की इसके अतिरिक्त उच्च शिक्षा निर्देशालय के अन्तर्गत जो पद आते है उसकी संख्या भी सेंकडो मॆ हो सकती है ! यदि जिला शिमला के रामपुर , चौपाल , रोहडू की की जाये तो यहाँ पर दर्जनों ऐसे विद्यालय है जहाँ शिक्षकों की कमी चल रही है ! कई ऐसे भी विद्यालय है जहाँ एक दो अध्यापकॊ के साहरे विद्यालय चल रहे है ! शिक्षकों की कमी के विषय मॆ ना तो शिक्षा विभाग के उच्च अधिकारी ध्यान देते है ना ही कोई अध्यापक संघ ! इसका मुख्य कारण ये है की आज सरकारी विद्यालय मॆ केवल गरीब लोगो के बच्चे पढ़ रहे है ! सरकारी विद्यालय मॆ कार्यरत अध्यापक भी अपने बच्चो कॊ शिक्षकों की कमी के कारण निजी विद्यालय मॆ पढ़ाते है सरकारी विद्यालय मॆ वही बच्चे पढ़ते है जो निजी विद्यालय का खर्च नही उठा सकते यहाँ तक !
गरीब बच्चो की शिक्षा बिना अध्यापक के भगवान भरोसे चल रही है ! वही विशाल चौहान ने शिक्षा मंत्री व मुख्यमंत्री से माँग की है की प्रदेश मॆ सरकारी स्कूलों मॆ पड़े शिक्षकों के पदों कॊ जल्द भरा जाये ताकि बच्चो का भविष्य अध्यापकों की कमी के कारण खराब ना हो

Have something to say? Post your comment
 
और शिक्षा खबरें
एनएसयूआई की प्रदेश इकाई ने निजी विश्वविद्यालयों द्वारा फ़र्ज़ी डिग्री बेचने के विरोध में प्रेस विज्ञप्ति जारी की गई। बोर्ड परीक्षाओं में बेहतरीन नतीजे  देने वाले स्कूलों को किया जाएगा पुरस्कृत  इंटरनेशनल कान्फ्रैंस में ममता ने हासिल किया बैस्ट टीचर अवार्ड अध्यपक व अभिभावक के सहयोग बिना बच्चों का संपूर्ण विकास असम्भव--- रविकांत प्लस पॉइंट कंप्यूटर संस्थान शीशमहल रामपुर बुशहर में वार्षिक पारितोषिक वितरण समारोह का आयोजन राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय उदयपुर का उपायुक्त ने किया औचक निरीक्षण  जवाहर नवोदय विद्यालय की कोचिंग कक्षाओं में 20 विद्यालयों के बच्चें ले रहे भाग  आनी रिवाड़ी के शिक्षाविद डॉ, मुकेश शर्मा पीएचडी के साथ स्वर्ण पदक से अलंकृत देवभूमि मॉडर्न वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय जगातखाना तहसील निरमंड (रामपुर बुशहर) में हर्षोल्लास के साथ मनाया गया वार्षिकोत्सव  सरस्वती विद्या मंदिर नित्थर में धूमधाम से मनाया गया वार्षिकोत्सव