Monday, March 30, 2020
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
उपायुक्त ने की रेड क्रॉस को दान देने की अपील  विशेष :आपदाएं और हमखबर का असर : हरकत में आया प्रशासन, मौके का बीडीओ नारकंडा ने किया मुआयनाराजधानी के दीनदयाल उपाध्याय अस्पताल में कोरोना वायरस के दो संदिग्ध भर्तीकोरोना वायरस: हिमाचल प्रदेश में कोरोना वायरस के दो पॉजीटिव मामले सामने आए , हाई अलर्ट ।पोल खोल :कोरोना से कैसे बचेगा किंगलख़बर का असर : हमीरपुर जिला में सुजानपुर सहित सभी सार्वजनिक उत्सवों, मेलों इत्यादि का आयोजन स्थगित करने के आदेश पारित , डीसी ने दिए कड़े निर्देश एक दूसरे का मुँह ताक रहे विभाग, सुजानपुर में चल रहा अनाधिकृत मेला, दुकानों में गंदगी की भरमार, डबल्यू॰एच॰ओ॰ एवं सरकार की गाइड लाइन की कोई परवाह नहीं।
-
पंजाब

लुधियाना में लाखों मुसलमानों ने नागरिकता संशोधन बिल के खिलाफ निकाला रोष मार्च - अपने वतन में किसी काले कानून को थोपने नहीं देंगे : शाही इमाम पंजाब

December 14, 2019 06:54 PM

लुधियाना, 14 दिसम्बर (अजय अरोड़ा  ) : केंद्र सरकार द्वारा नागरिकता कानून में किए गए बदलाव के बाद देश भर के अल्पसंख्यकों की तरफ से विरोध प्रदर्शन जारी है, आज यहां लुधियाना की ऐतिहासिक जामा मस्जिद से डिप्टी कमिश्नर दफ्तर तक शहर की सभी मस्जिदों के सदस्यों ने शाही इमाम पंजाब मौलाना हबीब उर रहमान सानी लुधियानवी की अगुवाई में जोरदार रोष प्रदर्शन किया।
आज सुबह से शहर की विभिन्न मस्जिदों से बड़ी संख्या में मुसलमान फील्ड गंज जामा मस्जिद पहुंचना शुरू हो गए, प्रदर्शनकारियों ने हाथों में कैब नामंजूर है, कौमी ऐकता जिंदाबाद, एनआरसी मुर्दाबाद, हिन्दू-मुस्लिम -सिख-ईसाई आपस में हैं भाई-भाई, काला कानून वापिस लो, लिखी तख्तियां उठाई हुई थी।
इस मौके पर मजलिस अहरार इस्लाम हिंद के राष्ट्रीय अध्यक्ष व शाही इमाम पंजाब मौलाना हबीब उर रहमान सानी लुधियानवी ने कहा कि धर्म के नाम पर बनाया गया नागरिकता संशोधन बिल देश की एकता और अखंडता के लिए खतरा है इससे भारत के धर्म निरपेक्ष ढांचे को नुकसान होगा। यह बिल देश के संविधान के मूल सिद्धांतों के खिलाफ है। शाही इमाम मौलाना हबीब उर रहमान ने कहा कि इतिहास गवाह है कि भारत में कभी भी नफरत की राजनीति कामयाब नहीं हुई। उन्होंने कहा कि हमें इस बात पर कोई ऐतराज़ नहीं है कि विभिन्न धर्मों को मानने वालों को नागरिकता संशोधन बिल में राहत दी गई है बल्कि ऐतराज़ यह है कि मुसलमानों को ही क्यों निशाना बना के बाहर रखा गया है। शाही इमाम ने कहा कि हमने अपने वतन भारत की आज़ादी, एकता और अखंडता के लिए बेमिसाल कुर्बानियां दी हैं, हम अपने ही वतन में अपने ऊपर किसी काले कानून को थोपने नहीं देंगे। शाही इमाम ने कहा कि यह देश सब का बराबर है और कोई भी ताकत मुसलमानों को दूसरे दर्जे का शहरी नहीं बना सकती। उन्होंने कहा कि भारत देश धर्म निर्पेक्षता का रखवाला है। इस देश में किसी की मनमर्जी नहीं चल सकती। उन्होंने कहा कि सम्प्रदायिक ताकते देश में हिन्दू-मुस्लिम-सिख-ईसाई और दलित भाईचारे को तोडऩा चाहती हैं। शाही इमाम ने कहा कि नागरिकता बिल में संशोधन करने वाली सरकार क्या आने वाले समय में मुसलमानों के बाद ऐसा ही संशोधन किसी और धर्म के लिए नहीं करेगी? नागरिकता संशोधन बिल में आने वाले लोगों को भी ज्यादा खुश होने की जरुरत नहीं आजकल राजनीति में कोई धर्म नहीं रहा सिर्फ सत्ता का लालच है तभी तो आए दिन देश में गठजोड़ की सरकारें बन रही हैं और यह सरकारे क्या पता कब क्या संशोधन कर कब किस कौम को बाहर निकाल दें? शाही इमाम ने कहा कि नागरिकता बिल में संशोधन संवेदनशील मामला है इसे नजरअंदाज नहीं किया जा सकता, इस मामले को लेकर जल्दी ही पंजाब भर की मस्जिदों के इमामों और प्रबंधकों की लुधियाना में मीटिंग बुलाई जाएगी, जिसमें राज्यस्तरीय रोष प्रदर्शन की रणनीति तय की जाएगी। वर्णनयोग है कि आज प्रदर्शन के बाद डी सी लुधियाना को भारत के राष्ट्रपति महामहिम श्री राम नाथ कोविंद जी के नाम ज्ञापन दिया गया। इस रोष मार्च में हिन्दू- सिख और दलित भाइयों ने भी हिस्सा लेकर देश की धर्मनिरपेक्षता को बरकरार रखने की अपील की है।

Have something to say? Post your comment
 
और पंजाब खबरें
लंगर लगाने और होली खेलने आदि संबंधी सेहत विभाग के निर्देश जारी मानिक डावर ने कुष्ठ आश्रम मे बड़ी धूमधाम से मनाया गणतंत्र दिवस का जश्न लुधियाना जामा मस्जिद के मुख्यद्वार पर शाही इमाम ने फहराया राष्ट्रीय ध्वज अब जीवन साथी ढूंढना हुआ और भी आसान; संजीव नागरा सी.ए.ए और यूपी पुलिस के अत्याचारों के खिलाफ आज पंजाब भर में मुसलमान काला दिवस मनाएंगे : शाही इमाम मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को नायब शाही इमाम ने सौंपा ज्ञापन सी.ए.ए और उत्तर प्रदेश पुलिस की गुंडागर्डी हरगिज बर्दाश्त नहीं की जाएगी - पंजाब भर में काला दिवस 3 जनवरी को मनाया जाएगा : शाही इमाम लुधियाना पुलिस ने छोटे काॅमर्शियल वाहनों को दी राहत, अब एक टन तक ढो सकेंगे सामान सोमवार से बिना हेल्मेट दोपहिया वाहन सवारों के कटेंगे चालान, यातायात उल्लंघन के लिए जीरो टॉलरेन्स नीति का ऐलान * शांतिपूर्वक ढंग से विरोध करने का अधिकार छीन संविधान की धज्जियां उड़ा रही है केंद्र सरकार : शर्मा/हांडा