Sunday, September 27, 2020
Follow us on
-
हेल्थ और लाइफस्टाइल

नशे के खात्मे के लिए करें पुलिस का सहयोग: डा. ऋचा वर्मा

हिमालयन अपडेट ब्यूरो | December 16, 2019 09:07 AM

 कुल्लू



उपायुक्त डा. ऋचा वर्मा ने सभी जिलावासियों से अपील की है कि वे नशीले पदार्थों के सेवन और इसकी तस्करी को पूरी तरह खत्म करने के लिए आगे आएं और इसमें पुलिस का सहयोग करें। नशीले पदार्थों और मादक द्रव्यों के खिलाफ एक माह के विशेष अभियान के समापन अवसर पर डिग्री कालेज कुल्लू में आयोजित जिला स्तरीय कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए डा. ऋचा ने यह अपील की।
  उन्होंने कहा कि बच्चों और युवाओं को नशे से बचाने के लिए अभिभावक तथा शिक्षक विशेष ऐहतियात बरतें। अगर किन्हीं कारणों से कोई युवा नशे के जाल में फंस गया है तो उसे इससे बाहर निकालने में मदद करें तथा उसका इलाज करवाएं। उपायुक्त ने कहा कि हमें अपने आस-पास नशे से संबंधित गतिविधियों पर कड़ी नजर रखनी चाहिए तथा तुरंत पुलिस को मोबाइल ऐप या टाॅल फ्री नंबर के माध्यम से सूचित करना चाहिए। अगर हम ऐसी गतिविधियों को विरोध नहीं करेंगे तो एक दिन हमारा अपना बच्चा या भाई भी नशे के जाल में फंस सकता है।
  डा. ऋचा ने युवाओं से कहा कि वे नशे के बजाय खेलकूद, सांस्कृतिक, सामाजिक या अन्य सकारात्मक गतिविधियों में भाग लें। इससे वे जीवन में ऊंचे लक्ष्य हासिल करेंगे। कुल्लू जिला में एक माह के दौरान आयोजित किए गए जागरुकता कार्यक्रमों की चर्चा करते हुए उपायुक्त ने कहा कि इस अभियान में विभिन्न विभागों, शिक्षण संस्थानों, पुलिस, नेहरु युवा केंद्र और कई संस्थाओं ने बहुत ही सराहनीय कार्य किया है। इस मौके पर उपायुक्त ने उपस्थित लोगों को नशे का कड़ा विरोध करने की शपथ भी दिलाई।
   इससे पहले डीएसपी प्रियंक गुप्ता ने जिला में पुलिस की ओर से आयोजित विभिन्न जागरुकता कार्यक्रमों की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि जागरुकता कार्यक्रमों के अलावा पुलिस ने विशेष अभियान के तहत बड़े पैमाने पर नशीले पदार्थ बरामद किए हैें।
   कार्यक्रम के दौरान पुलिस की ओर से चित्रकला प्रतियोगिता आयोजित की गई, जिसमें सरकारी और निजी स्कूलों के विद्यार्थियों ने भाग लिया। इस प्रतियोगिता में ढालपुर स्कूल के अक्षय कुमार प्रथम, भारत-भारती स्कूल की शगुन द्वितीय और एसपीएसएस स्कूल जरी के जतिन नेगी तृतीय रहे। उपायुक्त ने इन विजेताओं को पुरस्कृत किया। इस मौके पर लला मेमे फाउंडेशन ने रक्तदान शिविर लगाया, जिसमें लगभग 20 लोगों ने रक्तदान किया। उपायुक्त ने सभी रक्तदाताओं को प्रशस्ति पत्र प्रदान किए।
  जिला कल्याण अधिकारी एवं नशा निवारण अभियान के नोडल अधिकारी समीर ने अभियान में सक्रिय भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए सभी विभागों, संस्थाओं और शिक्षण संस्थानों का आभार व्यक्त किया। पुलिस के जागरुकता अभियान की टीम सहभागिता के युवा कलाकारों ने नुक्कड़ नाटक से नशा निवारण का संदेश दिया।
  इस अवसर पर डीआरडीए के परियोजना अधिकारी सुरजीत सिंह ठाकुर, नेहरू युवा केंद्र के समन्वयक डा. लाल सिंह, क्षेत्रीय अस्पताल के डा. हीरा लाल, अन्य अधिकारी, कुल्लू कालेज के प्राध्यापक, विभिन्न स्कूलों के अध्यापक और स्वयंसेवी संस्थाओं के पदाधिकारी भी उपस्थित थे।

Have something to say? Post your comment
और हेल्थ और लाइफस्टाइल खबरें
चौपाल में कोरोना का कहर आये नए कोरोना के तीन केस पॉजिटिव सोलन जिला से आज कोरोना संक्रमण जांच के लिए भेजे गए 184 सैम्पल प्रदेश के 71 हजार से अधिक लाभार्थी इस योजना के अन्तर्गत निःशुल्क उपचार का उठा चुके हैं लाभ रैपिड एंटीजन टेस्ट कराने में बंगाणा उपमंडल आगेः सीएमओ फ्लू जैसे लक्षणों की अनदेखी पड़ रही भारीः डीसी  हिमाचल में कोरोना से डॉक्टर की मौत सोलन जिला से आज कोरोना संक्रमण जांच के लिए भेजे गए 250 सैम्पल उपमंडल चौपाल के नेरवा क्षेत्र में चार नए कोरोना केस पॉजिटिव कमला नेहरू अस्पताल की महिला डॉक्टर कोरोना पॉजिटिव आईजीएमसी शिमला में पिता का इलाज करवाने गए आनी के तीन व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव