Monday, February 24, 2020
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
ब्रेकिंग : शिक्षा विभाग उठाएगा एसिड पीड़ित छात्राओं के इलाज का ख़र्च , जाँच के बाद निष्कासित होगा आरोपित छात्र , पीड़ित परिवार को नहीं मिली एफ़आईआर की कॉपी(ब्रेकिंग) हमीरपुर : मर्डर केस में पुलिस के हत्थे चढ़ा आरोपी आमिर खान, गिरफ़्तारी के बाद पुलिस ने तेज़ की जाँच Breaking News : नारकंडा में कार दुर्घटनाग्रस्त एक की मौतएसिड प्रकरण : आरोपी के ख़िलाफ़ रविवार को एफ़आईआर नंबर 13/2020 दर्ज, उटपुर पीएचसी से पुलिस ने लिए एमएलसी, आई जाँच में तेज़ी।एसिड प्रकरण : राम भरोसे सरकारी स्कूलों की विज्ञान प्रयोगशालाएँ , चपड़ासी से प्रोमोट हो लैब अटेंडेंट दे रहे सेवाएँ, हाई स्कूलों में नहीं है लैब अटेंडेंट की पोस्टअपडेट: एसिड पीड़िता शिवांगी का बयान लिख वापिस लौटी पुलिस, आज स्कूल प्रशासन से होगी पूछताछ, सिर्फ़ उटपुर में ही हुआ पीड़िता का इलाज, टौणी देवी या हमीरपुर में इलाज की ख़बरें निकली झूठीसरकाघाट राजदेई वृद्धा मामला : हाई कोर्ट से राहत मिली एक आरोपी को , गाँव में घुसे 23, राजदेई भी बेटी संग बड़ा समाहल में, जान को ख़तराअपडेट: शिवांगी ने कहा , “ वॉर्निंग देकर आरोपी कमाण्डो ने फैंका एसिड” मौक़े पर पहुँची पुलिस
-
शिक्षा

पंचायती राज मंत्री वीरेन्द्र कंवर ने एसएसआरवीएम स्कूल में पुरस्कृत किए मेधावी

हिमालयन अपडेट ब्यूरो | December 29, 2019 04:51 PM
ऊना, 
 
 
कोटलाकलां स्थित श्री श्री रवि शंकर वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला, ऊना में आज वार्षिक पारितोषिक वितरण समारोह का आयोजन किया गया। समारोह में ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज, मत्स्य और पशुपालन मंत्री ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत की और शिक्षा सहित अन्य गतिविधियों में अव्वल रहे विद्यार्थियों को पुरस्कृत कर उनका उत्साहवर्धन किया। 
इस अवसर पर अपने संबोधन में ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेन्द्र कंवर ने कहा कि विद्यार्थी जीवन प्रत्येक मनुष्य के जीवन का एक महत्वपूर्ण अंग होता है। विद्यार्थी जीवन में ही करियर निर्माण की नींव रखी जाती है। जो विद्यार्थी इस समय के दौरान अपने जीवन का लक्ष्य निर्धारित और उस पर ध्यान केन्द्रित कर उसे हासिल करने के लिए कड़ी मेहनत करते हैं, वे जीवन में अवश्य सफल होते हैं। उन्होंने कहा कि आज का विद्यार्थी देश का भविष्य है। शिक्षित और सफल नागरिकों पर देश का विकास निर्भर करता है। उन्होंने विद्यार्थियों को पढ़ाई के साथ-साथ खेलकूद सहित अन्य गतिविधियों में भी बढ़-चढक़र हिस्सा लेने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि पाठ्यक्रम अतिरिक्त गतिविधियां विद्यार्थियों के चहुंमुखी विकास में मददगार होती हैं। उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों की प्रतिभा निखारने और उनकी सफलता के पीछे अध्यापकों का भी अहम योगदान रहता है। अध्यापक बच्चों को शिक्षा के साथ संस्कारों से परिपूर्ण करते हैं। 
उन्होंने कहा कि स्कूलों में बेहतर शिक्षा सुविधाएं और आधारभूत संरचनाएं उपलब्ध करवाने में प्रदेश सरकार कृत संकल्प है। उन्होंने कहा कि शिक्षा के साथ-साथ खेल गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए विभिन्न स्कूलों में खेल स्टेडियमों का निर्माण किया जा रहा है।
विद्यालय के प्रधानाचार्य मदन लाल शर्मा ने इस मौके पर वार्षिक रिपोर्ट पढ़ी जबकि स्कूली विद्यार्थियों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया। पंचायती राज मंत्री ने सांस्कृतिक कार्यक्रम के लिए 11 हजार रूपये देने की घोषणा की।
इस अवसर पर जिला भाजपाध्यक्ष मनोहर लाल शर्मा, मंडलाध्यक्ष मास्टर तरसेम लाल, जिला पंचायत अधिकारी रमन कुमार शर्मा, केन्द्रीय विश्वविद्यालय धर्मशाला के उप कुलपति डॉ. कुलदीप अग्रिहोत्री, कएसएसआरवीएम के एमडी सुमेश कुमार शर्मा तथा सतीश शर्मा, अशोक धीमान, मनमोहन शारदा, राकेश कैलाश, अर्जुन वशिष्ट व कंचन शर्मा सहित अन्य उपस्थित थे।
-000-
Have something to say? Post your comment
 
और शिक्षा खबरें
एनएसयूआई की प्रदेश इकाई ने निजी विश्वविद्यालयों द्वारा फ़र्ज़ी डिग्री बेचने के विरोध में प्रेस विज्ञप्ति जारी की गई। बोर्ड परीक्षाओं में बेहतरीन नतीजे  देने वाले स्कूलों को किया जाएगा पुरस्कृत  इंटरनेशनल कान्फ्रैंस में ममता ने हासिल किया बैस्ट टीचर अवार्ड अध्यपक व अभिभावक के सहयोग बिना बच्चों का संपूर्ण विकास असम्भव--- रविकांत प्लस पॉइंट कंप्यूटर संस्थान शीशमहल रामपुर बुशहर में वार्षिक पारितोषिक वितरण समारोह का आयोजन राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय उदयपुर का उपायुक्त ने किया औचक निरीक्षण  जवाहर नवोदय विद्यालय की कोचिंग कक्षाओं में 20 विद्यालयों के बच्चें ले रहे भाग  आनी रिवाड़ी के शिक्षाविद डॉ, मुकेश शर्मा पीएचडी के साथ स्वर्ण पदक से अलंकृत देवभूमि मॉडर्न वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय जगातखाना तहसील निरमंड (रामपुर बुशहर) में हर्षोल्लास के साथ मनाया गया वार्षिकोत्सव  सरस्वती विद्या मंदिर नित्थर में धूमधाम से मनाया गया वार्षिकोत्सव