Tuesday, March 02, 2021
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
https://youtu.be/XtZXmzukedcनगर निगम के चुनाव पार्टी चिन्ह पर करवाए जाने का कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राठौर ने किया स्वागतशराब और भांग का नशा ऐसा छाया की साधु ने तोड़े गाड़ी के शीशे,https://youtu.be/j8Ck3V67CNAफिर लोगों ने की जमकर पिटाईसुबह सुबह अवैध रूप से बिजली का प्रयोग करते विद्युत विभाग ने एक आरोपी दबोचा बड़ी खबर :एसजेवीएन अंतर्राष्ट्रीय सौर एलाईंस में शामिल हुआहमीरपुर जिला में हर्षोल्लास से मनाया गया 72वां गणतंत्र दिवस समारोह, शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने की जिला स्तरीय समारोह की अध्यक्षता, राष्ट्रध्वज फहराकर मार्चपास्ट की सलामी लीसमीक्षा : वार्ड पंच से लेकर जिला परिषद तक पटक डाले जनता ने , हेकड़ी , घमंड व बड़े नेताओं की धौंस हुईं जमींदोज पंचायत चुनाव : भीतरघात का ऑडियो वायरल, खूब हो रही चर्चाप्रथम चरण में हमीरपुर जिला में दिग्गजों ने किया मतदान, धूमल अनुराग ने समीरपुर , राजेंद्र राणा व अभिषेक राणा ने पटलांदर में किया मतदान
-
विशेष

देहरादून : स्कूली शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे ने टिहरी जिले के मुकेश डोभाल सहित नौ प्रिंसिपल और 54 शिक्षकों को किया सम्मानित

रजनीश शर्मा | January 04, 2020 09:35 PM


देहरादून से रजनीश शर्मा की विशेष रिपोर्ट:

पूर्व जन्म के अच्छे कर्मों के कारण ही अध्यापक बन देश सेवा एवं राष्ट्र निर्माण का मौक़ा मिलता है।अध्यापकों को अपना यह दायित्व नैतिकता एवं ज़िम्मेदारी से निभाना चाहिए। यह बात उत्तराखंड के स्कूली शिक्षा मंत्री अरविंद पाण्डेय ने टिहरी जिला में कही। शिक्षा मंत्री टिहरी जिला के सभी खंडों के उत्कृष्ट शिक्षकों को शनिवार को सम्मानित कर रहे थे। जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान (डाइट) में आयोजित उत्कृष्ट शिक्षक सम्मान समारोह में प्रदेश के शिक्षा मंत्री ने जिले के विभिन्न ब्लॉकों में तैनात करीब 63 शिक्षक/प्रधानाचार्यों को सम्मानित किया।

इस मौके पर शिक्षा मंत्री ने कहा कि अच्छा काम करने वालों का सरकार सम्मानित कर  रही है। उन्होंने कहा कि शिक्षक सम्मान कार्यक्रम केवल शिक्षकों को खुश करने मात्र कार्यक्रम नहीं है बल्कि उत्कृष्ट कार्य करने वाले शिक्षक इसके वास्तविक हकदार है। शिक्षा के क्षेत्र में गुणवत्ता व पारदर्शिता लाना उनका प्राथमिक उद्देश्य है एनसीईआरटी को प्रदेश में लागू करना इसी की एक कड़ी है। उन्होने कहा कि प्रदेश में दूरस्थ एवं दुर्गम विद्यालयों में शिक्षकों की कमी एवं विद्यालयों को पुर्नजिवित करने के लिए वर्चुअल क्लास जैसे आधुनिक तकनिकों पर भी कार्य किया जा रहा है।

कार्यक्रम में ये रहे शामिल
इस अवसर पर टिहरी के विधायक धनसिंह नेगी, टिहरी जिलाध्यक्ष भाजपा विनोद रतूडी, पूर्व विधायक ओम गोपाल रावत, एसडीएम फींचा राम चौहान, प्राचार्य डाईट चेतन प्रसाद नौटियाल, जिला शिक्षाधिकारी एसपी सेमवाल, सीओ जूही मनराल, जिला शिक्षाधिकारी बेसिक एसएस बिष्ट, राजकीय शिक्षक संघ के मण्डल अध्यक्ष रविन्द्र राणा एवं जिलाध्यक्ष श्याम सिंह सरियाल के अलावा खंड शिक्षाधिकारी, उपखंड शिक्षाधिकारी एवं शिक्षक उपस्थित थे।

ये हैं टिहरी जिले के उत्कृष्ट शिक्षक

मुकेश डोभाल, वीरेंद्र सिंह राणा, डा. ज्ञान प्रकाश सिल्सवाल, डा. राम गोपाल गंगवार, देवानंद देवली, अलख नारायण दुबे, श्याम सिंह सरियाल, उमा खंडूड़ी, यशपाल रावत, सतीश बलूनी, रंजन नेगी, विनोद नेगी, दिनेश रावतख् विजय श्रीवाण, डा. विजय मोहन गैरोला,अनीता राणा, मनोज सिंह असवाल, विरेंद्र प्रसाद, नरेंद्र कुमार तिवाड़ी,उषा मेहरा, जयराम कुशवाह, बलवीर सिंह चौहान, मनोज किशोर बहुगुणा, दीपक रावत, गिरीश चंद्र बगियाल, पुष्पा रावत, विजय सिंह बिष्ट, वीरेंद्र दत्त चमोली, पितांबर दत्त उनियाल, दुर्गा प्रसाद लखेड़ा, सूर्य प्रकाश सकलानी, दशरथ बैरवाण,सरतमा चौहान, ओमप्रकाश असवाल, तुलसी दास, बचन दास भारती, मंजू भटट, प्रीति कठैत, मयंक डोभाल, मीना बाला, रजनी ममगाईं, विरेंद्र सिंह बिष्ट, अजय रावत, गिरीश चंद्र उनियाल प्रमुख रूप से सम्मानित किए गये।

 
Have something to say? Post your comment
और विशेष खबरें
मडावग पंचायत भवन में एक दिवसीय चिकित्सा शिविर का आयोजन रोहडू क्षेत्र की महिलाओं ने सेब की चटनी से लहराया परचम भारयुक्त जीवन को प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना ने किया भारमुक्त विशेष : अश्वमेध यज्ञ के समय निर्मित राम-सीता की मूर्तियाँ कुल्लू में हैं स्थापित, अयोध्या से कुल्लू का 370 साल पुराना रिश्ता कोरोना काल में मार्गदर्शक बना गोगटा लोकमित्र केंद्र मडावग ! सेवा का ईनाम : दूसरी बार डीजीपी डिस्क अवॉर्ड से सम्मानित होंगे हमीरपुर के CID इंचार्ज जगपाल सिंह जसवाल , पवन 6 महीने बाद घर लौटे बेटियों को गले तक नहीं लगाया 8 हजार फीट पर क्वारंटीन हुए हर जगह है माँ : इंदरपाल कौर चंदेल क्वारंटीन से निकलते ही कोरोना की लड़ाई में डटे आदित्य ना केवल गांव के लिए बल्कि प्रदेश के लिए मिसाल बने मनीष