Friday, April 03, 2020
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
ब्रेकिंग : लॉक डाउन ( 14 अप्रैल ) तक निजी स्कूल नहीं कर सकते मासिक फ़ीस व एडमिसन फ़ीस जमा करने की डिमांड , होगी सख़्त कार्यवाही, शिक्षा विभाग ने जारी की नोटिफ़िकेशनलाकडाऊन का उल्लंघन, नशा कारोबारी सक्रियभाजपा के ब्यानवीर संकट के समय में सकारात्मक दृष्टिकोण का परिचय दें : प्रेम कौशलब्रेकिंग : 14 कश्मीरी मज़दूर बाड़ी- फ़रनोल के पास फँसे , राशन ख़त्म , ठेकेदार नहीं कर रहा हिसाब किताब , मज़दूर घर लौटने को अड़ेभोरंज में रणजीत सिंह और मुख्तियार सिंह दुकानदारों पर एफ़आईआर दर्ज, वसूल रहे थे फलों और सब्ज़ियों के अधिक मूल्यनवाँ नौशहरा में 80 जरूरतमंदों को बांटा राशनहिमाचल प्रदेश में अब सरकारी स्कूल और सरकारी दफ्तर 14 अप्रैल तक बंदउपायुक्त ने की रेड क्रॉस को दान देने की अपील 
-
विशेष

हिमाचल कवियों, लेखकों एंव साहित्यकारों के लिए खास रहा विश्व पुस्तक मेला 2020

हितेंद्र शर्मा | January 09, 2020 11:30 PM

शिमला,

विश्व पुस्तक मेला 2020 हिमाचल के कवियों, लेखकों एंव साहित्यकारों के लिए खास रहा, हिमाचल कला संस्कृति भाषा अकादमी शिमला द्वारा भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी के जीवन्त व्यक्तित्व, अटल चिंतन एंव काव्यांजलि का अभूतपूर्व कार्यक्रम  के कांफ्रेंस हाल हिमाचल भवन मंडी हाउस दिल्ली सहित सभी के लिए अविस्मरणीय एंव ज्ञानवर्धक रहा।

राज्य सभा सदस्य तरुण विजय द्वारा विश्व पुस्तक मेला 2020 में हिमाचल प्रदेश के साहित्यकारों की पुस्तकों का लोकार्पण हुआ, जिसमें उमा ठाकुर (नधैक) की पुस्तक महासुवी लोक संस्कृति, पामेला ठाकुर का उपन्यास नायिका, सुमित राज वशिष्ठ की अंग्रेजी पुस्तक लौंगवुड डेज, संदीप का कहानी संग्रह माटी तुझे पुकारेगी, डा. शशि पूनम की पुस्तक फेमिनिस्टिक ट्रॉमा इन इंडियन सोसायटी, कल्पना गांगटा का काव्य संग्रह कल्प सृजन, रूपेश्वरी शर्मा की पुस्तक नानी दादी की लोक कथाएं, सुबोध का अंग्रेजी काव्य संग्रह INCEPTION का लोकार्पण किया गया।

हिमाचल कला संस्कृति भाषा अकादमी द्वारा विश्व पुस्तक मेला दिल्ली में डा हेमराज कौशिक  द्वारा लिखित  तथा हिमाचल  अकादमी द्वारा प्रकाशित पुस्तक क्रांतिकारी साहित्यकार यशपाल का लेखक मंच पर आयोजित समारोह में लोकार्पण किया गया। यशपाल के सुपुत्र श्री आनंद पाल, शोध संस्थान नेरी हमीरपुर के निदेशक श्री चेतराम गर्ग, डा ओमप्रकाश शर्मा और हिमाचल अकादमी के सचिव डा कर्म सिंह के करकमलों द्वारा किया गया।

विश्व पुस्तक मेला के दौरान दिल्ली में हिमाचल कला संस्कृति भाषा अकादमी द्वारा लेखक मंच पर काव्यपाठ का शानदार आयोजन किया गया। आचार्य देवेन्द्र देव सहित कविता पाठ के कार्यक्रम में राज्य सभा सदस्य तरुण विजय, बालीवुड फिल्म पटकथा लेखिका अद्वैता काला और पांचजन्य के संपादक हितेश शंकर दिल्ली विश्वविद्यालय के आचार्य पीसी टंडन, अकादमी के सचिव डॉ कर्म सिंह विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित रहे।

कविता पाठ के सत्र का आगाज़ आचार्य देवेंद्र देव किया, कवि सम्मेलन में डा प्रियंका वैध, हितेन्द्र शर्मा, मुनीब तन्हा, चिदानंद, रूपेश्वरी शर्मा, दयानंद शर्मा, सुमित राज वशिष्ठ, उमा ठाकुर, कल्पना गांगटा, अर्चना शर्मा, दीपक कुल्लवी, सुशांत वर्तमान, कुमुद, डा. राकेश शर्मा, मदन हिमाचली, डा. कृष्ण मोहन पांडे आदि कवियों ने अपनी कविताओं से सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया।

Have something to say? Post your comment
 
और विशेष खबरें