Friday, February 21, 2020
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
हमीरपुर : विधायक नरेन्द्र ठाकुर ने 11 पंचायतों के 552 लाभार्थियों को बांटे इंडक्शन हीटर, लैंप व साईकिलेंशिवालयों में शिवरात्रि की धूम , सुबह से मंदिरों में उमड़ा शिव भक्तों का सैलाबसज गए शिवालय, महाशिवरात्रि कल ,शिव मंदिर बारीं में कल पूजा , 22 को भण्डाराहमीरपुर) गंभीर आरोप : देई का नौण पंचायत में विकास कार्य के लिए धन स्वीकृत करवाने में अनियमितता, पंचायत प्रधान पर निलंबन की तलवार लटकीबागवान के बेटे राजेश शर्मा ने संभाला डिप्टी कंट्रोलर वित्त का पदभार मुकेरियाँ का अरुण पटियाल 420 में अंदर, रैल के राजेश की शिकायत पर पुलिस की कार्यवाहीविधायक नरेंद्र ठाकुर ने कहा:”कांग्रेस में आई बयानवीरों की बाढ़, मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के ख़िलाफ़ की जा रही छींटाकसी निंदनीय”विधायक नरेंद्र ठाकुर ने कहा :” कांग्रेस में आई बयानवीरों की बाढ़, मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के ख़िलाफ़ की जा रही छींटाकसी निंदनीय”
-
राज्य

राज्य दिव्यांगता सलाहकार बोर्ड की पहली बैठक आयोजित

हिमालयन अपडेट ब्यूरो | January 25, 2020 05:30 PM
शिमला,
 
 
 
राज्य दिव्यांगता सलाहकार बोर्ड की गत दिवस आयोजित पहली बैठक की अध्यक्षता करते हुए सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री डाॅ. राजीव सैजल ने कहा कि प्रदेश सरकार दिव्यांगजनों के सशक्तिकरण के लिए हर संभव प्रयास कर रही है।
 
डाॅ. राजीव सैजल ने बताया कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर दिव्यांगजनों  की समस्याओं के प्रति बहुत संवेदनशील हैं। सरकार ने दिव्यांगजन अधिकार कानून 2016 को लागू करने के लिए विशेष प्रयास किए हैं। यह कानून देशभर में अप्रैल 2017 से लागू किया गया था। इसके अंतर्गत  सरकार ने  जून 2019 में  नियम भी  अधिसूचित कर दिए  थे। उन्होंने बताया की दिव्यांगजनों को उच्च शिक्षा में पांच प्रतिशत आरक्षण दिया जा रहा है। उन्हें नौकरियों में भी कानून के आधार पर चार प्रतिशत आरक्षण प्रदान किया जा रहा है। 
 
उन्होंने कहा कि यह प्रसन्नता का विषय है कि दृष्टिबाधित एवं अन्य दिव्यांग विद्यार्थी अनेक महाविद्यालयों और हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय शिमला में उच्च शिक्षा प्राप्त कर रहे हैं।  उनमें से कई विद्यार्थियों ने यूजीसी की नेट एवं  जेआरएफ और राज्य की सेट की कठिन परीक्षा भी पास की है। ये उच्च शिक्षित विद्यार्थियों का विभिन्न सरकारी नौकरियों के लिए भी चुने जा रहा हैं।
 
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री ने कहा कि सरकार पात्र दिव्यांग बेरोजगारों को प्रतिमाह 1500 रुपए बेरोजगारी भत्ता भी दे रही है।  उन्होंने कहा कि सरकार दिव्यांगजनों के विशिष्ट दिव्यांगता पहचान कार्ड (यूडीआईडी) बनाने पर विशेष बल दे रही है। अभी तक 16030 कार्ड बनाए जा चुके हैं। ये देश भर में मान्य होंगे।
 
डाॅ. राजीव सैजल ने कहा कि दिव्यांगजनों की प्रतिभा को पहचान कर उन्हें हर क्षेत्र में आगे बढ़ने के अवसर प्रदान किए जाने चाहिए। यह उनका संवैधानिक अधिकार है। समाज को दिव्यांगजनों के प्रति हमेशा सकारात्मक दृष्टिकोण रखना चाहिए। 
 
बैठक में विधायक किशोरीलाल, बोर्ड के विशेषज्ञ सदस्य प्रो. अजय श्रीवास्तव, संजना गोयल एवं डाॅ. अनुपम ठाकुर सहित गैर सरकारी सदस्यों ने भी अपने विचार प्रस्तुत किए।
 
बैठक का संचालन विभाग के निदेशक हंसराज ने किया।
Have something to say? Post your comment
 
और राज्य खबरें
हिमाचल ड्राप रोबॉल टीम का चयन 23व 24 फरवरी को फर्जी डिग्री घोटाले के दोषियों को शीघ्र सलाखों के पीछे डाला जाए: अभाविप पूर्व भारतीय क्रिकेट कप्तान मिताली राज साइक्लोथॉन को दिखाएंगी हरी झंडी एचडीएफसी बैंक 25 लाख पेड़ लगाएगा, 2500 क्लासरूम्स डिजिटाईज़ करेगा शिवालयों में शिवरात्रि की धूम , सुबह से मंदिरों में उमड़ा शिव भक्तों का सैलाब मुख्यमंत्री ने प्रदेश के वार्षिक मानक आवंटन में वृद्धि का मामला नाबार्ड से उठाया मुख्यमंत्री करेंगे अंतर्राष्ट्रीय शिवरात्रि महोत्सव-2020 का शुभारंभ  भारत गौरव पुरस्कार" से सम्मानित डॉ० मुकेश शर्मा का डॉ, सर्वपल्ली बीएड एमएड कॉलेज संस्थान ने किया जोरदार बेलक्म                अवैध खनन पर ड्रोन व नाइट विजन दूरबीन से निगरानी की तैयारी निर्णय लेते समय सोशल मीडिया पर निर्भर न रहें युवाः सुरेश भारद्वाज