Wednesday, September 23, 2020
Follow us on
-
राज्य

चौपाल विधानसभा क्षेत्र में बिजली थी गुल, 30 घण्टे बाद किया गया बहाल

बालम गोगटा, जिला प्रमुख ब्यूरो, हिमालयन अपडेट | January 25, 2020 07:41 PM

चौपाल,

चौपाल विधानसभा क्षेत्र में पिछले 30 घण्टे से  बिजली गुल थी शनिवार को साय काल 4:30( पीएम) बंद बिजली को बहाल कर दिया गया है लोगो में बिजली आने से तो खुश है लेकिन विद्युत विभाग और नेताओं से नाराज है, जिस का खमियाजा आने वाले पंचायत चुनाव में सपन्सर्ड उमीदवारों के रूप में सत्ताधारी सरकार को झेलना पड़ेगा

     आम लोगो को बिजली न होने के कारण बहुत दिक्कत झेलनी पड़ी ठीक मौसम में बिजली बंद होने से सभी हैरान थे लेकिन आम जनता बिजली को ले कर सरकार और विभाग को घेरने के पूरे मूड़ में है  हालांकि विभाग ने ऑफिशियल तौर पर चौपाल की बिजली को लेकर कोई प्रतिक्रिया नही दी लेकिन ये जनता है सब जानती है।

    लोगों ने सोशल मीडिया पर भी बिजली की बत्ती गुल की  चुटकी ले कहा है  नेताओ को  सिर्फ वोट के समय सब की याद आती है आगे पीछे दिखते नही लोगो की समस्याओं से इनको क्या फर्क पड़ता है।

     लोगो ने गुस्से में आ कर चौपाल से तीसरे विकल्प के  सुर आलापने शुरू कर दिए है। लोगो का कहना है चुने हुए प्रतिनिधि  समस्याओं को नही समझते है जिस में कुछ सरकार के मुंह लगे प्रतिनिधि ब्लाक ,पीडब्ल्यूडी, आईपीएच्  और विद्युत विभाग के ठेकेदार है अधिकारी इनकी सुनते नही है, और विधायक की पीठ पर चढ़ कर फसल काट रहे है ।

    क्षेत्र के विधायक की विद्युत विभाग पर पकड़ ढीली होने से चौपाल में विद्युत की समस्या हर तीसरे दिन खड़ी हो जाती है।

     लोगो मे अभी भी बिजली की ब्यवस्था को ले कर सरकार और विभाग के प्रति भारी रोष है

Have something to say? Post your comment
और राज्य खबरें
हरबंस सिंह ब्रसकोन हिमाचल प्रदेश प्रशासनिक सेवा आफिसर एसोसिएशन के अध्यक्ष बने त्रासदियों का दौर " - डॉक्टर अमिताभ शुक्ल के शीघ्र प्रकाश्य काव्य - संग्रह की भूमिका से :- मनोहर पटेरिया " नए कृषि विधेयकों में न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीद का प्रावधानः वीरेंद्र कंवर  नीम ट्रेनी के लिए 21 सितम्बर को चंबा में होगा केंपस इंटरव्यू  राज्य सरकार ने बार खोलने की अनुमति प्रदान की सिर्फ...... कान हरिहरपुरी की आत्मप्रेमाभिव्यक्ति* धार चांदना गाँव से अतर सिंह राणा भारत और चीन की सीमा पर बारूदी सुरंग के फटने से हुए शहीद ज्ञान विज्ञान समिति ने चलाया जागरूकता कार्यक्रम भारत-चीन सीमा पर हिमाचल के 26 वर्षीय फौजी जवान ने पाई शहादत