Wednesday, April 08, 2020
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
हिमाचल में कोरोना पॉजिटिव के 9 नए मामलेहिमाचल प्रदेश के लिए बुरी खबर, कोरोना के 4 नए मामलेब्रेकिंग : पुलिस की बड़ी कार्यवाही , ठेका सील नेरवा के जलारा से 4 जमाती गिरफ्तारहिमाचल में एक दिन में कोरोना वायरस के सात नए मामले, 10 पहुंची मरीजों की संख्या(ब्रेकिंग ) हमीरपुर : दोस्तों संग खड्ड में नहाने गया प्रवासी युवक डूबा , मौत , मौक़े पर पहुँची पुलिसमोदी जी , केवल थाली बजाने और मोमबत्ती जलाने से महामारी का सामना नहीं हो सकता : प्रेम कौशल ब्रेकिंग : लॉक डाउन ( 14 अप्रैल ) तक निजी स्कूल नहीं कर सकते मासिक फ़ीस व एडमिसन फ़ीस जमा करने की डिमांड , होगी सख़्त कार्यवाही, शिक्षा विभाग ने जारी की नोटिफ़िकेशन
-
धर्म संस्कृति

वीरेंद्र कंवर ने परिवार संग बनौड़े महादेव शिव मंदिर में शीश नवाया

हिमालयन अपडेट ब्यूरो | February 21, 2020 05:11 PM
 
ऊना,
 
 
 
महाशिवरात्रि के पावन पर्व पर ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज, मत्स्य व पशु पालन मंत्री वीरेंद्र कंवर ने अपनी धर्म पत्नी मीना कंवर के साथ आज बनौड़े महादेव मंदिर में जाकर पूजा अर्चना की और मात्था टेका। इस अवसर पर ग्रामीण विकास मंत्री वीरेंद्र कंवर ने कहा कि हिमाचल प्रदेश को देव भूमि के नाम से जाना जाता है क्योंकि हिमाचल प्रदेश में देवी देवताओं का निवास है। कंवर ने कहा कि मेले व त्यौहार के आयोजन से हमारे समाज के सभी वर्गों को भाईचारे का संदेश मिलता है। 
उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने धार्मिक स्थलों के दर्शन करवाने के लिए देवभूमि दर्शन योजना चलाई है जिसके अंतर्गगत 70 वर्ष या इससे अधिक आयु वर्ग के वरिष्ठ नागरिकों को नि:शुल्क प्रदेश के प्रसिद्व मंदिरों के दर्शन करवाएं जाते हैं। उन्होंने कहा कि इस योजना को लागू करने के लिए समस्त जिलों में उपायुक्तों की अध्यक्षता में समितियां गठित की गई हैं जो इस योजना के कार्यान्वयन के लिए कार्य करती हैं। 
कंवर ने कहा कि बनौड़े महादेव मंदिर में पर्यटन की आपार संभावनाओं को देखते हुए इसका सौंदर्यीकरण किया जा रहा है ताकि अधिक से अधिक पर्यटक यहां आएं। आने वाले समय में बनौड़े महादेव शिवरात्रि मेले को जिला स्तरीय स्तर पर मनाया जाएगा।   
ग्रामीण विकास मंत्री ने कहा कि प्रदेश की प्राचीन सांस्कृतिक धरोहर के अनछुए पहलुओं का संरक्षण व संवर्धन करने, पर्यटकों को इससे परिचित करवाने तथा स्थानीय युवकों को सांस्कृतिक मार्गदर्शक के रूप में प्रशिक्षण दिलवाकर स्वरोजगार प्रदान करने के उद्देश्य से प्रदेश सरकार ने 'आज पुरानी राहों से' योजना आरंभ की है। इस अवसर पर ग्रामीण विकास मंत्री वीरेंद्र कंवर लोगों से मिले तथा उनकी समस्याओं को भी सुना।   
Have something to say? Post your comment