Saturday, July 04, 2020
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
ब्रेकिंग: कलयुगी दादा ने अपनी 9 साल की पोती को बनाया हवस का शिकारशहादत : तिरंगे में लिपटे अमर शहीद अंकुश के पार्थिव शरीर को देख बिलख उठे हमीरपुरवासी, आसमान भी रोया, राजकीय सम्मान के साथ दी गई अंतिम विदाई , सीएम कल मिलेंगे परिजनों से तिरंगे में लिपटे अमर शहीद अंकुश का पार्थिव शरीर ले आज 10 बजे लेह से चण्डीगढ़ के लिए उड़ान भरेगा विशेष विमान, क़ड़ोहता के बरसेला नाला में होगी राष्ट्रीय सम्मान के साथ अंतिम विदाईअंकुश की शहादत से हमीरपुर गमगीन, हमीरपुर जिला के कड़ोहता ( भोरंज उपमंडल)का वीर सैनिक अंकुश शहीद हुआ , कड़ोहता में बेसब्री से हो रहा शहीद के पार्थिव देह का इंतज़ार ब्रेकिंग ) हमीरपुर : मानसिक परेशानी से घर से ग़ायब युवक की सातवें दिन जंगलबेरी में मिली डेड बॉडी,ब्रेकिंग : जिला सोलन के अर्की में कोरोना का पहला मामला आने से हड़कंप ब्रेकिंग: कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति गुरुग्राम से सीधे पहुंचा अस्पताल, मेडिकल कॉलेज नेरचौक में मची अफरातफरी अनलॉक एक का मतलब है और अधिक सावधानी, एतिहात
-
अंदर की बात

ब्रेकिंग : शिक्षा विभाग उठाएगा एसिड पीड़ित छात्राओं के इलाज का ख़र्च , जाँच के बाद निष्कासित होगा आरोपित छात्र , पीड़ित परिवार को नहीं मिली एफ़आईआर की कॉपी

रजनीश शर्मा ( हमीरपुर) 9882751006 | February 24, 2020 11:45 AM

 

 

हमीरपुर / रजनीश शर्मा

तीन स्कूली छात्राओं पर हुए एसिड हमले के बाद शिक्षा विभाग भी चौकन्ना हो गया है। हमीरपुर जिला के टौणी देवी क्षेत्र के एक सरकारी स्कूल में शनिवार को हुए एसिड हमले की जाँच के लिए कार्यकारी शिक्षा उपनिदेशक अजय पटियाल सोमवार को जाँच के लिए घटनास्थल पर पहुँच गये। फ़ोन पर हुई बात पर अजय पटियाल ने बताया कि बच्चियों के इलाज का सारा ख़र्च शिक्षा विभाग वहन करेगा। तीन में से दो बच्चियों पर एसिड का आंशिक असर हुआ है जबकि तीसरी बच्ची के चेहरे पर तेज़ाब के छींटों से पड़े निशानों में जलन अभी ख़त्म नहीं हुई है।

वहीं इस मामले को लेकर सुजानपुर थाने में रविवार को एफ़आईआर दर्ज होने के बावजूद घटना के 40 घंटे बीत जाने पर भी प्रभावित परिवारों को मिलने कोई प्रशासनिक अधिकारी नहीं पहुँचा है और ना ही एसिड हमले की पीड़ितों को नियमों के तहत तुरंत राहत राशि मिल पाई है।

एक पीड़ित बच्ची के पिता एवं माँ ने कहा है कि उन्हें अभी तक एफ़आईआर की प्रतिलिपि भी नहीं मिल पाई है। बच्ची की माँ ने कहा कि उन्हें इस बारे कोई क़ानूनी ज्ञान नहीं है, वह बेटी के इलाज कि लिए चिंतित हैं।

इस बारे में शिक्षा उपनिदेशक अजय पटियाल ने घटनास्थल से बताया कि वह संपूर्ण रिपोर्ट तैयार कर शिक्षा निदेशक शिमला को भेज रहे हैं। रिपोर्ट में आरोपी छात्र के पूर्व के व्यवहार , शिकायतों , स्कूल द्वारा की गई कार्यवाही इत्यादि को लेकर बयान दर्ज किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि पूरी जाँच के बाद ही आरोपी छात्र को स्कूल से निष्कासित करने बारे अंतिम निर्णय लिया जाएगा।जाँच के दायरे में स्कूल स्टाफ़ की भूमिका एवं साईँस टीचर की ज़िम्मेदारी भी शामिल है।

 

 

Have something to say? Post your comment
और अंदर की बात खबरें