Wednesday, April 08, 2020
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
हिमाचल में कोरोना पॉजिटिव के 9 नए मामलेहिमाचल प्रदेश के लिए बुरी खबर, कोरोना के 4 नए मामलेब्रेकिंग : पुलिस की बड़ी कार्यवाही , ठेका सील नेरवा के जलारा से 4 जमाती गिरफ्तारहिमाचल में एक दिन में कोरोना वायरस के सात नए मामले, 10 पहुंची मरीजों की संख्या(ब्रेकिंग ) हमीरपुर : दोस्तों संग खड्ड में नहाने गया प्रवासी युवक डूबा , मौत , मौक़े पर पहुँची पुलिसमोदी जी , केवल थाली बजाने और मोमबत्ती जलाने से महामारी का सामना नहीं हो सकता : प्रेम कौशल ब्रेकिंग : लॉक डाउन ( 14 अप्रैल ) तक निजी स्कूल नहीं कर सकते मासिक फ़ीस व एडमिसन फ़ीस जमा करने की डिमांड , होगी सख़्त कार्यवाही, शिक्षा विभाग ने जारी की नोटिफ़िकेशन
-
हिमाचल

कर्मचारी राज्य बीमा निगम ने मैहतपुर में लगाया जागरूता शिविर

हिमालयन अपडेट ब्यूरो | February 28, 2020 05:17 PM
ऊना,
 
 
कर्मचारी राज्य बीमा निगम के 68 वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य पर आज  मैहतपुर में एक जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें क्षेत्रीय कार्यालय बद्दी के सहायक निदेशक हरपाल सैनी ने बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की। इस दौरान निशुल्क चिकित्सा परीक्षण भी किए गए।
शिविर में सहायक निदेशक हरपाल सैनी ने कहा कि कर्मचारी राज्य बीमा निगम  भारतीय कर्मचारियों के लिए बीमा धनराशि का प्रबंधन करता है। कर्मचारी राज्य बीमा, भारतीय कर्मचारियों के लिए चलाई गई स्व-वित्तपोषित सामाजिक सुरक्षा एवं स्वास्थ्य बीमा योजना है। सभी स्थाई कर्मचारी जो 21,000 रूपए प्रतिमाह से कम वेतन पाते हैं, इसके लिए पात्र हैं। इसमें कर्मचारी का योगदान 0.75 प्रतिशत तथा रोजगार प्रदाता का योगदान 3.25 प्रतिशत होता है। उन्होंने कहा कि कर्मचारी राज्य बीमा निगम एक बहुआयामी सामाजिक सुरक्षा व्यवस्था है, जो कर्मचारियों एवं उनके आश्रितों को सामाजिक-आर्थिक सुरक्षा प्रदान करता है। बीमा योग्य रोजगार के पहले दिन से यह स्वीकार्य है कि बीमित व्यक्ति बीमारी के कारण शारीरिक कष्ट, अस्थाई या स्थाई अक्षमता आदि की स्थिति में स्वयं तथा अपने आश्रितों के लिए पूर्ण चिकित्सा देखभाल के अतिरिक्त नगद हितलाभ पाने के भी हकदार होते हैं। बीमारी के कारण उपार्जन क्षमता में हानि के परिणाम स्वरूप, बीमित महिला के प्रसव के संबंध में, ऐसे बीमित व्यक्ति के आश्रितजन, जिसकी औद्योगिक दुर्घटना में अथवा रोजग़ार जोखिम या व्यावसायिक संकट के कारण मृत्यु हो गई हो, वह लाभ पाने के हकदार होते हैं।
इस अवपर ईएसईसी के पीआरओ धर्मपाल सहित सीएम कपूर, संदीप सहगल तथा अन्य उपस्थित थे।
Have something to say? Post your comment
 
और हिमाचल खबरें