Friday, July 03, 2020
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
ब्रेकिंग: कलयुगी दादा ने अपनी 9 साल की पोती को बनाया हवस का शिकारशहादत : तिरंगे में लिपटे अमर शहीद अंकुश के पार्थिव शरीर को देख बिलख उठे हमीरपुरवासी, आसमान भी रोया, राजकीय सम्मान के साथ दी गई अंतिम विदाई , सीएम कल मिलेंगे परिजनों से तिरंगे में लिपटे अमर शहीद अंकुश का पार्थिव शरीर ले आज 10 बजे लेह से चण्डीगढ़ के लिए उड़ान भरेगा विशेष विमान, क़ड़ोहता के बरसेला नाला में होगी राष्ट्रीय सम्मान के साथ अंतिम विदाईअंकुश की शहादत से हमीरपुर गमगीन, हमीरपुर जिला के कड़ोहता ( भोरंज उपमंडल)का वीर सैनिक अंकुश शहीद हुआ , कड़ोहता में बेसब्री से हो रहा शहीद के पार्थिव देह का इंतज़ार ब्रेकिंग ) हमीरपुर : मानसिक परेशानी से घर से ग़ायब युवक की सातवें दिन जंगलबेरी में मिली डेड बॉडी,ब्रेकिंग : जिला सोलन के अर्की में कोरोना का पहला मामला आने से हड़कंप ब्रेकिंग: कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति गुरुग्राम से सीधे पहुंचा अस्पताल, मेडिकल कॉलेज नेरचौक में मची अफरातफरी अनलॉक एक का मतलब है और अधिक सावधानी, एतिहात
-
अंदर की बात

अब अवाहदेवी, टौणी देवी, ज़ाहू व दियोटसिद्ध पुलिस चौकियों से भी दर्ज हो सकेगी एफ़आईआर

रजनीश शर्मा ( हमीरपुर ) 9882751006 | March 02, 2020 03:20 PM

 

हमीरपुर / रजनीश शर्मा

हमीरपुर जिला की चार पुलिस चौकियों से भी थानों की तरह एफ़आईआर दर्ज करने की सुविधा शुरू कर दी गयी है। अवाहदेवी, टौणी देवी, ज़ाहू व दियोटसिद्ध पुलिस चौकियों को अब पुलिस रिपोर्टिंग चौकियों के रूप में स्थापित करने से जनता को अपनी शिकायत दर्ज करवाने में सुविधा होगी। अवाहादेवी व ज़ाहू पुलिस चौकी थाना भोरंज के तहत तथा टौणी देवी पुलिस चौकी हमीरपुर थाना के तहत आती है। महत्वपूर्ण पुलिस चौकी दियोटसिद्ध बड़सर थाना के तहत है।इन चौकियों से लोगों को एफ़आईआर दर्ज करवाने लिए पहले 15 से पच्चीस किलोमीटर तक का सफ़र तय कर सम्बन्धित थाना में जाना पड़ता था।

अब टौणी देवी पुलिस चौकी के इंचार्ज के मोबाइल नंबर 7876916816, दियोटसिद्ध 7876916817, अवाहा देवी 7876916822 और ज़ाहू पुलिस चौकी इंचार्ज के फ़ोन नंबर 7876916812 पर भी संपर्क कर घटना की सूचना दे एफ़आईआर दर्ज करवाई जा सकती है।

इस बारे एसपी हमीरपुर अर्जित सेन ठाकुर ने जानकारी दी है कि हिमाचल प्रदेश पुलिस द्वारा जनहित में एक और कदम आगे बढाते हुए इस जिले की चार पुलिस चौकियों को पुलिस रिपोर्टिंग चौकीयों के रुप में स्थापित करके इन चौकियों में एफ़आईआर दर्ज करने की सुविधा को उपलब्ध कर दी गई है।उन्होंने कहा कि शिकायतकर्ता के शिकायत पत्र पर एफ़आईआर दर्ज करके उसकी प्रतिलिपि व अन्य विवरण रिपोर्टिंग पुलिस चौकी में ही सुगमता से उपलब्ध होंगे ।

Have something to say? Post your comment
और अंदर की बात खबरें