Saturday, July 04, 2020
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
ब्रेकिंग: कलयुगी दादा ने अपनी 9 साल की पोती को बनाया हवस का शिकारशहादत : तिरंगे में लिपटे अमर शहीद अंकुश के पार्थिव शरीर को देख बिलख उठे हमीरपुरवासी, आसमान भी रोया, राजकीय सम्मान के साथ दी गई अंतिम विदाई , सीएम कल मिलेंगे परिजनों से तिरंगे में लिपटे अमर शहीद अंकुश का पार्थिव शरीर ले आज 10 बजे लेह से चण्डीगढ़ के लिए उड़ान भरेगा विशेष विमान, क़ड़ोहता के बरसेला नाला में होगी राष्ट्रीय सम्मान के साथ अंतिम विदाईअंकुश की शहादत से हमीरपुर गमगीन, हमीरपुर जिला के कड़ोहता ( भोरंज उपमंडल)का वीर सैनिक अंकुश शहीद हुआ , कड़ोहता में बेसब्री से हो रहा शहीद के पार्थिव देह का इंतज़ार ब्रेकिंग ) हमीरपुर : मानसिक परेशानी से घर से ग़ायब युवक की सातवें दिन जंगलबेरी में मिली डेड बॉडी,ब्रेकिंग : जिला सोलन के अर्की में कोरोना का पहला मामला आने से हड़कंप ब्रेकिंग: कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति गुरुग्राम से सीधे पहुंचा अस्पताल, मेडिकल कॉलेज नेरचौक में मची अफरातफरी अनलॉक एक का मतलब है और अधिक सावधानी, एतिहात
-
विशेष

ब्रेकिंग : इस बार होली नहीं मनाएंगे विधायक राजेंद्र राणा , जानिये क्यों और क्या है दिल में बात ?

रजनीश शर्मा ( सुजानपुर/ हमीरपुर ) 9882751006 | March 06, 2020 06:26 PM

सुजानपुर / हमीरपुर  (  रजनीश शर्मा ) 

जब अपनों के जीवन बेरंग हुए हैं तो कैसे रंगों के पर्व पर खुशियां मना सकते हैं। दिल्ली दंगों और विश्व में कोरोना वायरस से हुई मौतों से दुखी होकर सुजानपुर से कांग्रेस विधायक राजेंद्र राणा ने इस बार होली न मनाने का निर्णय लिया है।

राजेंद्र राणा ने कहा है कि राजधानी दिल्ली में दंगों से कई परिवारों ने अपनों को खोया है और कई लोग बेघर हुए हैं।दिल्ली में हिमाचल से भी लाखों लोग रहते हैं जोकि दिल्ली की आग की तपिश से प्रभावित हुए हैं।इससे वह अंदरखाते दुखी व विचलित हुए हैं।जब अपनों के जीवन बेरंग हुए हैं तो वे कैसे रंगों के पर्व पर खुशियां मना सकते हैं।उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस ने तो पूरी दुनिया को हिला दिया है।

ऐसी परिस्थिति में एक जनप्रतिनिधि होने व इंसानियत के नाते त्योहार न मनाने का फैसला लिया है।उन्होंने कहा कि प्रभावित व पीड़ित परिवारों को मिले दर्द को बांट नहीं सकते लेकिन दु:ख की इस घड़ी में पारिवारिक सदस्य की तरह खड़े होकर साथ तो निभा सकते हैं, क्योंकि ये घटनाएं केवल पीड़ित परिवारों की नहीं है, बल्कि हिमाचल, पूरे देश व दुनिया को झकझोरने वाली सांझी हैं।

ऐतिहासिक सुजानपुर होली मेले से भी रहेंगे दूर

बता दें कि राजेंद्र राणा का संबंध सुजानपुर से है और सुजानपुर में राष्ट्र स्तरीय होली मेला को उत्सव की तरह मनाया जाता है।इस पर्व पर सुजानपुर की हर बेटी को मायके बुलाया जाता है ताकि वह होली उत्सव में घर-परिवार के साथ इस पर्व का आनंद ले सके लेकिन उसी सुजानपुर के विधायक राजेंद्र राणा ने उपरोक्त घटनाओं से द्रवित होकर होली का पर्व न मनाने का फैसला लेकर एक जिम्मेवार नागरिक व जन प्रतिनिधि होने का सबको एहसास भी करवाया है।

Have something to say? Post your comment
और विशेष खबरें
कोरोना काल में मार्गदर्शक बना गोगटा लोकमित्र केंद्र मडावग ! सेवा का ईनाम : दूसरी बार डीजीपी डिस्क अवॉर्ड से सम्मानित होंगे हमीरपुर के CID इंचार्ज जगपाल सिंह जसवाल , पवन 6 महीने बाद घर लौटे बेटियों को गले तक नहीं लगाया 8 हजार फीट पर क्वारंटीन हुए हर जगह है माँ : इंदरपाल कौर चंदेल क्वारंटीन से निकलते ही कोरोना की लड़ाई में डटे आदित्य ना केवल गांव के लिए बल्कि प्रदेश के लिए मिसाल बने मनीष धनी राम को नर्सरी ने बनाया धनवान 1 मई मजदूर दिवस विशेष परिवार की जिम्मेबारियों से समय निकालकर मास्क बनाने में जुटीं भाजपा मंडल आनी की सचिव रीना भारद्वाज  नवाँ नौशहरा में 80 जरूरतमंदों को बांटा राशन