Thursday, May 28, 2020
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
अपडेट/ : हमीरपुर जिला में कोरोना संक्रमित के पांच नए मामले, अबतक ज़िले में कुल 20 मामले , 15 एक्टिव , 4 ठीक हुए , एक मौत ब्रेकिंग : हमीरपुर ज़िला में एक साथ कोरोना के पाँच मामले आए सामने, संक्रमितों में एक महिला भी शामिल ,ब्रेकिंग : हमीरपुर के नादौन उपमंडल की ग्वाल पत्थर पंचायत में दो व्यक्तियों के कोविड-19 संक्रमित होने की पुष्टिब्रेकिंग: मड़ावग में नेपाली मूल के युवक ने फंदा लगाकर दी जान सेवा का ईनाम : दूसरी बार डीजीपी डिस्क अवॉर्ड से सम्मानित होंगे हमीरपुर के CID इंचार्ज जगपाल सिंह जसवाल ,ख़ास ख़बर : ग़ाज़ियाबाद का एक ऐसा स्कूल जिसने लॉकडाउन में तीन माह की फ़ीस माफ़ की और टीचरों के खाते में डाली सेलरी, हिमाचल के लालची स्कूलों के लिए करारा सबक़चौपाल, नेरवा में कल बंद रहेगी बिजलीहिमाचल प्रदेश तकनीकी विश्वविद्यालय हमीरपुर में ऑनलाईन फेसबुक लाइव के माध्यम से अध्ययन केंद्र का विधिवत उद्घाटन
-
राज्य

1250 गरीब जरूरतमंद लोगों को बांटी गई राशन की मुफ्त किटें 

हिमालयन अपडेट ब्यूरो | April 02, 2020 06:08 PM

'घरे चम्बयाल खरे चम्बयाल' #टैग लाइन के साथ लोग शेयर कर सकते हैं अपने वीडिओ व फोटो   

 
चंबा,
 
 
चंबा जिला में लागू लॉकडाऊन  की अवधि के दौरान आम जनमानस को और राहत देने को लेकर जिला प्रशासन द्वारा उठाए गए कदम के तहत अब तक 1250 गरीब और जरूरतमंद व्यक्तियों को राशन की मुफ्त किटें उपलब्ध करवाई जा चुकी हैं। एक किट में 1 सप्ताह की खाद्य सामग्री रहेगी।  उपायुक्त विवेक भाटिया ने आज यहां बताया कि चंबा जिला में बाहर से आने वालों के लिए स्थापित किए गए बफर क्वॉरेंटाइन केंद्रों में सभी आवश्यक मूलभूत सुविधाएं जुटाने को लेकर जिला प्रशासन हर संभव प्रयास कर रहा है। उन्होंने कहा कि इस संबंध में जिले के सभी एसडीएम को भी निर्देश जारी किए जा चुके हैं। अब तक इन क्वॉरेंटाइन केंद्रों में 320 व्यक्ति रह रहे हैं। इनमें सोशल डिस्टेंसिंग और उनके खानेपीने का पूरा ध्यान रखा जा रहा है। चिकित्सकों को भी यह निर्देश दिए गए हैं कि वे इन केंद्रों का नियमित तौर पर दौरा करना सुनिश्चित बनाएंगे।  
उपायुक्त ने ये भी बताया कि परिवार और बच्चों वालों के लिए विशेष तौर से अलग क्वॉरेंटाइन की भी व्यवस्था की जा रही है ताकि ऐसे परिवारों को असुविधा का सामना ना करना पड़े। उपायुक्त ने बताया कि गरीबों और जरूरतमंदों को मदद के लिए एनएचपीसी ने भी अपना हाथ बढ़ाया है ताकि जिला प्रशासन द्वारा ऐसे लोगों की हर तरह की मदद की जा सके।
उपायुक्त ने बताया कि चंबा में होम डिलीवरी की व्यवस्था भी शुरू की गई है ताकि लोगों की बाजार में कम आमद रहे और उन्हें घर पर ही जरूरी वस्तुएं मिल सकें। इसके और बेहतर संचालन के लिए मोबाइल ऐप तैयार करने पर भी विचार चल रहा है। 
उपायुक्त ने साफ तौर से कहा कि लॉक डाऊनअवधि के दौरान सोशल मीडिया पर भ्रामक और तथ्यों से परे जानकारी पोस्ट करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा कि यदि उनके आसपास कोई ऐसा व्यक्ति हो जो हाल ही में बाहर से आया हो उसकी जानकारी तुरंत साझा करें ताकि उनकी पहचान करके उन्हें क्वॉरेंटाइन किया जा सके। 
उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि जिले में स्क्रीनिंग के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा 610 टीमों का गठन कर लिया गया है। स्क्रीनिंग का काम 3 अप्रैल से शुरू हो रहा है। इनमें पुखरी स्वास्थ्य खंड में 107, समोट में 150, भरमौर में 42, तीसा में 77,चूड़ी में 109, पांगी में 33 और किहार में 92 टीमें शामिल रहेंगी। हरेक टीम में 2 सदस्य होंगे। टीम व्यक्ति की ट्रेवल हिस्ट्री का ब्यौरा भी लेगी।   
उपायुक्त ने कहा कि इस अवधि में लोग अपने घरों में परिवार के साथ पूरा वक्त गुजार रह रहे हैं। ऐसे में वे 'घरे चम्बयाल खरे चम्बयाल' #टैगलाइन के साथ अपने वीडियो या फोटो शेयर कर सकते हैं।  
उपायुक्त ने यह भी कहा कि चंबा जिला में कर्फ्यू के दौरान लोगों द्वारा पूरा संयम बरता जा रहा है। जिससे स्थिति बिल्कुल सामान्य है। प्रशासन की भी यह पहली प्राथमिकता है कि लोगों को सभी आवश्यक खाद्य वस्तुओं और सेवाओं को लेकर किसी भी किस्म की दिक्कत का सामना ना करना पड़े। उन्होंने कहा कि अब हम एक क्रिटिकल फेज से गुजर रहे हैं। ऐसे में लोगों को कोरोना वायरस से बचाव की सभी जरूरी एहतियातों को हर हाल में सुनिश्चित करना चाहिए। 
Have something to say? Post your comment
 
और राज्य खबरें