Wednesday, June 03, 2020
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
पोल खोल : स्वास्थ्य विभाग के बाद अब जल शक्ति विभाग में टैंडर घोटाला, मचा हड़कंपकोरोना काल में मार्गदर्शक बना गोगटा लोकमित्र केंद्र मडावग !अपडेट/ : हमीरपुर जिला में कोरोना संक्रमित के पांच नए मामले, अबतक ज़िले में कुल 20 मामले , 15 एक्टिव , 4 ठीक हुए , एक मौत ब्रेकिंग : हमीरपुर ज़िला में एक साथ कोरोना के पाँच मामले आए सामने, संक्रमितों में एक महिला भी शामिल ,ब्रेकिंग : हमीरपुर के नादौन उपमंडल की ग्वाल पत्थर पंचायत में दो व्यक्तियों के कोविड-19 संक्रमित होने की पुष्टिब्रेकिंग: मड़ावग में नेपाली मूल के युवक ने फंदा लगाकर दी जान सेवा का ईनाम : दूसरी बार डीजीपी डिस्क अवॉर्ड से सम्मानित होंगे हमीरपुर के CID इंचार्ज जगपाल सिंह जसवाल ,ख़ास ख़बर : ग़ाज़ियाबाद का एक ऐसा स्कूल जिसने लॉकडाउन में तीन माह की फ़ीस माफ़ की और टीचरों के खाते में डाली सेलरी, हिमाचल के लालची स्कूलों के लिए करारा सबक़
-
हिमाचल

मंडी जिला में प्राइवेट स्कूल घर पहुंचाएंगे किताबें

हिमालयन अपडेट ब्यूरो | April 12, 2020 06:27 PM

मंडी, 

 

मंडी जिला में सभी प्राइवेट स्कूल अपने यहां पढ़ रहे बच्चों को उनके घर पर किताबें पहुंचाएंगे। अतिरिक्त उपायुक्त आशुतोष गर्ग ने इस बारे जानकारी देते हुए बताया कि प्रशासन का प्रयास है कि विद्यार्थियों को उनकी जरूरत की किताबें घर पर ही मुहैया करवाई जा सकें ताकि उन्हें व अभिभावकों को कॉपी-किताबें खरीदने बाजार आने की जरूरत न हो। इसके लिए जिले में प्राइवेट स्कूलों व बुक रिटेलर्स के सहयोग से यह व्यवस्था बनाई गई है।
उन्होंने कहा कि किताबों की खरीद में स्कूलों की कोई भूमिका नहीं होगी, वे केवल बच्चों को घर पर किताबें पहुंचाने के लिए क्षेत्र के कॉपी-किताब विक्रेताओं को निर्धारित रूट के अनुरूप निशुल्क बस सेवा मुहैया करवाएंगे। मंडी जिला प्रशासन ने कॉपी-किताब की दुकानों पर भीड़ से बचने के लिए यह व्यवस्था की है, ताकि लोग घर पर रहें, सुरक्षित रहें ।
उन्होंने कहा कि इसमें प्राइवेट स्कूलों की मदद से बच्चों के लिए निर्धारित बस रूट के अनुरूप किताबें पहुंचाने के इंतजाम किए गए हैं। इसमें किताब विक्रेता व स्कूल अभिभावकों को बस आने के दिन व समय को लेकर सूचित करेंगे। बसों में बुक शॉप प्रतिनिधि मौजूद रहेंगे, जो अभिभावकों-बच्चों को किताबें मुहैया करवाएंगे। स्कूली बसों को कर्फ्यू पास दिए जाएंगे ताकि किताबें बच्चों के घर पहुंचाई जा सकें।
आशुतोष गर्ग ने कहा कि लॉकडाउन के कारण विद्यार्थियों की पढ़ाई पर असर न पड़े, इसके लिए सरकार ने ऑनलाइन पढ़ाई की व्यवस्था की है। व्हाट्सएप व अन्य ऑनलाइन माध्यमों से स्कूली बच्चों की पढ़ाई शुरू हो गई है। इसके मद्देनजर मंडी जिला में कर्फ्यू छूट के दौरान सुबह 10 बजे से दोपहर 1 बजे तक आवश्यक सामान की दुकानों के साथ सोमवार और गुरुवार को स्टेशनरी और कॉपी-किताबों की दुकानें भी खुली रहेंगी।

Have something to say? Post your comment
 
और हिमाचल खबरें
4 मरीज कोरोना मुक्त होकर लौटे अपने घर प्रभा राजीव ने किया। दुकानों का औचक निरीक्षण साइकिलिंग एसोसिएशन के अध्यक्ष ने की राज्यपाल से भेंट सोलन जिला से आज कोरोना संक्रमण जांच के लिए भेजे गए 209 सैम्पल रत्ती, सेहली, शिल्लीबागी, खारसी व आसपास के क्षेत्र  कंटेनमेंट जोन से मुक्त देश में जय राम ठाकुर बैस्ट परफाॅर्मिंग मुख्यमंत्री घोषित जलवाहक संघ ने मुख्यमंत्री एवं शिक्षा मंत्री से लगाई गुहार 43 करोड़ लोगों को प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज से 53248 करोड़ रुपए ट्रांसफ़र:अनुराग ठाकुर  गोविंद ठाकुर ने किया नागरिक अस्पताल मनाली का दौरा जनता की सहायता के नाम पर अपने केन्द्रीय नेतृत्व से पैसा मांग कर अपनी जग हसाई करवा रही है-राकेश जम्वाल