Wednesday, June 03, 2020
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
पोल खोल : स्वास्थ्य विभाग के बाद अब जल शक्ति विभाग में टैंडर घोटाला, मचा हड़कंपकोरोना काल में मार्गदर्शक बना गोगटा लोकमित्र केंद्र मडावग !अपडेट/ : हमीरपुर जिला में कोरोना संक्रमित के पांच नए मामले, अबतक ज़िले में कुल 20 मामले , 15 एक्टिव , 4 ठीक हुए , एक मौत ब्रेकिंग : हमीरपुर ज़िला में एक साथ कोरोना के पाँच मामले आए सामने, संक्रमितों में एक महिला भी शामिल ,ब्रेकिंग : हमीरपुर के नादौन उपमंडल की ग्वाल पत्थर पंचायत में दो व्यक्तियों के कोविड-19 संक्रमित होने की पुष्टिब्रेकिंग: मड़ावग में नेपाली मूल के युवक ने फंदा लगाकर दी जान सेवा का ईनाम : दूसरी बार डीजीपी डिस्क अवॉर्ड से सम्मानित होंगे हमीरपुर के CID इंचार्ज जगपाल सिंह जसवाल ,ख़ास ख़बर : ग़ाज़ियाबाद का एक ऐसा स्कूल जिसने लॉकडाउन में तीन माह की फ़ीस माफ़ की और टीचरों के खाते में डाली सेलरी, हिमाचल के लालची स्कूलों के लिए करारा सबक़
-
अंदर की बात

ट्राई-सीटी चंडीगढ़ से 11 बसों में पहुंचाए 277 लोग हमीरपुर : उपायुक्त

रजनीश शर्मा , हमीरपुर | May 03, 2020 05:30 PM
फ़ाईल फ़ोटो

हमीरपुर / रजनीश शर्मा 

चंडीगढ़ से हिमाचल पथ परिवहन निगम की 11 बसों में 277 लोग रविवार को यहां पहुंचाए गए हैं। इनमें अधिकांश चंडीगढ़, पंचकुला एवं मोहाली में अध्ययनरत रहे ऐसे युवा हैं जो कोविड-19 के कारण वहां से घर वापस नहीं आ पा रहे थे। यह सभी जिला के विभिन्न उपमंडलों के रहने वाले हैं। इन्हें लेकर पहुंची बसों को अच्छी तरह से सेनेटाइज किया गया है और यात्रा के
दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का भी पूरा ध्यान रखा गया है। उपायुक्त  हरिकेश मीणा ने कहा कि प्रदेश सरकार के निर्देशों के अनुसार कोविड-19 महामारी के कारण बाहरी राज्यों से हमीरपुर
जिला में लौट रहे लोगों की पूर्ण चिकित्सा जांच सुनिश्चित की जा रही है और बुखार इत्यादि के लक्षणों वाले लोगों के ऐहतियातन नमूने भी लिए जा रहे हैं।


उन्होंने कहा कि   रविवार को हमीरपुर  पहुंचने वाले सभी लोगों की पूर्ण चिकित्सा जांच की जा रही है। संक्रमित क्षेत्रों से आने वाले सभी लोगों के नमूने लिए जा रहे हैं। इसके अतिरिक्त बुखार इत्यादि की शिकायत वाले लोगों तथा उनके सम्पर्कों के भी ऐहतियातन नमूने जांच हेतु लिए जा रहे हैं। ऐसे लोगों को अलग से संगरोध सुविधा स्थलों में रखा जा रहा है। उस बस में आए सभी लोगों
को भी आगामी एक-दो दिनों तक बफर संगरोध सुविधा स्थल में ही रखा जाएगा।


उन्होंने कहा कि बाहर से आए सभी लोगों को अपने मोबाइल पर आरोग्य सेतु एप
भी अनिवार्य तौर पर डाऊनलोड करना होगा। इससे उन्हें उपयोगी जानकारी प्राप्त होगी और निगरानी में भी आसानी रहेगी। उन्होंने सभी लोगों से आग्रह किया है कि वे सरकार व जिला प्रशासन के निर्देशों की अनुपालना करें और इस महामारी की रोकथाम में अपना सहयोग दें।

Have something to say? Post your comment
 
और अंदर की बात खबरें