Friday, June 05, 2020
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
अनलॉक एक का मतलब है और अधिक सावधानी, एतिहात पोल खोल : स्वास्थ्य विभाग के बाद अब जल शक्ति विभाग में टैंडर घोटाला, मचा हड़कंपकोरोना काल में मार्गदर्शक बना गोगटा लोकमित्र केंद्र मडावग !अपडेट/ : हमीरपुर जिला में कोरोना संक्रमित के पांच नए मामले, अबतक ज़िले में कुल 20 मामले , 15 एक्टिव , 4 ठीक हुए , एक मौत ब्रेकिंग : हमीरपुर ज़िला में एक साथ कोरोना के पाँच मामले आए सामने, संक्रमितों में एक महिला भी शामिल ,ब्रेकिंग : हमीरपुर के नादौन उपमंडल की ग्वाल पत्थर पंचायत में दो व्यक्तियों के कोविड-19 संक्रमित होने की पुष्टिब्रेकिंग: मड़ावग में नेपाली मूल के युवक ने फंदा लगाकर दी जान सेवा का ईनाम : दूसरी बार डीजीपी डिस्क अवॉर्ड से सम्मानित होंगे हमीरपुर के CID इंचार्ज जगपाल सिंह जसवाल ,
-
देश

कोरोना महामारी ने मीडिया जगत में खड़ी की अनेक चुनोतियाँ: उमेश उपाध्याय

हिमालयन अपडेट ब्यूरो | May 09, 2020 08:11 PM

शिमला,
कोरोना महामारी में लोगों की दिनचर्या का अहम भाग माना जाने वाले अखबार को पढ़ने से लोग कतरा रहे हैं। सोशल मीडिया में सक्रियता बढ़ने के कारण अब सूचनाओं का अंबार लग गया है लेकिन इनकी विश्वसनीयता पर संदेह बना हुआ है। कोरोना महामारी के दौरान मीडिया के सामने अनेक चुनोतियाँ खड़ी हो गयी है। यह विचार विश्व संवाद केंद्र शिमला के राज्यस्तरीय नारद जयंती वेबनार में प्रख्यात पत्रकार उमेश उपाध्याय ने व्यक्त किये। विश्व संवाद केंद्र शिमला ने नारद जयंती के उपलक्ष्य में कोरोना महामारी के दौरान मीडिया की भूमिका विषय पर एक ऑनलाइन संगोष्ठी का आयोजन किया। इसमे मुख्य वक्ता के रूप में टीवी जर्नलिस्ट व रिलायंस इंडस्ट्री के प्रेसिडेंट और निदेशक उमेश उपाध्याय ने भाग लिया। विश्व संवाद केंद्र प्रमुख दलेल ठाकुर ने नारद जयंती पर पत्रकारों के सम्मान में हर वर्ष होने वाले कार्यक्रमों की जानकारी प्रदान की। केंद्र के अध्यक्ष प्रोफेसर नरेन्द्र कुमार शारदा ने उपस्थित गणमान्य लोगों का अभिवादन किया। मुख्य वक्ता ने अपने उदबोधन में कहा कि जो स्थिति मीडिया की आज तक रही है वो आने वाले समय मे नही रहेगी। कोरोना महामारी के कारण अब मीडिया एक नए दौर में आ गया है। उन्होंने कहा कि लॉक डाउन के दौरान मोबाइल का इस्तेमाल बहुत बढ़ गया है। इसमें अनेक प्रकार के ऐप्प भी प्रयोग हो रहे हैं जिसकी बहुत अधिक सार्थकता दिखाई नही देती। उन्होंने सोशल मीडिया के माध्यम से फेक न्यूज़ के प्रचार पर चिंता जताते हुए कहा कि सूचना की प्रमाणिकता पर संदेह के कारण लोग वास्तविकता के प्रति असमंजस की स्थिति में है। उनका कहना था कि आज भले ही सूचना का अंबार है लेकिन विश्वसनीयता का प्रश्न बना हुआ है। उन्होंने सही सूचनाओं के द्वारा लोगों के मानस में आने वाले परिवर्तन से समाज की दिशा और दशा में सकारात्मक बदलाव की उम्मीद जताई। कार्यक्रम का समापन उद्बोधन विश्व संवाद केंद्र के उपाध्यक्ष व गिरिराज के सयुंक्त निदेशक यादवेंद्र शर्मा ने किया। वेबनार में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रांत प्रचार प्रमुख महीधर प्रसाद, प्रान्त सह प्रचारप्रमुख मोतीलाल, प्रेसक्लब शिमला के अध्यक्ष अनिल भारद्वाज, विश्व संवाद केंद्र शिमला के समिति सदस्य प्रकाश भारद्वाज, राजेश बंसल, अर्चना फुल्ल, नीतू वर्मा और कृष्ण मुरारी सहित 50 से अधिक पत्रकारों ने ऑनलाइन सहभागिता की।

Have something to say? Post your comment
 
और देश खबरें
ख़ास ख़बर : ग़ाज़ियाबाद का एक ऐसा स्कूल जिसने लॉकडाउन में तीन माह की फ़ीस माफ़ की और टीचरों के खाते में डाली सेलरी, हिमाचल के लालची स्कूलों के लिए करारा सबक़ हिमाचल प्रदेश तकनीकी विश्वविद्यालय हमीरपुर में ऑनलाईन फेसबुक लाइव के माध्यम से अध्ययन केंद्र का विधिवत उद्घाटन कोरोना महामारी के समय मीडिया की भूमिका’ पर वेबिनार 9 मई को नालागढ़ के मज़दूरों ने मुख्यमंत्री से की सहायता गुहार बॉलीवुड अभिनेता इरफान खान का निधन, 54 साल की उम्र में कैंसर के चलते तोड़ा दम आतंकियों से लोहा लेते हुए हिमाचल के दो जवान शहीद प्रदेशवासियों की हर संभव सहायता कर रही है सरकार: मुख्यमंत्री महिलाओं के सशक्तिकरण से ही सशक्त समाज का निर्माण संभव: सुरेश भारद्वाज सुजानपुर : होली उत्सव की तैयारियों को लेकर उपायुक्त ने किया उत्सव स्थल का निरीक्षण, अधिकारियों को दिए आवश्यक दिशा निर्देश भारतीय जीवन बीमा निगम की हिस्सेदारी बेचने के विरोध में बिफरे बीमा कर्मी।