Thursday, May 28, 2020
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
अपडेट/ : हमीरपुर जिला में कोरोना संक्रमित के पांच नए मामले, अबतक ज़िले में कुल 20 मामले , 15 एक्टिव , 4 ठीक हुए , एक मौत ब्रेकिंग : हमीरपुर ज़िला में एक साथ कोरोना के पाँच मामले आए सामने, संक्रमितों में एक महिला भी शामिल ,ब्रेकिंग : हमीरपुर के नादौन उपमंडल की ग्वाल पत्थर पंचायत में दो व्यक्तियों के कोविड-19 संक्रमित होने की पुष्टिब्रेकिंग: मड़ावग में नेपाली मूल के युवक ने फंदा लगाकर दी जान सेवा का ईनाम : दूसरी बार डीजीपी डिस्क अवॉर्ड से सम्मानित होंगे हमीरपुर के CID इंचार्ज जगपाल सिंह जसवाल ,ख़ास ख़बर : ग़ाज़ियाबाद का एक ऐसा स्कूल जिसने लॉकडाउन में तीन माह की फ़ीस माफ़ की और टीचरों के खाते में डाली सेलरी, हिमाचल के लालची स्कूलों के लिए करारा सबक़चौपाल, नेरवा में कल बंद रहेगी बिजलीहिमाचल प्रदेश तकनीकी विश्वविद्यालय हमीरपुर में ऑनलाईन फेसबुक लाइव के माध्यम से अध्ययन केंद्र का विधिवत उद्घाटन
-
हिमाचल

जिले में 36 हजार मीट्रिक टन गेहूं का उत्पादन होगा रबी सीजन के दौरान- उपायुक्त 

हिमालयन अपडेट ब्यूरो | May 22, 2020 05:03 PM

किसानों ने पैदा की 23600 मीट्रिक टन सब्जियां 

खरीफ सीजन में 2160 हेक्टेयर क्षेत्र में उगाई जाएंगी सब्जियां 

2150 हेक्टेयर क्षेत्र में होगी धान की रोपाई 
 
चंबा,
 
 
जिले में रबी सीजन के दौरान 36000 मीट्रिक टन गेहूं का उत्पादन होगा। गेहूं की कटाई और गहाई का कार्य जिले में सोशल डिस्टेंसिंग और अन्य एहतियातों के साथ जोर -शोर से चल रहा है। 
अप्रैल के अंतिम सप्ताह से रबी फसलों की कटाई और गहाई का जो कार्य शुरू हुआ था उसका करीब 40 फ़ीसदी कार्य पूरा हो चुका है। 
उपायुक्त एवं जिला मजिस्ट्रेट विवेक भाटिया ने आज यहां बताया कि 
जिला में 19050 हेक्टेयर क्षेत्र में गेहूं, 3000 हेक्टेयर क्षेत्र में जौ  जबकि 900 हेक्टेयर क्षेत्र में सरसों की फसल उगाई गई। 
लॉक डाऊन अवधि के दौरान किसानों को कृषि गतिविधियां करने के लिए पास जारी किए गए ताकि उन्हें अपने कृषि कार्यों को समय पर करने में मदद मिल सके। उन्होंने  यह भी बताया कि रबी सीजन में ही 12400 मीट्रिक टन तिलहन के अलावा 23600 मीट्रिक टन  सब्जियों का उत्पादन जिला के किसानों द्वारा किया गया। 
उपायुक्त ने  कहा कि जिला के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में मक्की और आलू की बिजाई का काम भी शुरू हो चुका है। कृषि विभाग को निर्देश दिए गए हैं कि किसानों को सभी आवश्यक सुविधाएं उनकी मांग के अनुरूप मुहैया करना सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने बताया कि जिला में खरीफ सीजन के दौरान 26000 हेक्टेयर क्षेत्र में मक्की,  2150 हेक्टेयर क्षेत्र में धान, 2000 हेक्टेयर क्षेत्र में दलहन जबकि 2160 हेक्टेयर क्षेत्र में सब्जियों का उत्पादन होगा।
उपायुक्त ने कहा कि जिला के किसान खाद्यान्न फसलों के अलावा कृषि विविधीकरण अपनाते हुए सब्जियां व अन्य नकदी फसलों को उगाने की ओर भी अपना रुझान बढ़ाएं ताकि उन्हें अपने उत्पाद की अच्छी कीमत मिले और वे आर्थिक तौर पर स्वावलंबी बन सकें। 
कृषि विभाग को सिंचाई सुविधाएं किसानों तक पहुंचाने को लेकर भी आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए हैं। उपायुक्त ने कहा कि प्राथमिकता के आधार पर सिंचाई की उन्हीं स्कीमों को अमलीजामा पहनाया जाना चाहिए जो पानी की किल्लत के दिनों में भी किसानों के लिए उपयोगी साबित हो सकें।
कृषि उपनिदेशक सुरेश शर्मा ने कहा कि उपायुक्त के दिशा निर्देशों के मुताबिक जिले में कृषि की तमाम गतिविधियों को अंजाम दिया जा रहा है।
Have something to say? Post your comment
 
और हिमाचल खबरें
मुख्यमंत्री ने बाहरी राज्यों से आए लोगों पर निगरानी रखने को कहा मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर की अध्यक्षता में आज आयोजित मंत्रिमंडल की बैठक, लिए गए कई अहम फैसले पिछले 24 घंटों के दौरान जिला में पहुंचे 377 लोग- उपायुक्त  मुख्यमंत्री ने दिए क्वारंटीन केन्द्रों में बेहतर सुविधाएं उपलब्ध करवाने के निर्देश वीरवार को निगान दलाश फीडर और शुक्रवार को निरथ नित्थर एचटी लाइन में रहेगी बिजली बाधित जल शक्ति विभाग के कांट्रेक्टर्ज ने किया अंशदान वेद ठाकुर बने भाजपा युवा मोर्चा के प्रदेश सह प्रवक्ता  हिमाचल भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डॉ. राजीव बिंदल ने दिया अपने पद से इस्तीफा मोहर सिंह भारद्वाज को भाजयुमो सह मीडिया प्रभारी बनाए जाने पर खुशी जताई हिमाचल सरकार के प्रयासो से बाहरी राज्यों में फंसे 1.40 लाख लोगों की घर वापसी हुई सुनिश्चत