Friday, November 27, 2020
Follow us on
-
देश

अंकुश की शहादत से हमीरपुर गमगीन, हमीरपुर जिला के कड़ोहता ( भोरंज उपमंडल)का वीर सैनिक अंकुश शहीद हुआ , कड़ोहता में बेसब्री से हो रहा शहीद के पार्थिव देह का इंतज़ार

रजनीश शर्मा (हमीरपुर) 9882751006 | June 17, 2020 12:01 PM


हमीरपुर / रजनीश शर्मा


चीन के साथ हुई हाल ही में हुई झड़प में हमीरपुर जिला के कड़ोहता गाँव का वीर सैनिक अंकुश ठाकुर पुत्र अनिल ठाकुर (21) शहीद हो गया है। वह 3 पंजाब रेजिमेंट में तैनात था । शहीद का पार्थिव शरीर चण्डीगढ़ होते हुए घर लाया जा रहा है । अंकुश ठाकुर 2018 में सेना में भर्ती हुआ था। अत्यंत शांत एवं मिलनसार युवक अंकुश गाँव में सबका दुलारा था। मेडिकल की पढ़ाई छोड़ उसने देश सेवा को प्राथमिकता दी और चीन सीमा पर शहीद हो गया।

अंकुश ठाकुर के पिता अनिल कुमार और दादा सीता राम भी भारतीय सेना में सेवाएं दे चुके हैं। 10 माह पहले ही अंकुश ने रंगरूटी काटकर घर से सेना की नौकरी ज्वाइन की थी। शहीद का छोटा भाई कक्षा छह में पढ़ाई कर रहा है। माँ उषा देवी बेटे के अचानक बिछुड़ने से सदमे में है तथा गुमसुम होकर बेटे की पार्थिव देह घर आने की प्रतीक्षा कर रही है।

जैसे ही 21 वर्षीय जवान के शहीद होने की सूचना सेना मुख्यालय से ग्राम पंचायत कड़ोहता को फोन द्वारा दी गई तो हमीरपुर जिले में शोक की लहर दौड़ गई।

ग्राम पंचायत कड़ोहता की प्रधान संतोष कुमारी एवं उपप्रधान वीरेंद्र कुमार ने बताया कि बुधवार सुबह 7:30 बजे सेना मुख्यालय से फोन पर सूचना मिली है कि पंचायत का रहने वाला सैनिक अंकुश ठाकुर भारत-चीन एलएसी झड़प के दौरान शहीद हो गया है। भोरंज के एसडीएम डॉ अमित शर्मा ने भारतीय सैनिक अंकुश ठाकुर के शहीद होने की पुष्टि की है।

 

 
Have something to say? Post your comment
और देश खबरें
भारत की जांच क्षमता में तेजी से वृद्धि; कुल जांच संख्या 13.5 करोड़ तक पहुंची लोकतांत्रिक व्‍यवस्‍था में बातचीत ही वह सर्वश्रेष्‍ठ माध्‍यम है जो विचार-विमर्श को विवाद में परिणत नहीं होने देता: राष्‍ट्रपति कोविंद Happy Diwali अच्छी खबर : अब मज्याठ वार्ड के बाशिंदों को नहीं रहना होगा एम्बुलेंस रोड से वंचित एसजेवीएन नाथपा झाकड़ी परियोजना द्वारा बांध वह नदी के पास लोगों को ना जाने की सलाह तिरंगे में लिपटे अमर शहीद अंकुश का पार्थिव शरीर ले आज 10 बजे लेह से चण्डीगढ़ के लिए उड़ान भरेगा विशेष विमान, क़ड़ोहता के बरसेला नाला में होगी राष्ट्रीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई ख़ास ख़बर : ग़ाज़ियाबाद का एक ऐसा स्कूल जिसने लॉकडाउन में तीन माह की फ़ीस माफ़ की और टीचरों के खाते में डाली सेलरी, हिमाचल के लालची स्कूलों के लिए करारा सबक़ हिमाचल प्रदेश तकनीकी विश्वविद्यालय हमीरपुर में ऑनलाईन फेसबुक लाइव के माध्यम से अध्ययन केंद्र का विधिवत उद्घाटन कोरोना महामारी ने मीडिया जगत में खड़ी की अनेक चुनोतियाँ: उमेश उपाध्याय कोरोना महामारी के समय मीडिया की भूमिका’ पर वेबिनार 9 मई को