Tuesday, March 02, 2021
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
https://youtu.be/XtZXmzukedcनगर निगम के चुनाव पार्टी चिन्ह पर करवाए जाने का कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राठौर ने किया स्वागतशराब और भांग का नशा ऐसा छाया की साधु ने तोड़े गाड़ी के शीशे,https://youtu.be/j8Ck3V67CNAफिर लोगों ने की जमकर पिटाईसुबह सुबह अवैध रूप से बिजली का प्रयोग करते विद्युत विभाग ने एक आरोपी दबोचा बड़ी खबर :एसजेवीएन अंतर्राष्ट्रीय सौर एलाईंस में शामिल हुआहमीरपुर जिला में हर्षोल्लास से मनाया गया 72वां गणतंत्र दिवस समारोह, शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने की जिला स्तरीय समारोह की अध्यक्षता, राष्ट्रध्वज फहराकर मार्चपास्ट की सलामी लीसमीक्षा : वार्ड पंच से लेकर जिला परिषद तक पटक डाले जनता ने , हेकड़ी , घमंड व बड़े नेताओं की धौंस हुईं जमींदोज पंचायत चुनाव : भीतरघात का ऑडियो वायरल, खूब हो रही चर्चाप्रथम चरण में हमीरपुर जिला में दिग्गजों ने किया मतदान, धूमल अनुराग ने समीरपुर , राजेंद्र राणा व अभिषेक राणा ने पटलांदर में किया मतदान
-
राज्य

प्रदेश में शीघ्र स्थापितहोगी मेडिकल यूनिवर्सिटीः मुख्यमंत्री

May 12, 2018 09:15 PM

प्रदेश में शीघ्र स्थापितहोगी मेडिकल यूनिवर्सिटीः मुख्यमंत्री
शिमला।
मुख्यमंत्री जय राम ठाकुरने कहा कि प्रदेश के सभी छः मेडिकल कॉलेजों के समुचित प्रबन्धन के लिए शीघ्र ही एकमेडिकल यूनिवर्सिटी स्थापित की जाएगी।
उन्होंने कहा कि नर्सों के लगभग  1000 पद प्राथमिकता के आधार पर भरे जाएंगे ताकिराज्य में स्वास्थ्य संस्थानों को सुदृढ़ किया जा सके। मुख्यमंत्रीअन्तरराष्ट्रीय नर्सिंग सप्ताह के अवसर पर ट्रेंड नर्सिज एसोशिएसन ऑफ इण्डिया कीहिमाचल इकाई द्वारा आज यहां इन्दिरा गांधी मेडिकल कॉलेज में आयोजित समारोह केदौरान सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि फ्लोरेंसनाइटेंगेल स्नेह और निस्वार्थ सेवा भावना का प्रतीक हैं जो वह केवल नर्सों के लिएही नहीं , बल्कि समूची मानवता केलिए प्रेरणा का स्त्रोत हैं। नर्सिंग व्यवसाय को उन्हीं के प्रयासों से आगे बढ़ायाजा सका और विश्व स्तर पर इसे मान्यता मिली।
जय राम ठाकुर ने कहा किरोगियों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ के लिए नर्सें संवेदना और सेवा भाव के साथ कार्यकरती हैं और रोगी भी उनसे ऐसे ही व्यवहार की अपेक्षा रखते हैं। उन्होंने कहा किरोगियों के साथ चिकित्सकों
और पैरामेडिकल स्टाफ का अच्छा व्यवहार उन्हें शीघ्रस्वास्थ्य लाभ दिलाने में सहायता करता है।
मुख्यमंत्री ने कहा किप्रदेश सरकार ने पिछले चार महीनों की अवधि में स्वास्थ्य क्षेत्र में सुधार के लिएकई महत्वपूर्ण निर्णय लिए हैं।चिकित्सकों के  262 पद भरे गए हैं और चिकित्सकों के  200 व पैरामेडिकल
स्टाफ के  2000 और पद भरने की प्रक्रिया जारी है जिससे स्वास्थ्य संस्थानोंको सुदृढ़ बनाने में सहायता मिलेगी। प्रदेश सरकार प्रयास कर रही
है कि स्वास्थ्यमानकों में हिमाचल प्रदेश को देश का सर्वश्रेष्ठ राज्य बनाया जा सके। उन्होंने कहा कि प्रदेशकी पूर्व सरकार ने  16 डिग्री कालेजखोलने की घोषणा की लेकिन प्रत्येक कालेज के लिए मात्र एक लाख रुपये का प्रावधानकिया गया। इसी तरह अपने कार्यकाल के अन्तिम कुछ महीनों में पूर्व सरकार ने बिनाबजट
प्रावधान और आवश्यक स्टाफ   के कईस्वास्थ्य संस्थान भी खोल डाले थे। मादक द्रव्यों के सेवन केबढ़ रहे मामलों पर चिन्ता व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि यह हम सभी कासामूहिक उत्तरदायित्व है कि नशामुक्त समाज के निर्माण की दिशा में अपना सहयोग दें।समाज और विशेषकर युवा पीढ़ीपर पाश्चात्य संस्कृति का बढ़ता प्रभाव एक बड़ी चुनौती हैऔर अभिभावकों को
चाहिए कि वे अपने बच्चों की गतिविधियों पर निरन्तर नजर रखें। उन्होंनेकहा कि सरकार इस सामाजिक बुराई के उन्मूलन के लिए प्रतिबद्ध है। जय राम ठाकुर ने घोषणा कीकि नर्सों को प्रदान किए जा रहे  13 माह के वेतन कोअब नए मूल वेतन और ग्रेड पे के आधार पर दिया जाएगा। उन्होंने नर्सों का दैनिक आहारभत्ता  6 रुपये से बढ़ाकर  25 रुपये करने की भी घोषणा की। स्वास्थ्य मंत्री विपिनसिंह परमार ने इस अवसर पर कहा कि मुख्यमंत्री के मार्ग दर्शन में स्वास्थ्यक्षेत्र को सुदृढ़ करने की दिशा में ठोस कदम
उठाए जा रहे हैं। मुख्यमंत्री स्वयंकर्मचारियों का कल्याण सुनिश्चित बनाने के लिए प्राथमिकता से कार्य कर रहे हैं औरउन्हें करोड़ों रुपये के वित्तीय लाभ प्रदान किए गए हैं। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्यमानकों में
प्रदेश अग्रणी राज्यों में शामिल है और इस क्षेत्र को और मजबूत बनानेके
लिए इस वर्ष के बजट में कई नई योजनाओं को शामिल किया गया है।

 
Have something to say? Post your comment
और राज्य खबरें
तहसीलदार ने किया विस्फोट वाली जगह का दौरा सड़क सुरक्षा को बनाएं आदत: श्रवण मांटा आदित्य नेगी की अध्यक्षता में राष्ट्रीय बांस मिशन के अंतर्गत जिला शिमला के लिए गठित जिला स्तरीय बांस विकास एजेंसी की बैठक का आयोजन किया गया पंचायती राज संस्थाओं के प्रतिनिधि लोगों को सड़क सुरक्षा नियमों के बारे शिक्षित करे वर्तमान में ऊना विस में हो रहा 1000 करोड़ की परियोजनाओं पर काम: सत्ती एसडीएम माह में कम से कम दो पटवार वृतों का निरीक्षण करें: डीसी ग्रामीण बैंक द्वारा 9वां स्थापना दिवस आयोजित अगले वित्त वर्ष में 96,855 क्विंटल गेहूं बीज उत्पादित करने का लक्ष्य सड़क सुरक्षा जीवन रक्षा में सब बनें भागीदार: वीरेन्द्र कंवर सबस्टेशन चंबा के तहत 16 फरवरी को 11.30 बजे से दोपहर  2 बजे तक बंद रहेगी विद्युत आपूर्ति