Monday, March 01, 2021
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
https://youtu.be/XtZXmzukedcनगर निगम के चुनाव पार्टी चिन्ह पर करवाए जाने का कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राठौर ने किया स्वागतशराब और भांग का नशा ऐसा छाया की साधु ने तोड़े गाड़ी के शीशे,https://youtu.be/j8Ck3V67CNAफिर लोगों ने की जमकर पिटाईसुबह सुबह अवैध रूप से बिजली का प्रयोग करते विद्युत विभाग ने एक आरोपी दबोचा बड़ी खबर :एसजेवीएन अंतर्राष्ट्रीय सौर एलाईंस में शामिल हुआहमीरपुर जिला में हर्षोल्लास से मनाया गया 72वां गणतंत्र दिवस समारोह, शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने की जिला स्तरीय समारोह की अध्यक्षता, राष्ट्रध्वज फहराकर मार्चपास्ट की सलामी लीसमीक्षा : वार्ड पंच से लेकर जिला परिषद तक पटक डाले जनता ने , हेकड़ी , घमंड व बड़े नेताओं की धौंस हुईं जमींदोज पंचायत चुनाव : भीतरघात का ऑडियो वायरल, खूब हो रही चर्चाप्रथम चरण में हमीरपुर जिला में दिग्गजों ने किया मतदान, धूमल अनुराग ने समीरपुर , राजेंद्र राणा व अभिषेक राणा ने पटलांदर में किया मतदान
-
हेल्थ और लाइफस्टाइल

कोविड.19 के खिलाफ सबसे अच्छा वेक्सीनेशन है आयुर्वेद,आचार्य मनीष

हिमालयन अपडेट ब्यूरो | November 03, 2020 05:24 PM

शिमला,

 भारत में कोविड.19 से ठीक होने की दर लगभग 91 प्रतिशत हो गयी हैए और इन मामलों में मृत्यु दर घटकर मात्र 1.5 प्रतिशत रह गयी है। इसका एक कारण है मोदी सरकार द्वारा लागू किया गया लॉकडाउन और स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर्स (एसओपी) का कड़ाई से पालन जिसका मकसद ही था कोविड.19 का प्रसार कम करना। प्रसिद्ध आयुर्वेदिक विशेषज्ञ शुद्धि आयुर्वेद के आचार्य मनीष, जिन्होंने आयुर्वेद के एक लेबल शुद्धि आयुर्वेद  की स्थापना की है का मानना है कि जहां तक कोविड.19 का सवाल है मोदी सरकार द्वारा सोच.समझ कर लागू किये गये प्रतिबंधों के अलावा भारत में एक और प्रमुख कारण है जिसके चलते  हमारी स्थिति अन्य देशों की तुलना में बहुत बेहतर है।आचार्य मनीष ने कहा निम्न मृत्यु दर, उच्च रिकवरी दर, मामलों की अल्प तीव्रता और अधिकांश मामलों में कोई लक्षण दिखाई न देना आयुर्वेदिक औषधियों के उपयोग से की गयी प्रतिरक्षा.वृद्धि द्वारा संभव हुआ है। अब जब सर्दियों के मौसम में दूसरी लहर सामने है और टीकाकरण अभी भी अनुमान के दायरे में है ऐसे में मुझे लगता है भारत में आयुर्वेद ही सबसे अच्छा टीका है जो कोविड.19 के खिलाफ काम कर रहा है। आचार्य मनीष ने श्वसन स्वास्थ्य में सुधार के लिए जड़ी.बूटी आधारित औषधियों के महत्व को भी रेखांकित किया। उन्होंने बताया कि आयुर्वेद में कई विकल्प उपलब्ध हैं जो श्वसन प्रणाली को मजबूत करते हैं।आचार्य मनीष ने कहा, आयुष ने आधिकारिक तौर पर प्रतिरक्षा.बढ़ाने वाले प्रोटोकॉल की घोषणा की है और हमारे शोध आधारित एवं आयुष अनुमोदित इम्युनिटी.बूस्टिंग पैक के माध्यम से आयुर्वेद के प्रसार के मामले में शुद्धि आयुर्वेद सबसे आगे है। इन

 
Have something to say? Post your comment
और हेल्थ और लाइफस्टाइल खबरें
मड़ावग में आयुर्वेद शिविर का आयोजन, 300 से अधिक मरीज़ो की मुफ्त में जांच 28 दिन का अंतरात पूर्ण करने वाले हैल्थकेयर स्टाफ को लगाई जा रही टीकाकरण की दूसरा खुराक कुंभ मेले में जाने वाले श्रद्धालुओं के लिए एसओपी जारी, कोविड टेस्ट जरूरीः डीसी  नाथपा झाकड़ी हाइड्रो पावर स्टेशन में 181 लोगों ने किया रक्तदान सोलन जिला में 19186 बच्चों को घर-घर जाकर पिलाई गई पोलियो दवा स्वास्थ्य विभाग और आयुर्वेद विभाग द्वारा लगाए गए शिविरों में 325 लोगों के स्वास्थ्य की जांच  0 से 05 वर्ष तक के बच्चों को पिलाई गई पोलियो दवा ’रिवालसर में नौनिहालों को पिलाई पोलियो ड्राप्स’ कुष्ठ रोग के सम्बन्ध में जागरूकता शिविर आयोजित टीबी रोगियों को चिन्हित करने के लिए जिला ऊना में 8 फरवरी से सर्वेः डीसी