Saturday, March 06, 2021
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
https://youtu.be/2l5VOv6hbT0 हिमाचल विधानसभा में 6 दिन से चला आ रहा गतिरोध टूटा;विपक्ष के नेता सहित 5 कांग्रेसी सदस्यों का निलबंन रदद। https://youtu.be/LElaOQ_7SFs मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने लगाई कारोना वैक्सीन https://youtu.be/vFVt3UOrtuQ करुणामूलक भर्ती को जल्द भरने की मांग को लेकर संघ का विधानसभा के बाहर धरना https://youtu.be/YY7cHnTDnf4 यदि मैं मुख्यमंत्री होता तो एक घंटे में सुलझ जाता विधानसभा का मसला; वीरभद्र सिंह https://youtu.be/Wk2WZmMWU2M पॉइन्ट ऑफ आर्डर पर चर्चा न मिलने पर कांग्रेस का सदन से वाकआउटhttps://youtu.be/XtZXmzukedcनगर निगम के चुनाव पार्टी चिन्ह पर करवाए जाने का कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राठौर ने किया स्वागतशराब और भांग का नशा ऐसा छाया की साधु ने तोड़े गाड़ी के शीशे,https://youtu.be/j8Ck3V67CNAफिर लोगों ने की जमकर पिटाईसुबह सुबह अवैध रूप से बिजली का प्रयोग करते विद्युत विभाग ने एक आरोपी दबोचा
-
हेल्थ और लाइफस्टाइल

हिमाचल में सक्रिय कोवीड रोगी पहचान के लिए शुरू होगी ‘हिम सुरक्षा’ योजना

हिमालयन अपडेट ब्यूरो | November 21, 2020 06:56 PM

शिमला,

स्वास्थ्य सचिव अमिताभ अवस्थी ने शिमला में  बताया कि प्रदेश सरकार कोरोना महामारी से निपटने के लिए पूर्णतः सक्षम है और स्वास्थ्य विभाग के पास पर्याप्त संख्या में वेंटिलेटर, पल्स आॅक्सीमीटर, आॅक्सीजन सिलेंडर और आवश्यक दवाइयों का भण्डारण है।

उन्होंने कहा कि 25 नवम्बर, 2020 से एक सक्रिय रोगी पहचान अभियान ‘हिम सुरक्षा’ प्रदेश भर में चलाया जाएगा, जिसके तहत स्वास्थ्य कार्यकर्ता घर-घर जाकर लोगों की कोविड-19, तपेदिक, कुष्ठ रोग और गैर संचारी रोग जैसे शुगर एवं रक्तचाप इत्यादि के लक्षणों की सूचना एकत्रित करेंगे और आवश्यकतानुसार उनकी आगे जांच कर उचित उपचार उपलब्ध करवाया जाएगा।

उन्होंने कहा कि देश व प्रदेश में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण की स्थिति में बहुत से ऐसे मामले भी आ रहे हैं, जहां संक्रमित लोगों में कोरोना वायरस बीमारी के लक्षण बहुत कम हैं या नहीं के बराबर हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों को होम आइसोलेशन में रहने की सलाह दी जा रही है। किसी भी व्यक्ति को होम आइसोलेशन में भेजते समय यह सुनिश्चित किया जा रहा है कि उस व्यक्ति के घर में होम आइसोलेशन के बारे में जारी दिशा-निर्देशों के अनुसार सभी सुविधाएं उपलब्ध होने चाहिए और उस व्यक्ति की देखभाल के लिए हर समय एक व्यक्ति उपलब्ध होना चाहिए। अमिताभ अवस्थी ने बताया कि हर व्यक्ति को होम आइसोलेशन के लिए भेजते समय एक कीट प्रदान की जा रही है, जिसमें आवश्यकतानुसार सभी प्रकार की दवाइयां एवं एक पल्स आॅक्सीमीटर भी प्रदान किया जा रहा है। व्यक्ति पल्स आॅक्सीमीटर का उपयोग करते हुए अपने आॅक्सीजन लेवल की जांच स्वयं कर सकता है। यदि उसमें कोई भी कमी पाई जाती है या कोरोना का कोई भी लक्षण पाया जाता है तो उस व्यक्ति को यह परामर्श दिया जाता है कि वह शीघ्र ही स्वास्थ्य कार्यकर्ता को सूचना प्रदान करे ताकि उसे उचित उपचार उपलब्ध करवाया जा सके। स्वास्थ्य सचिव ने बताया कि प्रदेश में वेंटिलेटर उपयुक्त संख्या में उपलब्ध हैं और इन्हें प्रदेश के विभिन्न अस्पतालों में आवश्यकतानुसार स्थापित किया गया है। मरीजों में कोरोना के लक्षणों की गम्भीरता को देखते हुए अलग-अलग स्वास्थ्य संस्थानों में उचित उपचार उपलब्ध करवाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि वर्तमान में प्रदेश में कुल 6,381 सक्रिय रोगियों में से 5,673 रोगी होम आइसोलेशन में पंजीकृत कर नियमित स्वास्थ्य लाभ प्राप्त कर रहे हैं। 

 
Have something to say? Post your comment
और हेल्थ और लाइफस्टाइल खबरें
एनीमिया जांच शिविरों की तिथियों व स्थान में आंशिक परिवर्तन जागरूक से एच0आई0वी0, एडस रोग से होगा बचाव - डाॅ0 प्रकाश दरोच मड़ावग में आयुर्वेद शिविर का आयोजन, 300 से अधिक मरीज़ो की मुफ्त में जांच 28 दिन का अंतरात पूर्ण करने वाले हैल्थकेयर स्टाफ को लगाई जा रही टीकाकरण की दूसरा खुराक कुंभ मेले में जाने वाले श्रद्धालुओं के लिए एसओपी जारी, कोविड टेस्ट जरूरीः डीसी  नाथपा झाकड़ी हाइड्रो पावर स्टेशन में 181 लोगों ने किया रक्तदान सोलन जिला में 19186 बच्चों को घर-घर जाकर पिलाई गई पोलियो दवा स्वास्थ्य विभाग और आयुर्वेद विभाग द्वारा लगाए गए शिविरों में 325 लोगों के स्वास्थ्य की जांच  0 से 05 वर्ष तक के बच्चों को पिलाई गई पोलियो दवा ’रिवालसर में नौनिहालों को पिलाई पोलियो ड्राप्स’