Wednesday, February 24, 2021
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
https://youtu.be/XtZXmzukedcनगर निगम के चुनाव पार्टी चिन्ह पर करवाए जाने का कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राठौर ने किया स्वागतशराब और भांग का नशा ऐसा छाया की साधु ने तोड़े गाड़ी के शीशे,https://youtu.be/j8Ck3V67CNAफिर लोगों ने की जमकर पिटाईसुबह सुबह अवैध रूप से बिजली का प्रयोग करते विद्युत विभाग ने एक आरोपी दबोचा बड़ी खबर :एसजेवीएन अंतर्राष्ट्रीय सौर एलाईंस में शामिल हुआहमीरपुर जिला में हर्षोल्लास से मनाया गया 72वां गणतंत्र दिवस समारोह, शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने की जिला स्तरीय समारोह की अध्यक्षता, राष्ट्रध्वज फहराकर मार्चपास्ट की सलामी लीसमीक्षा : वार्ड पंच से लेकर जिला परिषद तक पटक डाले जनता ने , हेकड़ी , घमंड व बड़े नेताओं की धौंस हुईं जमींदोज पंचायत चुनाव : भीतरघात का ऑडियो वायरल, खूब हो रही चर्चाप्रथम चरण में हमीरपुर जिला में दिग्गजों ने किया मतदान, धूमल अनुराग ने समीरपुर , राजेंद्र राणा व अभिषेक राणा ने पटलांदर में किया मतदान
-
हेल्थ और लाइफस्टाइल

कोविड से निपटने के लिए अस्थाई तौर पर विभिन्न श्रेणियों के 294 पद भरे जाएंगेः मुख्यमंत्री

हिमालयन अपडेट ब्यूरो | November 25, 2020 07:27 PM
शिमला ,       
 
 
मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने कहा कि कोविड-19 के संक्रमण को रोकने और इस महामारी से निपटने के दृष्टिगत प्रदेश सरकार ने राज्य के सभी राजकीय मेडिकल काॅलेजों, शिमला और धर्मशाला के जोनल अस्पतालों और नागरिक अस्पतालों रोहड़ू और रामपुर को प्राधिकृत सेवा प्रदाता एजेंसियों के माध्यम से आउटसोर्स आधार पर अस्थाई तौर पर विभिन्न श्रेणियों के पदों को भरने के लिए अधिकृत किया है। उन्होंने कहा कि अस्थाई तौर पर श्रमशक्ति तैनात करने के लिए 31 मार्च, 2021 तक का समय निर्धारित किया गया है।
 
मुख्यमंत्री आज पठानकोट से स्वास्थ्य विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से एक बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।
 
जय राम ठाकुर ने कहा कि मेडिकल काॅलेजों के प्रधानाचार्यांें और इन चयनित अस्पतालों के नियंत्रक अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि वे इस दिशा में तत्काल कदम उठाएं और सरकार को तीन दिनों के भीतर अनुपालना रिपोर्ट भेजें। उन्होंने कहा कि राज्य में कोविड की स्थिति से प्रभावी रूप से निपटने के लिए पर्याप्त श्रमशक्ति की उपलब्धता सुनिश्चित बनाने के उद्देश्य से यह निर्णय लिया गया है।
 
उन्होंने कहा कि 130 नर्सों, 75 लैब तकनीशियनों, 79 चतुर्थ श्रेणी और 10 डेटा एंट्री आॅपरेटरों को अस्थायी रूप तौर पर आउटसोर्स आधार पर भर्ती किया जाएगा। इनमें से 15 नर्सों, 15 लैब टेक्नीशियन, 15 चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों और एक डेटा एंट्री आॅपरेटर को आईजीएमसी, शिमला में तैनात किया जाएगा। इसी प्रकार, 15 नर्सांे, 10 लैब टेक्नीशियन, 12 चतुर्थ श्रेाी कर्मचारियों और एक डेटा एंट्री आॅपरेटर को डा. राजेंद्र प्रसाद मेडिकल काॅलेज, टांडा, 15 नर्सांे, 10 लैब टेक्नीशियन, 12 चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों और एक डेटा एंट्री आॅपरेटर की श्री लाल बहादुर शास्त्री राजकीय मेडिकल काॅलेज, नेरचैक में भर्ती किया जाएगा।
 
मुख्यमंत्री ने कहा कि पं. जवाहर लाल नेहरू राजकीय मेडिकल काॅलेज, चंबा में 10 नर्सांे, 10 लैब टेक्नीशियन, 10 चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों और एक डेटा एंट्री आॅपरेटर को तैनात किया जाएगा। डा. राधाकृष्णन राजकीय सरकारी मेडिकल काॅलेज, हमीरपुर में 10 नर्सांे, 10 लैब तकनीशियन, 5 चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों और एक डेटा एंट्री आॅपरेटर भर्ती किए जाएंगे जबकि डा. वाई.एस परमार राजकीय मेकिल काॅलेज, नाहन में 10 नर्सांे, 10 लैब टेक्नीशियन, 5 चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों और एक डाटा एंट्री आॅपरेटर की तैनाती की जाएगी।
 
उन्होंने कहा कि 10 नर्सांे, पांच लैब टेक्नीशियन, पांच चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों और एक डेटा एंट्री आॅपरेटर को दीन दयाल उपाध्याय जोनल अस्पताल, शिमला, 10 नर्सांे, पांच लैब टेक्नीशियन, पांच चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों और एक डेटा एंट्री आॅपरेटर को जोनल अस्पताल धर्मशाला में जबकि नागरिक अस्पताल खनेरी, रामपरु बुशैहर में 10 नर्सांे, पांच चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों और एक डेटा एंट्री आॅपरेटर को तैनात किया जाएगा। इस प्रकार, नागरिक अस्पातल रोहड़ू में भी 10 नर्सांे, पांच चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों और एक डेटा एंट्री आॅपरेटर की भर्ती की जाएगी।
 
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार ने कोविड-19 की स्थिति से और बेहतर तरीके से निपटने के लिए दीन दयाल उपाध्याय जोनल अस्पताल शिमला, श्री लाल बहादुर शास्त्री मेडिकल काॅलेज नेरचैक, जोनल अस्पताल धर्मशाला और पं. जवाहर लाल नेहरू मेडिकल काॅलेज चम्बा में अस्थाई तौर पर पांच-पांच चिकित्सा अधिकारियों की तैनाती की है। इन चिकित्सकों को उन विभिन्न स्थानों से स्थानान्तरित किया गया है जहां पर निर्धारित मापदण्डों से अधिक संख्या में चिकित्सक तैनात हैं।
 
स्वास्थ्य सचिव अमिताभ अवस्थी ने मुख्यमंत्री को आश्वस्त किया कि इन सभी पदों पर अस्थाई तौर पर नियुक्तियां सुनिश्चित की जाएंगी।
 
मुख्यमंत्री के प्रधान निजी सचिव डाॅ. आर.एन. बत्ता भी इस अवसर पर उपस्थित थे।
 
Have something to say? Post your comment
और हेल्थ और लाइफस्टाइल खबरें
28 दिन का अंतरात पूर्ण करने वाले हैल्थकेयर स्टाफ को लगाई जा रही टीकाकरण की दूसरा खुराक कुंभ मेले में जाने वाले श्रद्धालुओं के लिए एसओपी जारी, कोविड टेस्ट जरूरीः डीसी  नाथपा झाकड़ी हाइड्रो पावर स्टेशन में 181 लोगों ने किया रक्तदान सोलन जिला में 19186 बच्चों को घर-घर जाकर पिलाई गई पोलियो दवा स्वास्थ्य विभाग और आयुर्वेद विभाग द्वारा लगाए गए शिविरों में 325 लोगों के स्वास्थ्य की जांच  0 से 05 वर्ष तक के बच्चों को पिलाई गई पोलियो दवा ’रिवालसर में नौनिहालों को पिलाई पोलियो ड्राप्स’ कुष्ठ रोग के सम्बन्ध में जागरूकता शिविर आयोजित टीबी रोगियों को चिन्हित करने के लिए जिला ऊना में 8 फरवरी से सर्वेः डीसी  14 फरवरी को जिले में चलेगा पल्स पोलियो अभियान