Wednesday, January 20, 2021
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
पंचायत चुनाव : भीतरघात का ऑडियो वायरल, खूब हो रही चर्चाप्रथम चरण में हमीरपुर जिला में दिग्गजों ने किया मतदान, धूमल अनुराग ने समीरपुर , राजेंद्र राणा व अभिषेक राणा ने पटलांदर में किया मतदानसाहित्य संगम संस्थान नई दिल्ली द्वारा हुआ हिमाचल इकाई का भव्य उद्घाटनबारीं पंचायत में उपप्रधानी के लिए पांच के बीच फंसा जीत का पंजा बारीं की 95 वर्षीय बोहरी देवी इस बार भी मतदान को तैयार, पिछले 60 वर्षों से हर चुनाव में किया मतदानबमसन पंचायत समिति के लिए दो दिनों में भरे 90 नामांकन, ग्राम पंचायत बारीं में प्रधान पद के लिए जबरदस्त मुकाबलाBreaking : 37.9 किलोग्राम नशीले पदार्थ का फरार आरोपी हमीरपुर पुलिस ने दबोचा अफसोस रहेगा
-
कविता

अफसोस रहेगा

December 29, 2020 06:57 PM
अफसोस रहेगा 
 
जिदंगी को प्यार से संजो पाता।
खुशीयों का एक छोटा-सा ही सही।
पर एक घर बना पाता।
 
समझ कर भी,न-समझी का खेद रहेगा।
 
अफसोस रहेगा।
 
अंधेरे दूर हो जायें,
दिलदिमाग से भरमों के।
 
अंधविश्वास की सोच से,
निकाल कर,
जो तर्क समझा पाता।
 
चिराग तो बहुत जलायें।
 
लेकिन........?
चिरागों तले जो रहे अंधेरे,
उन्हीं का भेद  रहेगा।
अफसोस रहेगा।
 
जिदंगी ईश्वर का अमूल्य नेमत।
 
नही दे सकता।
किसी बाबा का,कोई धागा।
 
हिम्मत से संवारो ,
अपने जीवन को।
 
न खोना, 
बहमों में अपने कल को।
 
भटकन को अपनी समेट कर।
ईश्वर का सत्य संवाद रहेगा।
और तब तक वेद रहेगा।
फिर न कोई ,
खेद और न भेद रहेगा।
 
 समझ जायें तो अच्छा है।
फिर न कोई अफसोस रहेगा।
 
 
 
Have something to say? Post your comment