Saturday, March 06, 2021
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
https://youtu.be/2l5VOv6hbT0 हिमाचल विधानसभा में 6 दिन से चला आ रहा गतिरोध टूटा;विपक्ष के नेता सहित 5 कांग्रेसी सदस्यों का निलबंन रदद। https://youtu.be/LElaOQ_7SFs मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने लगाई कारोना वैक्सीन https://youtu.be/vFVt3UOrtuQ करुणामूलक भर्ती को जल्द भरने की मांग को लेकर संघ का विधानसभा के बाहर धरना https://youtu.be/YY7cHnTDnf4 यदि मैं मुख्यमंत्री होता तो एक घंटे में सुलझ जाता विधानसभा का मसला; वीरभद्र सिंह https://youtu.be/Wk2WZmMWU2M पॉइन्ट ऑफ आर्डर पर चर्चा न मिलने पर कांग्रेस का सदन से वाकआउटhttps://youtu.be/XtZXmzukedcनगर निगम के चुनाव पार्टी चिन्ह पर करवाए जाने का कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राठौर ने किया स्वागतशराब और भांग का नशा ऐसा छाया की साधु ने तोड़े गाड़ी के शीशे,https://youtu.be/j8Ck3V67CNAफिर लोगों ने की जमकर पिटाईसुबह सुबह अवैध रूप से बिजली का प्रयोग करते विद्युत विभाग ने एक आरोपी दबोचा
-
हिमाचल

निर्दिष्ट रोगों से पीडित हो तो अपना पंजीकरण जल्दी से जल्दी करवाएं - डाॅ. प्रकाश दरोच

हिमालयन अपडेट ब्यूरो | January 27, 2021 05:17 PM

बिलासपुर,

हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा हिमाचल वासियों के लिए बेहतर स्वास्थ्य सुविधा प्रदान करने के लिए महत्वपूर्ण सहारा योजना चलाई गई है। यह योजना प्र्रदेशवासियों के स्वास्थ्य में सुधार के साथ वित्तीय सहायता भी प्रदान करेगी। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाॅ0 प्रकाश दरोच ने बताया कि हिमाचल प्रदेश सरकार ने प्रदेश के आर्थिक रुप से कमजोर वर्ग जिनकी आय चार लाख रुपये से कम है और एकल परिवार से संबध रखते हैं। उनके लिए कुछ निर्दिष्ट रोगों से पीडित होने पर सामाजिक सुरक्षा व वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए सहारा योजना शुरु कर एक नई पहल की है।
 उन्होंने बताया कि पार्किसन, मसकुलर डिसट्राॅफी, थैलेसीमिया, घातक कैंसर रोग, हीमोफीलिया, गुर्दे की विफलता, इसके अतिरिक्त कोई अन्य रोग जो स्थाई रुप से किसी रोगी को अक्षम करते हैं इत्यादि, बीमारियों पर इस योजना के अंतर्गत अनुदान प्राप्त होगा।
उन्होंने बताया कि सहारा योजना के तहत रोगी को अब प्रतिमाह 3 हजार रुपये वित्तीय सहायता हिमाचल सरकार द्वारा प्रदान की जा रही है जबकि इससे पहले 2 हजार रुपये दिए जाते थे। यह वित्तीय सहायता लाभार्थी के सीधे खाते में जमा होगी। इस योजना के अंतर्गत सरकारी एवं पैंशनभोगी व्यक्ति जो कि चिकित्सा प्रतिपूर्ति का लाभ उठाते हैं इस योजना के पात्र नहीं होंगे। इस सहारा योजना का उद्देश्य लंबी बीमारी में उपचार के दौरान रोगियों व उनके परिजनों को आने वाली वित्तीय और अन्य समस्याओं से निजात दिलवाना है।
उन्होंने बताया कि योजना का लाभ लेने हेतू आवेदन के लिए निर्धारित प्रपत्र के साथ आवश्यक दस्तावेज जैसेः-बीमारी के दस्तावेज, फोटो पहचान पत्र, आय प्रमाण पत्र, स्थाई प्रमाण पत्र, बीपीएल प्रमाण पत्र, बैंक खाते की पूर्ण जानकारी तथा जीवन प्रमाण पत्र सलंग्न करके खंड चिकित्सा अधिकारी के कार्यालय में अवश्य जमा करवाने होंगे। उक्त दस्तावेज अपने क्षेत्र की आशा वर्कर व स्वास्थ्य कार्यकर्ता के माध्यम से खंड चिकित्सा अधिकारी कार्यालय में भेजें।
उन्होंने बताया कि मरीज के उक्त पूर्ण दस्तावेज खंड चिकित्सा अधिकारी कार्यालय में जमा करवाने पर आशा वर्कर को 200 रुपये प्रति केस, प्रोत्साहन राशि भी दी जाएगी। इस योजना की जानकारी के लिए आशा वर्कर व स्वास्थ्य कार्यकर्ता से संपर्क करें। यह योजना निश्चित रुप से, कमजोर प्रदेशवासियों के बेहतर स्वास्थ्य के लिए एक मील का पत्थर साबित होगी।  
उन्होंने सभी पात्र व्यक्तियों से अनुरोध किया है कि यदि कोई व्यक्ति उपरोक्त किसी भी बीमारी से पीडित हो तो अपना पंजीकरण जल्दी से जल्दी करवाएं और योजना का लाभ उठाएं तथा पात्र व्यक्ति हर 6 महीने के बाद जीवित प्रमाणपत्र लाइव सर्टिफिकेट सम्बन्धित खण्ड चिकित्सा अधिकारी के माध्यम से अवश्य भेज दिया करें अन्यथा इस योजना में दी जाने वाली राशि के भुगतान में देरी हो सकती है।  

 
Have something to say? Post your comment
और हिमाचल खबरें
जयराम सरकार ने यदि माफी नहीं मांगी तो बड़े आंदोलन के लिए रहे त्यार : प्रेम डोगरा आनी में करीब 6 करोड़ रुपयों से जल्द शुरू होगा भव्य सब्जी मंडी का निर्माण : अमर ठाकुर एसएफआई इकाई ने मांगों को लेकर प्राचार्य को सौंपा ज्ञापन नशे के दुष्प्रभावों को लेकर पंचायत प्रतिनिधि जनमानस को जागरूक करने के प्रति निभाएं अपनी महत्वपूर्ण भागीदारी- एसके डोडेजा  ग्राम पंचायत धर्मपुर, कोटबेजा, बारियां, सनवारा, भावगुड़ी, दाड़वा तथा टकसाल में 926 रोगियों की एनीमिया जांच मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर 07 मार्च को सोलन के प्रवास पर वोटर कार्ड हुआ डिजिटल अब नये पजीकृत मतदाता कर सकेगें ई- मतदाता पहचान पत्र डाउलोड- रोहित जम्वाल। जिला स्तरीय ग्रीष्मोत्सव घुमारवीं 5 अप्रैल से 9 अप्रैल तक- शशीपाल शर्मा 195 पदों के लिए कैम्पस इंटरव्यू 08 मार्च को ई-एपिक डाउनलोड करने के लिए विशेष शिविर 6 व 7 मार्च को