Wednesday, February 24, 2021
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
https://youtu.be/XtZXmzukedcनगर निगम के चुनाव पार्टी चिन्ह पर करवाए जाने का कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राठौर ने किया स्वागतशराब और भांग का नशा ऐसा छाया की साधु ने तोड़े गाड़ी के शीशे,https://youtu.be/j8Ck3V67CNAफिर लोगों ने की जमकर पिटाईसुबह सुबह अवैध रूप से बिजली का प्रयोग करते विद्युत विभाग ने एक आरोपी दबोचा बड़ी खबर :एसजेवीएन अंतर्राष्ट्रीय सौर एलाईंस में शामिल हुआहमीरपुर जिला में हर्षोल्लास से मनाया गया 72वां गणतंत्र दिवस समारोह, शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने की जिला स्तरीय समारोह की अध्यक्षता, राष्ट्रध्वज फहराकर मार्चपास्ट की सलामी लीसमीक्षा : वार्ड पंच से लेकर जिला परिषद तक पटक डाले जनता ने , हेकड़ी , घमंड व बड़े नेताओं की धौंस हुईं जमींदोज पंचायत चुनाव : भीतरघात का ऑडियो वायरल, खूब हो रही चर्चाप्रथम चरण में हमीरपुर जिला में दिग्गजों ने किया मतदान, धूमल अनुराग ने समीरपुर , राजेंद्र राणा व अभिषेक राणा ने पटलांदर में किया मतदान
-
हेल्थ और लाइफस्टाइल

कोविड-19 का टीका बिल्कुल सुरक्षित है -डाॅ0 प्रकाश दडोच

हिमालयन अपडेट ब्यूरो | February 01, 2021 06:19 PM

बिलासपुर,

मुख्य चिकित्सा अधिकारी बिलासपुर डाॅ0 प्रका्य दडोच ने बताया कि देश में पहले चरण में कोविड वैक्सीन स्वास्थ्य कर्मियों को लगाई जा रही है और अब तक देश में 40 लाख से ज्यादा लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है। इस वैक्सीन को लेकर लोगों को कतई भी संदेह नहीं करना चाहिए, क्योंकि यह वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है।
      उन्होंने बताया कि अभी तक बिलासपुर जिले में लगभग 1365 के करीब स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों का टीकाकरण हो चुका है और किसी को भी टीका लगाने से कोई प्रतिकूल प्रभाव नहीं हुआ है। टीकाकरण के बाद मामूली बुखार या कमजोरी, दिल घबराना या उल्टी जैसे प्रतिकुल प्रभाव हो सकते हैं, जो कि सब देखरेख में है, इसलिए टीका लगाने के बाद आधा घंटा अपनी निगरानी में रखते हैं, घर जाने से पहले मरीज को एक हैल्पलाइन नंबर भी देते हैं कुछ भी होने पर वैक्सीन लगवाने वाले को वहां से मदद मिल जाती है।
     उन्होंने बताया कि वैक्सीन की एक डोज लगवाने के बाद 28 दिन के बाद दूसरी डोज लगवाई जाती और उसके बाद 15 दिन शरीर रोग प्रतिरोधक क्षमता बनाने में लगा देता है, दोनों टीके लगाने के 15 दिनों के बाद शरीर पर कोरोना वायरस का प्रभाव नहीं होगा या बेहद कम होगा, लेकिन मास्क व शारीरिक दूरी के नियमों का पालन जरुर करंे। उन्होंने बताया कि अभी गर्भवती महिलाओं, स्तनपान करवाने वाली माताओं, जो हाल ही में पाॅजिटिव आए हों, घर या अस्पताल में बैड रिडन लोगों को यह वैक्सीन नहीं लगवानी चाहिए।
       उन्होंने बताया कि इंटरनेट मीडिया पर चल रही अफवाहों पर ध्यान न दें कोई दिक्कत हो व वैक्सीन को लेकर कोई जानकारी लेनी हो तो सम्पर्क कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि कोविड-19 का टीका बिलकुल सुरक्षित है प्रमाणित है। किसी भी प्रकार की अफवाहों व भ्रांतियों पर भरोसा न करें।
       उन्होंने आम जनता से भी अपील की है कि ये टीके चरणबद्ध तरीके से सभी को लगाए जाएंगे। पहले चरण के पूर्ण होने के तुरन्त बाद दूसरा चरण शुरु कर दिया जाएगा। स्वास्थ्य विभाग व प्रदेश सरकार कोरोना से मुक्ति दिलाने के लिए हर सम्भव प्रयास कर रही है।

 
Have something to say? Post your comment
और हेल्थ और लाइफस्टाइल खबरें
28 दिन का अंतरात पूर्ण करने वाले हैल्थकेयर स्टाफ को लगाई जा रही टीकाकरण की दूसरा खुराक कुंभ मेले में जाने वाले श्रद्धालुओं के लिए एसओपी जारी, कोविड टेस्ट जरूरीः डीसी  नाथपा झाकड़ी हाइड्रो पावर स्टेशन में 181 लोगों ने किया रक्तदान सोलन जिला में 19186 बच्चों को घर-घर जाकर पिलाई गई पोलियो दवा स्वास्थ्य विभाग और आयुर्वेद विभाग द्वारा लगाए गए शिविरों में 325 लोगों के स्वास्थ्य की जांच  0 से 05 वर्ष तक के बच्चों को पिलाई गई पोलियो दवा ’रिवालसर में नौनिहालों को पिलाई पोलियो ड्राप्स’ कुष्ठ रोग के सम्बन्ध में जागरूकता शिविर आयोजित टीबी रोगियों को चिन्हित करने के लिए जिला ऊना में 8 फरवरी से सर्वेः डीसी  14 फरवरी को जिले में चलेगा पल्स पोलियो अभियान