Saturday, March 06, 2021
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
https://youtu.be/2l5VOv6hbT0 हिमाचल विधानसभा में 6 दिन से चला आ रहा गतिरोध टूटा;विपक्ष के नेता सहित 5 कांग्रेसी सदस्यों का निलबंन रदद। https://youtu.be/LElaOQ_7SFs मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने लगाई कारोना वैक्सीन https://youtu.be/vFVt3UOrtuQ करुणामूलक भर्ती को जल्द भरने की मांग को लेकर संघ का विधानसभा के बाहर धरना https://youtu.be/YY7cHnTDnf4 यदि मैं मुख्यमंत्री होता तो एक घंटे में सुलझ जाता विधानसभा का मसला; वीरभद्र सिंह https://youtu.be/Wk2WZmMWU2M पॉइन्ट ऑफ आर्डर पर चर्चा न मिलने पर कांग्रेस का सदन से वाकआउटhttps://youtu.be/XtZXmzukedcनगर निगम के चुनाव पार्टी चिन्ह पर करवाए जाने का कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राठौर ने किया स्वागतशराब और भांग का नशा ऐसा छाया की साधु ने तोड़े गाड़ी के शीशे,https://youtu.be/j8Ck3V67CNAफिर लोगों ने की जमकर पिटाईसुबह सुबह अवैध रूप से बिजली का प्रयोग करते विद्युत विभाग ने एक आरोपी दबोचा
-
देश

शीर्षक साहित्य परिषद (भोपाल) राँची शाखा की वार्षिक काव्य गोष्ठी संपन्न

सीमा सिन्हा | February 12, 2021 10:29 PM


"कवि होना और बनना में अंतर समझें रचनाकार"

(राँची ) झारखंड,

शीर्षक साहित्य परिषद (भोपाल) के तत्वाधान में काशा लांज के सभागार में शीर्षक साहित्य परिषद् भोपाल की राँची इकाई की वार्षिक युवा गोष्ठी आनंद और हर्षोल्लास के खुशनुमा माहौल में सफलता पूर्वक सपन्न हुई।
गोष्ठी का आरंभ रुणा रश्मि दीप्त  के मंत्रोचार के साथ दीप प्रज्ववलित कर किया गया। संध्या चौधरी  द्वारा मंच संचालन और रंजना वर्मा 'उन्मुक्त'  द्वारा सरस्वती वंदना गायन किया गया।
शीर्षक साहित्य परिषद की राँची प्रभारी  मनीषा सहाय सुमन  द्वारा स्वागत उद्बोधन व शीर्षक साहित्य के उद्येशयों को बताते हुए कहा युवा वर्ग जो देश के भावी कर्णधार उनका हिन्दी लेखन गजल ,गीतों में रूची लेना सराहनीय कदम है। गोष्ठी की अध्यक्षता जाने माने गज़लकार साहित्यकार  नेहाल हुसैन सरैयावी  द्वारा की गई ,मुख्य अतिथि के रूप में राँची विश्विद्यालय के पूर्व हिंदी विभागाध्यक्ष  डॉ जे बी पांडेय  ने मंच को गौरवान्वित किया। विशिष्ट अतिथि के रूप में प्रसिद्ध हास्य व्यंग्य रचनाकार कवि  नरेद बंका जी, कवियत्री लेखिका  प्रतिमा मणि त्रिपाठी , कवियत्री एंव लेखिका  रुणा रश्मि दीप्त  ने मंच की शोभा बढाई।  जे. बी. पाडें  नें युवाओ को समृद्ध लेखन पर प्रोत्साहित किया, वहीं  नरेश बंका  हास्य विधा की बारिकीयों को समझाया।  प्रतिमा मणि  ने युवाओं को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि मौलिकता को अपने बनाए रखे , कविता धैर्य से ही निखरती है। रूणा  ने भी युवाओं की प्रतिभा की तारीफ करते हुए कहा इनमे भविष्य के भावी रचनाकारों की छवि दिखाई दे रही है।
इस अवसर पर राँची शहर के युवा रचनाकरों ने बढ़- चढ़ कर हिस्सा लिया। सबकी प्रस्तुतियों ने श्रोताओं का मन मोह लिया।
अपने अध्यक्षीय वक्तव्य में इस कार्यक्रम के अध्यक्ष  नेहाल सरैयावी  ने सभी रचनाकरों विशेषकर युवाओं को सम्बोधित करते हुए कहा....

"कवि होने और बनने में अंतर जब तक नही जानेंगे। तब तक एक निपुण रचनाकार बनना सरल नही हो पायेगा। वहीं उन्होंने कविता के बारे बोलते हुए कहा....कविता का अर्थ है  समंदर को किसी बहुत ही छोटे पात्र में भर देना। और वक्तव्य का अर्थ होता है, उस बूंद भर जल को समंदर में विस्तार कर देना।"

इस अवसर पर  बर्षा ऋतुराज, रजनी चँदा , डॉ साक्षी शर्मा , खुशबू बरनवाल सीपी , राधेश्याम तिवारी , चंदन प्रजापति , तन्मय शर्मा, रंजन बरनवाल, राहुल जायसवाल, मृदुल सहाय, अशोक कुमार आशिक, सात्विक श्रीवास्तव, आकिब खान, हर्षवर्धन पांडेय, धन्यवाद ज्ञापन राँची प्रभारी  मनीषा सहाय सुमन  द्वारा किया गया। उन्होंने अपने वक्तव्य में कहा कि शीर्षक साहित्य परिषद युवाओं और नवांकुर रचनाकरों को निखारने और मंच देने के लिए प्रतिबद्ध है।

 
Have something to say? Post your comment
और देश खबरें
विराट कवयित्री परिवार समिति ने बसंत पंचमी पर ऑनलाइन काव्य गोष्ठी आयोजित चहू ओर उड़ती धूल में कैसा वसंत;मधु सोसि नाथपा झाकड़ी हाइड्रो पावर स्टेशन ने “शहीदों” को याद किया श्री साहित्य कुंज की प्रथम स्थापना पर संगीत सहाय 'अनुभूति' की "अनुभूति सृजन" पुस्तक का लोकार्पण 1500 मे0वा0 के नाथपा झाकड़ी हाइड्रो पावर स्टेशन में गणतंत्र दिवस धूमधाम से मनाया भारत की जांच क्षमता में तेजी से वृद्धि; कुल जांच संख्या 13.5 करोड़ तक पहुंची लोकतांत्रिक व्‍यवस्‍था में बातचीत ही वह सर्वश्रेष्‍ठ माध्‍यम है जो विचार-विमर्श को विवाद में परिणत नहीं होने देता: राष्‍ट्रपति कोविंद Happy Diwali अच्छी खबर : अब मज्याठ वार्ड के बाशिंदों को नहीं रहना होगा एम्बुलेंस रोड से वंचित एसजेवीएन नाथपा झाकड़ी परियोजना द्वारा बांध वह नदी के पास लोगों को ना जाने की सलाह