Wednesday, February 24, 2021
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
https://youtu.be/XtZXmzukedcनगर निगम के चुनाव पार्टी चिन्ह पर करवाए जाने का कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राठौर ने किया स्वागतशराब और भांग का नशा ऐसा छाया की साधु ने तोड़े गाड़ी के शीशे,https://youtu.be/j8Ck3V67CNAफिर लोगों ने की जमकर पिटाईसुबह सुबह अवैध रूप से बिजली का प्रयोग करते विद्युत विभाग ने एक आरोपी दबोचा बड़ी खबर :एसजेवीएन अंतर्राष्ट्रीय सौर एलाईंस में शामिल हुआहमीरपुर जिला में हर्षोल्लास से मनाया गया 72वां गणतंत्र दिवस समारोह, शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने की जिला स्तरीय समारोह की अध्यक्षता, राष्ट्रध्वज फहराकर मार्चपास्ट की सलामी लीसमीक्षा : वार्ड पंच से लेकर जिला परिषद तक पटक डाले जनता ने , हेकड़ी , घमंड व बड़े नेताओं की धौंस हुईं जमींदोज पंचायत चुनाव : भीतरघात का ऑडियो वायरल, खूब हो रही चर्चाप्रथम चरण में हमीरपुर जिला में दिग्गजों ने किया मतदान, धूमल अनुराग ने समीरपुर , राजेंद्र राणा व अभिषेक राणा ने पटलांदर में किया मतदान
-
राज्य

गांवों के विकास के लिए योजनाएं बनाएं पंचायती राज संस्थाओं के प्रतिनिधि: विरेन्द्र कंवर

हिमालयन अपडेट ब्यूरो | February 14, 2021 06:53 PM



मण्डी,

 

ग्रामीण विकास, पंचायती राज, कृषि व पशु पालन मंत्री विरेन्द्र कंवर ने पंचायती राज संस्थाओं के नवनिर्वाचित प्रतिनिधियों से गांवों के विकास के लिए कारगर योजनाएं बनाने का आह्वान किया है । वे रविवार को नाचन विधानसभा क्षेत्र के हटगढ़ में नाचन मंडल के नवनिर्वाचित, जिला परिषद, पंचायत समिति, प्रधानों तथा उप प्रधानों के लिए सम्मान के लिए आयोजित समारोह की अध्यक्षता करते हुए बोल रहे थे ।
विरेन्द्र कवंर ने कहा कि पंचायत प्रतिनिधियों को आज भी लोग ‘‘पंच परमेश्वर’’ की तरह देखते हैं, इसलिए यह जरूरी है कि जनता के नुमाइंदे इसी भावना के अनुरूप कार्य करें और लोगों की आंकाक्षाओं व अपेक्षाओं पर खरा उतरें ।
उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने पंचायतों के चुनाव व विकास में महिलाओं की भागीदारी सुनिश्चित बनाने को प्रभारी कदम उठाए हैं । उन्होंने कहा कि पंचायत प्रतिनिधि ग्रामीण क्षेत्रों के विकास के लिए वर्ष में कम से कम पांच कार्य योजनाएं बनाने पर कार्य करें । उन्होंने पंचायत प्रतिनिधियों से आग्रह किया कि वे सांसद, विधायक और जिला परिषद के माध्यम से आवंटित राशि को लघु योजनाओं, रास्तों, सड़कों, स्वच्छता, पंचायत घर आदि बनाने पर व्यय करें। उन्होंने मनरेगा के माध्यम से भी ग्रामीण क्षेत्रों में विकास कार्यो को गति प्रदान करने को कहा ।
उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों के आधारभूत ढांचे को मजबूत करने के लिए एंबुलैंस सड़क, स्कूल, स्वरोजगार के साधन व नशामुक्त कर आदर्श पंचायतें बनाने के लिए कार्य किया जा रहा है ।
ग्रामीण विकास मंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा अपनी प्रथम मंत्रिमंडल की बैठक में ही गौसेवा आयोग गठित करने का निर्णय लिया गया था, जिसके फलस्वरूप सोलन व सिरमौर की सड़कों को बेसहारा पशुओं से मुक्त किया गया तथा अगले तीन माह में बिलासपुर, हमीरपुर, चम्बा जिलों की सड़कों को भी बेसहारा पशुओं से मुक्त किया जाएगा ।
इस अवसर पर विधायक विनोद कुमार ने पंचायत प्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के आशीर्वाद व मार्गदर्शन से मनरेगा में आ रही परेशानियों को दूर कर दिया गया है, जिसके फलस्वरूप नाचन क्षेत्र की शाला व सेरी पंचायतें मनरेगा में मॉडल पंचायत बनकर उभरी हैं । क्षेत्र में मनरेगा के माध्यम से पहला विश्राम गृह शाला पंचायत में ही निर्मित किया गया है जबकि देव कमरूनाग के लिए सड़क का निर्माण भी मनरेगा के माध्यम से किया गया है । उन्होंने कहा कि क्षेत्र में पंचवटी योजना के तहत पंचायतों में पार्क बनाए गए हैं ।
इस मौके पर भाजपा मंडल अध्यक्ष सोहन सिंह ठाकुर, जिला परिषद उपाध्यक्ष  मुकेश चंदेल, भाजपा मंडल महामंत्री नरेन्द्र भंडारी, प्रदेश भाजपा कार्यकारणी के सदस्य रविन्द्र राणा, वेद प्रकाश, स्यांज पंचायत के प्रधानमनोज शर्मा, जिला भाजपा महामंत्री हुक्म ठाकुर सहित भाजपा के अनेक पदाधिकारी व पंचायती राज संस्थाओं के प्रतिनिधि भी उपस्थित थे ।

 
Have something to say? Post your comment
और राज्य खबरें
तहसीलदार ने किया विस्फोट वाली जगह का दौरा सड़क सुरक्षा को बनाएं आदत: श्रवण मांटा आदित्य नेगी की अध्यक्षता में राष्ट्रीय बांस मिशन के अंतर्गत जिला शिमला के लिए गठित जिला स्तरीय बांस विकास एजेंसी की बैठक का आयोजन किया गया पंचायती राज संस्थाओं के प्रतिनिधि लोगों को सड़क सुरक्षा नियमों के बारे शिक्षित करे वर्तमान में ऊना विस में हो रहा 1000 करोड़ की परियोजनाओं पर काम: सत्ती एसडीएम माह में कम से कम दो पटवार वृतों का निरीक्षण करें: डीसी ग्रामीण बैंक द्वारा 9वां स्थापना दिवस आयोजित अगले वित्त वर्ष में 96,855 क्विंटल गेहूं बीज उत्पादित करने का लक्ष्य सड़क सुरक्षा जीवन रक्षा में सब बनें भागीदार: वीरेन्द्र कंवर सबस्टेशन चंबा के तहत 16 फरवरी को 11.30 बजे से दोपहर  2 बजे तक बंद रहेगी विद्युत आपूर्ति