Tuesday, April 20, 2021
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
https://youtu.be/OQPehgHx4H8 शहरी विकास मंत्री ने किया कोविड डेडिकेटेड हॉस्पिटल डीडीयू का दौरा, बोले टेस्टिंग के बाद जल्द शुरू होगा ऑक्सीजन प्लांट,मुख्य सचिव ने सूखे जैसी स्थिति से निपटने के लिए कृषि व बागवानी विभागों को कार्य योजना तैयार करने के निर्देश दिएहिमाचल में फ़र्ज़ी गाड़ियों के पंजीकरण को लेकर सीबीआई करे जाँच, मुख्यमंत्री कांग्रेस के नेताओं को धमकाना करें बन्द :अग्निहोत्री।प्रदेश में करोड़ो रूपये की गाड़ियों की रजिस्ट्रेशन मामले पर कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप राठौर ने मुख्यमंत्री से मांगा श्वेतपत्र।हिमालयन अपडेट साहित्य सृजन की झारखंड इकाई के सफल नेतृत्व में विराट काव्य आयोजन हर्ष और उल्लास के साथ संपन्न आने वाले समय में नाइट कर्फ्यू और लॉक डाउन की संभावनाएं; मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर https://youtu.be/DuPN5b7gdiQ नीजी स्कूलों की मनमानी के खिलाफ अभिभावक मंच ने जिला प्रशाशन को सौंपा ज्ञापन,कार्यवाही की की मांग https://youtu.be/_2J8oLo8-jo कोरोना महामारी के चलते प्रदेश में सादगी से मनाया गया 73वा हिमाचल दिवस ।
-
कर्मचारी

https://youtu.be/vFVt3UOrtuQ करुणामूलक भर्ती को जल्द भरने की मांग को लेकर संघ का विधानसभा के बाहर धरना

ब्यूरो हिमालयन अपडेट | March 04, 2021 02:21 PM

 सरकार को दिया एक माह का अल्टीमेटम।

शिमला

अपनी मांगों को लेकर हिमाचल प्रदेश करुणामूलक संघ ने विधानसभा के बाहर धरना दिया और सरकार से करुणामूलक आश्रितों को जल्द नौकरी देने की मांग की है। आश्रितों ने अनुकंपा के आधार पर दी जाने वाली नौकरियों में आय सीमा को हटाने की मांग की है, साथ ही वन टाइम सैटेलमैंट के माध्यम से विभिन्न विभागों में लंबित करुणामूलक के मामलों का जल्द निपटारा करने और 5 फीसदी कोटे की शर्त हटाए जाने की मांग भी उठाई, जिससे कि आश्रितों को परिवार का गुजारा करने में मदद मिल सके।

करुणामूलक संघ के अध्यक्ष अजय कुमार ने बताया कि आश्रित लंबे अरसे से करुणामूलक आधार पर भॢतयां करने की मांग कर रहे हैं। इस दौरान मुख्यमंत्री के समक्ष कई बार ये मामला उठाया गया। विधायकों और मंत्रियों से मिलकर भी संघ ने अपनी मांगों को सरकार के समक्ष उठाया लेकिन हर बार आश्रितों को केवल आश्वासन ही मिला है, ऐसे में मजबूरन करुणामूलक आश्रितों को विधानसभा का घेराव करना पड़ा है। उन्होंने कहा कि करुणामूल्क के लिए 4500 परिवार नोकरी का इंतजार कर रहे है जिनके साढ़े चार लाख वोटर है। यदि उनकी मांगे नही मानी तो सरकार को उनके वोटों से हाथ धोना पड़ेगा। मांगे पूरी न होने की स्थिति में संघ ने एक माह के बाद परिवार सहित आंदोलन तेज़ करने की चेतावनी दी है।

 

Have something to say? Post your comment
और कर्मचारी खबरें
https://youtu.be/zCLY68qKGlk बजट में पुरानी पेंशन बहाल न होने से न्यू पेंशन कर्मचारी संघ नाखुश शास्त्री पद की बैच आधार पर भर्ती के लिए काउन्सिलिंग 17 व 18 फरवरी 2021 को सभी पंजीकृत निर्माण मज़दूरों को जल्दी सहायता प्रदान करने की मांग पत्रकारों की विभिन्न मांगों को लेकर प्रेस क्लब शिमला ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को सौंपा ज्ञापन 31 जनवरी, 1 व 2 फरवरी को 150 पदों हेतु साक्षात्कार आंगबाड़ी कार्यकर्ता व सहायिका के पदों के लिए इंटरव्यू 19 दिसंबर को बागवानी विभाग में प्रयोगशाला सहायक के भरे जाएंगे 5 पद रामपुर बुशहर में पेन्शन जागरूकता अभियान का आयोजन 8 जनवरी को हड़ताल करेंगे मज़दूर--डॉ कशमीर ठाकुर पुलिस भर्ती के लिए साक्षात्कार 30 सितम्बर से होंगे शुरू