Monday, April 19, 2021
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
https://youtu.be/OQPehgHx4H8 शहरी विकास मंत्री ने किया कोविड डेडिकेटेड हॉस्पिटल डीडीयू का दौरा, बोले टेस्टिंग के बाद जल्द शुरू होगा ऑक्सीजन प्लांट,मुख्य सचिव ने सूखे जैसी स्थिति से निपटने के लिए कृषि व बागवानी विभागों को कार्य योजना तैयार करने के निर्देश दिएहिमाचल में फ़र्ज़ी गाड़ियों के पंजीकरण को लेकर सीबीआई करे जाँच, मुख्यमंत्री कांग्रेस के नेताओं को धमकाना करें बन्द :अग्निहोत्री।प्रदेश में करोड़ो रूपये की गाड़ियों की रजिस्ट्रेशन मामले पर कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप राठौर ने मुख्यमंत्री से मांगा श्वेतपत्र।हिमालयन अपडेट साहित्य सृजन की झारखंड इकाई के सफल नेतृत्व में विराट काव्य आयोजन हर्ष और उल्लास के साथ संपन्न आने वाले समय में नाइट कर्फ्यू और लॉक डाउन की संभावनाएं; मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर https://youtu.be/DuPN5b7gdiQ नीजी स्कूलों की मनमानी के खिलाफ अभिभावक मंच ने जिला प्रशाशन को सौंपा ज्ञापन,कार्यवाही की की मांग https://youtu.be/_2J8oLo8-jo कोरोना महामारी के चलते प्रदेश में सादगी से मनाया गया 73वा हिमाचल दिवस ।
-
हिमाचल

एसएफआई इकाई ने मांगों को लेकर प्राचार्य को सौंपा ज्ञापन

हिमालयन अपडेट ब्यूरो | March 05, 2021 06:39 PM
 
आनी,
 
एस एफ आई इकाई आनी द्वारा छात्र मांगों को लेकर कॉलेज परिसर में धरना प्रदर्शन किया गया। एस एफ आई ने मांग की कि महाविद्यालय में पानी,बिजली जैसी मूलभूत आवश्यकताओं को मुहैया किया जाए । साथ ही एसएफआई ने मांग की कि कॉलेज में छात्रावास का निर्माण कार्य जल्द से जल्द शुरू किया जाए तथा कॉलेज खेल मैदान की हालत सुधारी जाए । एस एफ आई इकाई आनी सचिव योगेंद्र के अनुसार कॉलेज में पिछले कई महीनों से प्राचार्य का पद खाली पड़ा है तथा जीव विज्ञान के प्राध्यापक भी नहीं है साथ ही साथ लाइब्रेरी में सभी पद खाली है । इसके साथ साथ एस एफ आई इकाई अनी ने कॉलेज प्रभारी प्राचार्य महोदय के माध्यम से हिमाचल प्रदेश मुख्यमंत्री को मांग पत्र सौंपा जिसमें मुख्य मांगे यह थी कि महाविद्यालयों में शिक्षकों तथा तथा गैर शिक्षकों के रिक्त पद शीघ्र भरे जाए तथा महाविद्यालयों में पीटीए के नाम पर ली जा रही भारी भरकम फीस में शीघ्र कटौती की जाए इसके साथ साथ शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार लाने के लिए शिक्षा के बजट में बढ़ोतरी की जाए तथा कोठारी आयोग की सिफारिशों के अनुसार राज्य बजट का 30% प्रतिशत शिक्षा पर खर्च किया जाए इसके साथ साथ एसएफआई ने मांग की कि पिछले कई  महीनों से छात्रों की लंबित छात्रवृत्ति को बहाल किया जाए तथा केंद्रीय छात्र संघ चुनाव को बहाल किया जाए और आगामी परीक्षाओं को 50 प्रतिशत पाठ्यक्रम के साथ आयोजित किया जाए।
एसएफआई इकाई अनी ने प्रदेश सरकार को चेताया कि यदि छात्रों की इन मांगों की ओर ध्यान नहीं दिया गया तो एसएफआई पूरे प्रदेश भर में आम छात्रों को लामबंद करते हुए प्रदेश व्यापी आंदोलन करेगी जिसकी जिम्मेदार हिमाचल प्रदेश सरकार होगी।
Have something to say? Post your comment
और हिमाचल खबरें
मुख्यमंत्री जय राम का दौरा हास्य स्पद :-राजीव राणा सोलन का ठोडो मैदान आम जनता के लिए सुबह 9:00 से 6:00 बजे तक बंद कोरोना काल में सेवा कार्य के लिए ABVP ने बढ़ाए हाथ, डीसी को 55 वॉलंटियर कार्यकर्ताओं की सौंपी सूची। ऊना व हरोली में बने नये कंटेनमेंट जोन डीसी ने संयुक्त पटवार एवं कानूनगो महासंघ की मांगों पर की चर्चा सिद्धपुर में 15 करोड़ से बनाया जा रहा मशरूम प्रशिक्षण केंद्र - महेंद्र सिंह ठाकुर 16 मई को आयोजित होने वाली जेएनवी की प्रवेश परीक्षा स्थगित कण्डाघाट में कोविड-19 से बचाव के सम्बन्ध में बैठक आयोजित मुख्यमंत्री ने बिलासपुर में कोविड और सूखे की स्थिति की समीक्षा की नगर पंचायत तलाई में स्वंय सहायता समूह वसूलेंगे कूडा शुल्क