Monday, April 19, 2021
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
https://youtu.be/OQPehgHx4H8 शहरी विकास मंत्री ने किया कोविड डेडिकेटेड हॉस्पिटल डीडीयू का दौरा, बोले टेस्टिंग के बाद जल्द शुरू होगा ऑक्सीजन प्लांट,मुख्य सचिव ने सूखे जैसी स्थिति से निपटने के लिए कृषि व बागवानी विभागों को कार्य योजना तैयार करने के निर्देश दिएहिमाचल में फ़र्ज़ी गाड़ियों के पंजीकरण को लेकर सीबीआई करे जाँच, मुख्यमंत्री कांग्रेस के नेताओं को धमकाना करें बन्द :अग्निहोत्री।प्रदेश में करोड़ो रूपये की गाड़ियों की रजिस्ट्रेशन मामले पर कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप राठौर ने मुख्यमंत्री से मांगा श्वेतपत्र।हिमालयन अपडेट साहित्य सृजन की झारखंड इकाई के सफल नेतृत्व में विराट काव्य आयोजन हर्ष और उल्लास के साथ संपन्न आने वाले समय में नाइट कर्फ्यू और लॉक डाउन की संभावनाएं; मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर https://youtu.be/DuPN5b7gdiQ नीजी स्कूलों की मनमानी के खिलाफ अभिभावक मंच ने जिला प्रशाशन को सौंपा ज्ञापन,कार्यवाही की की मांग https://youtu.be/_2J8oLo8-jo कोरोना महामारी के चलते प्रदेश में सादगी से मनाया गया 73वा हिमाचल दिवस ।
-
हिमाचल

https://youtu.be/jPvPCk1-2c0 10वीं व 12वीं कक्षा को छोड़कर सभी विद्यार्थी होंगे प्रमोट

ब्यूरो हिमालयन अपडेट | March 31, 2021 04:08 PM

शिक्षा विभाग ने कोविड के चलते लिया फ़ैसला

फीस बसूलने को लेकर जारी निर्देशो की अहवेलना करने वालो पर सरकार कर सकती है कार्यवाही

शिमला,

हिमाचल प्रदेश के सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले नॉन बोर्ड कक्षाओं के विद्यार्थियों को अगली कक्षा में प्रमोट करने का फैसला लिया है। प्रदेश उच्च शिक्षा निदेशालय ने मंगलवार देर शाम को इस सबंध में लिखित निर्देश जारी कर दिए हैं। प्रदेश के सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले पहली से नौवीं और 11वीं कक्षा के हजारों विद्यार्थी बिना परीक्षा परिणाम के आधार पर अगली कक्षाओं में प्रमोट किए जाएंगे।

उच्च शिक्षा विभाग के निदेशक अमरजीत सिंह ने कहा कि कोरोना के चलते विभाग ने बोर्ड की कक्षाओं के अलावा सभी कक्षाओं के बच्चो को प्रमोट करने का फैसला किया है। उन्होंने बताया कि जो विद्यार्थी किन्ही कारणों से पहले परीक्षा नही दे पाए थे उन्हें दो माह का समय दिया गया है। वह इस दौरान परीक्षा दे सकते हैं उसके बाद उन्हें प्रमोट किया जाएगा। कोरोना के चलते 10 वीं व बाहरवीं की परीक्षा करवाने के लिए विभाग पूरी तरह तैयार है। परीक्षा के दौरान स्कूल की सोशल डिस्टेंसिनग का पूरा ख्याल रखा जाएगा। निजी स्कूलों के द्वारा बसूली जा रही फीस को लेकर उन्होंने कहा कि एक्ट के अनुसार निजी स्कूल किसी की कमाई का साधन नही हो सकते हैं। जारी निर्देशों की अहवेलना करने पर सरकार उन पर कभी भी कार्यवाही कर सकती है। सरकार ने कोविड के दौरान स्कूलों को ट्यूशन फीस के अलावा अन्य चार्जेज माफ करने को कहा था। जिसका स्कूल पालन भी कर रहे हैं। आगे भी सरकार जो भी निर्देश जारी करेगी निजी स्कूलों को उनका पालन करना होगा।

 

Have something to say? Post your comment
और हिमाचल खबरें
मुख्यमंत्री जय राम का दौरा हास्य स्पद :-राजीव राणा सोलन का ठोडो मैदान आम जनता के लिए सुबह 9:00 से 6:00 बजे तक बंद कोरोना काल में सेवा कार्य के लिए ABVP ने बढ़ाए हाथ, डीसी को 55 वॉलंटियर कार्यकर्ताओं की सौंपी सूची। ऊना व हरोली में बने नये कंटेनमेंट जोन डीसी ने संयुक्त पटवार एवं कानूनगो महासंघ की मांगों पर की चर्चा सिद्धपुर में 15 करोड़ से बनाया जा रहा मशरूम प्रशिक्षण केंद्र - महेंद्र सिंह ठाकुर 16 मई को आयोजित होने वाली जेएनवी की प्रवेश परीक्षा स्थगित कण्डाघाट में कोविड-19 से बचाव के सम्बन्ध में बैठक आयोजित मुख्यमंत्री ने बिलासपुर में कोविड और सूखे की स्थिति की समीक्षा की नगर पंचायत तलाई में स्वंय सहायता समूह वसूलेंगे कूडा शुल्क