Monday, April 19, 2021
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
https://youtu.be/OQPehgHx4H8 शहरी विकास मंत्री ने किया कोविड डेडिकेटेड हॉस्पिटल डीडीयू का दौरा, बोले टेस्टिंग के बाद जल्द शुरू होगा ऑक्सीजन प्लांट,मुख्य सचिव ने सूखे जैसी स्थिति से निपटने के लिए कृषि व बागवानी विभागों को कार्य योजना तैयार करने के निर्देश दिएहिमाचल में फ़र्ज़ी गाड़ियों के पंजीकरण को लेकर सीबीआई करे जाँच, मुख्यमंत्री कांग्रेस के नेताओं को धमकाना करें बन्द :अग्निहोत्री।प्रदेश में करोड़ो रूपये की गाड़ियों की रजिस्ट्रेशन मामले पर कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप राठौर ने मुख्यमंत्री से मांगा श्वेतपत्र।हिमालयन अपडेट साहित्य सृजन की झारखंड इकाई के सफल नेतृत्व में विराट काव्य आयोजन हर्ष और उल्लास के साथ संपन्न आने वाले समय में नाइट कर्फ्यू और लॉक डाउन की संभावनाएं; मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर https://youtu.be/DuPN5b7gdiQ नीजी स्कूलों की मनमानी के खिलाफ अभिभावक मंच ने जिला प्रशाशन को सौंपा ज्ञापन,कार्यवाही की की मांग https://youtu.be/_2J8oLo8-jo कोरोना महामारी के चलते प्रदेश में सादगी से मनाया गया 73वा हिमाचल दिवस ।
-
हेल्थ और लाइफस्टाइल

जागरूकता ही डेंगू से बचाव - डाॅ. प्रकाश दडोच

हिमालयन अपडेट ब्यूरो | March 31, 2021 06:14 PM

बिलासपुर,

मुख्य चिकित्सा अधिकारी बिलासपुर डाॅ0 प्रकाश दरोच ने जानकारी देते हुए बताया कि लोगों को कोविड-19 के साथ-साथ डेंगू से बचने के लिए जागरूक रहने की आवश्यकता है क्योंकि डेंगू पिछले कुछ वर्षों में बिलासपुर में फैला था। जुलाई से सितम्बर माह तक बारिश का मौसम होता है। तब तक हमें इस से बचाव व रोकथाम के पहलूआंे के बारे में लगातार प्रयासरत रहना चाहिए।  
उन्होंने बताया कि डेंगू अधिकतर बरसात के महीनों जुलाई, अगस्त व सितम्बर में होने वाला रोग है। यह चार प्रकार के विषाणुओं से एडीस नामक मादा मच्छर के काटने पर फैलता है। एडीस मादा मच्छर डेंगू से ग्रसित व्यक्ति को काट कर 8 से 10 दिनों में खुद संक्रमित हो जाती है, जब वह स्वस्थ व्यक्ति को काटती है तो एक किस्म के विषाणू के संक्रमण से उसे 5-6 दिन में रोग के लक्षण व्यक्ति का चेहरा लाल, उच्च बुखार, सिर, मांसपेशी तथा जोड़ दर्द, आंखो को हिलाने डुलाने में दर्द, चेहरे, गले तथा छाती पर लाल चकत्ते, मितली व उल्टी आने शुरू हो जाते हैं। ऐसे में शीघ्र डाक्टर से सम्पर्क करें, 5 से 7 दिन में सामान्य उपचार से रोगी ठीक हो जाता है।  
उन्होंने बताया कि डेंगू के एक से अधिक विषाणुओं के संक्रमण से अति तीव्र किस्म का डेंगू बुखार हो जाता है जिसमें रोगी के नाक, मसूड़ों और योनि से रक्तस्राव और काले रंग का मल और लाल मूत्र आने के लक्षण प्रकट होते है, ऐसे में रोगी को तुरन्त नजदीकी अस्पताल में दाखिल करवाने की जरूरत होती है अन्यथा यह स्थिति घातक हो जाती है।
उन्होंने बताया कि डेंगू ग्लोबल वार्मिंग, अनियोजित शहरीकरण, जनसंख्या वृद्धि, मच्छर नियन्त्रण के लिए कमजोर अभियान, कमजोर कूड़ा कचरा समापन व साफ-सफाई व्यवस्था से डेंगू बुखार के प्रसार में हर वर्ष वृद्धि हो रही है।
उन्होंने बताया कि पानी की टंकियों पर फिट कर के ढ़क्कन लगाएं। पानी की टंकी के हवा निकासी पाइप पर जाली लगाएं। उन्होंने बताया कि पक्षियों को पानी पिलाने वाले वर्तन को प्रतिदिन साफ कर दोबारा पानी भरें। गमलों, मनी प्लांट आदि के पौधों का पानी सप्ताह में एक बार अवश्य बदलें। खुले में पडे पुराने बर्तनों, टायरों, टयूवों आदि में पानी न भरनें दें उनको सही जगह रखें। कुलरों को सप्ताह में दोबारा पानी भरने से पहले इन्हें अच्छी तरह पोंछ व सूखा कर ही पानी डालें। दिन के समय मच्छरों से काटे जाने से बचाव के लिए पूरे बाजू वाले कपड़े पहनें। दिन को घरों में माॅरटीन आदि का प्रयोग करे।
उन्होंने बताया कि कीटनाशी से उपचारित मच्छरदानी, मच्छर भगाने वाली क्रीम का प्रयोग करें,दरवाजे व खिड़की पर जाली का प्रयोग करें। छोटे गढों को मिट्टी से भर कर, बड़े गढों में खड़े पानी में मिट्टी का तेल या प्रयोग किए गए मूवआयल की बूंदे डाल कर या मच्छर द्वारा अण्डे देने के स्थानों पर लार्वा भक्षक गंम्बूजिया मच्छली डाल कर, मच्छर के लार्वा पैदा होने पर रोक लगाई जा सकती है।
उन्होंने बताया कि प्रयोगशाला में रक्त की जांच से रोग का पता लगाया जाता है। डेंगू का कोई विषेश उपचार नहीं है, रोगी को लक्षण के आधार पर दवा की जरूरत होती है। शरीर के तापमान को कम करने के लिए पैरासिटामोल का प्रयोग करें। दर्द निवारक दवाई का सेवन कदापि न करें डाॅ0 की सलाह के बगैर कोई भी दवा न लें। किसी प्रकार का बुखार होने पर नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र में जांच करवाऐं।        

Have something to say? Post your comment
और हेल्थ और लाइफस्टाइल खबरें
https://youtu.be/OQPehgHx4H8 शहरी विकास मंत्री ने किया कोविड डेडिकेटेड हॉस्पिटल डीडीयू का दौरा, बोले टेस्टिंग के बाद जल्द शुरू होगा ऑक्सीजन प्लांट, डेंगू से बचने के लिए जागरूक रहने की आवश्यकता जिला बिलासपुर में 11 से 14 अप्रैल तक कोविड टीकाकरण उत्सव मनाया जा रहा है: नेरवा ब्लॉक में सबसे अधिक मड़ावग में 61 व्यक्तियों का किया गया टीकाकरण कोरोना से सबसे अधिक फेफड़ों को पहुंचता है नुकसान खण्ड स्तरीय योगा प्रत्तियोगिता में नेहा प्रथम सिंघा ने बीजेपी की बयानबाजी को बताया बेबुनियाद,कोरोना से बचने के लिए बरतें एहतियात https://youtu.be/6tRGaeyNw58शहरी विकास मंत्री सुरेश भरद्वाज ने गंज बाजार में ओपन जिम का किया शुभारंभ https://youtu.be/Zzx-hZmCQ-A शिमला जिला में लक्ष्य को पूरा करने के लिए बढ़ाए गए हैं वैक्सीनेशन सेंटर--- सीएमओ मंडी तथा सलापड़ में रक्तदान शिविरों का आयोजन