Thursday, April 09, 2020
Follow us on
-
पंजाब

जमात-ए-कादियान को लेकर पंजाब के मुसलमानों की ओर से ज्ञापन सौंपा

December 13, 2018 05:01 PM

लुधियाना, 

गुरूद्वारा दुख निवारण साहिब के मुख्य सेवादार सरदार प्रितपाल सिंह के कार्यालय में श्री अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह से नायब शाही इमाम पंजाब मौलाना मुहम्मद उस्मान रहमानी लुधियानवी ने विशेष रूप से भेंट की। इस अवसर पर नायब शाही इमाम ने पंजाब के मुसलमानों की ओर से एक ज्ञापन सिंह साहिब ज्ञानी हरप्रीत सिंह जी को दिया और बताया कि गुरदासपुर कादियान से संबंधित जमात-ए-कादियान का इस्लाम धर्म से कोई संबंध नहीं है। नायब शाही इमाम ने बताया की इस्लाम धर्म में यह हुक्म है कि पैगम्बर हजरत मुहम्मद साहिब सल्ललाहु अलैहीवसलम के बाद अब कोई पैगम्बर नहीं आयेगा, सभी मुसलमानों को कुरआन व हदीस के अनुसार चलना होगा, लेकिन कादियानी जमात ने अंग्रेजी शासन के दौरान मिर्जा गुलाम को नबी बना कर इस्लाम के मूल रूप को बदलने की कोशिश की थी जिसके बीच दरअसल अंग्रेजी साजिश थी कि मुसलमानों का ध्यान जंग-ए-आजादी से हटा दिया जाए। 1882 में ही लुधियाना के प्रसिद्ध विद्वान मौलाना शाह मुहम्मद लुधियानवी (शाही इमाम पंजाब के पड़दादा के पिता जी) ने मिर्जा गुलाम कादियानी के खिलाफ फतवा जारी किया था। 

नायब शाही इमाम मौलाना मुहम्मद उस्मान लुधियानवी ने सिंह साहिब को बताया कि अब कादियान जमात का हेड क्वाटर लंदन में है और वह आज भी पंजाब सहित भारत में पैसे देकर धर्म परिवर्तन करवाने में लगे हुए हैं। वह हर साल कादियान में अपने वार्षिक कार्यक्रम में सर्व धर्म के नाम पर श्री अकाल तख्त साहिब से सिंह साहिब को बुलाने की फिराक में हैं। नायब शाही इमाम ने कहा कि पंजाब भर के मुसलमान सिंह साहिब से गुजारिश करते हैं कि श्री अकाल तख्त साहिब से कादियानी जमात के कार्यक्रम में शामिल होने से सिख संगठनों को रोका जाए क्योंकि उनके जलसे में जाने से कादियानी जमात के झूठे प्रचार को बल मिल सकता है। नायब शाही इमाम मौलाना मुहम्मद उस्मान ने कहा कि सिंह साहिब ज्ञानी गुरबचन सिंह को भी कादियान बुलाया गया था लेकिन समय रहते शाही इमाम साहिब द्वारा हकीकत बताने पर उन्होंने अपना कार्यक्रम रद्द कर दिया था।

नायब शाही इमाम की बात सुन कर सिंह साहिब ने कहा कि मैं पवित्र कुरआन शरीफ का पंजाबी में अनुवाद कर चुका हंू और इस्लामी शरीयत से भली भांति परिचित हंू। सिंह साहिब ने कहा कि पंजाब के मुसलमान निश्चिंत रहें सिख समुदाय कभी भी किसी ऐसे व्यक्ति और संगठन की हिमायत नहीं करता जो किसी धर्म की मूल भावना को ठेस पहुंचाने वाले हों। उन्होंने आश्वासन दिया कि वह कादियानी जमात के कार्यक्रम में कभी नहीं शामिल होंगे। इस अवसर पर शाही इमाम पंजाब के मुख सचिव मुहम्मद मुस्तकीम अहरारी, सरदार गुरप्रीत सिंह विंकल विशेष रूप से उपस्थित थे। 

Have something to say? Post your comment
 
और पंजाब खबरें
लंगर लगाने और होली खेलने आदि संबंधी सेहत विभाग के निर्देश जारी मानिक डावर ने कुष्ठ आश्रम मे बड़ी धूमधाम से मनाया गणतंत्र दिवस का जश्न लुधियाना जामा मस्जिद के मुख्यद्वार पर शाही इमाम ने फहराया राष्ट्रीय ध्वज अब जीवन साथी ढूंढना हुआ और भी आसान; संजीव नागरा सी.ए.ए और यूपी पुलिस के अत्याचारों के खिलाफ आज पंजाब भर में मुसलमान काला दिवस मनाएंगे : शाही इमाम मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को नायब शाही इमाम ने सौंपा ज्ञापन सी.ए.ए और उत्तर प्रदेश पुलिस की गुंडागर्डी हरगिज बर्दाश्त नहीं की जाएगी - पंजाब भर में काला दिवस 3 जनवरी को मनाया जाएगा : शाही इमाम लुधियाना पुलिस ने छोटे काॅमर्शियल वाहनों को दी राहत, अब एक टन तक ढो सकेंगे सामान सोमवार से बिना हेल्मेट दोपहिया वाहन सवारों के कटेंगे चालान, यातायात उल्लंघन के लिए जीरो टॉलरेन्स नीति का ऐलान * शांतिपूर्वक ढंग से विरोध करने का अधिकार छीन संविधान की धज्जियां उड़ा रही है केंद्र सरकार : शर्मा/हांडा