Sunday, May 31, 2020
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
अपडेट/ : हमीरपुर जिला में कोरोना संक्रमित के पांच नए मामले, अबतक ज़िले में कुल 20 मामले , 15 एक्टिव , 4 ठीक हुए , एक मौत ब्रेकिंग : हमीरपुर ज़िला में एक साथ कोरोना के पाँच मामले आए सामने, संक्रमितों में एक महिला भी शामिल ,ब्रेकिंग : हमीरपुर के नादौन उपमंडल की ग्वाल पत्थर पंचायत में दो व्यक्तियों के कोविड-19 संक्रमित होने की पुष्टिब्रेकिंग: मड़ावग में नेपाली मूल के युवक ने फंदा लगाकर दी जान सेवा का ईनाम : दूसरी बार डीजीपी डिस्क अवॉर्ड से सम्मानित होंगे हमीरपुर के CID इंचार्ज जगपाल सिंह जसवाल ,ख़ास ख़बर : ग़ाज़ियाबाद का एक ऐसा स्कूल जिसने लॉकडाउन में तीन माह की फ़ीस माफ़ की और टीचरों के खाते में डाली सेलरी, हिमाचल के लालची स्कूलों के लिए करारा सबक़चौपाल, नेरवा में कल बंद रहेगी बिजलीहिमाचल प्रदेश तकनीकी विश्वविद्यालय हमीरपुर में ऑनलाईन फेसबुक लाइव के माध्यम से अध्ययन केंद्र का विधिवत उद्घाटन
-
हिमाचल

मॉल रॉड पर बने शॉपिंग काम्प्लेक्स के बिजली पानी काटने के निगम ने दिए आदेश

January 05, 2019 08:47 PM

शिंमला।

राजधानी के कोर एरिया मालरोड़ पर एक शॉपिंग काम्प्लेक्स के निगम ने बिजली पानी काटने के आदेश जारी कर दिये है। जानकारी के अनुसार
भाजपा के करीबी एक कारोबारी की ओर से नगर निगम व सरकार की ओर से सरेआम करोड़ों रुपयों की लागत से बहुमंजिला इमारत खड़ी कर देने के मामले में नगर निगम ने इस इमारत का बिजली पानी काटने के आदेश जारी कर दिए हैं। इसी के साथ कारोबारी पर 50 हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया हैं। नगर निगम की ओर से यह आदेश जारी किए गए। नगर निगम ने इस इमारत के आगे के काम को बंद करने के आदेश दिए हैं। साथ ही मौके पर किसी तरह का निर्माण न हो पाए इसकी लिए निगम की ओर से एक कर्मचारी को भी इस इमारत में तैनात कर दिया हैं। इस कर्मचारी का पूरा खर्च भाजपा के करीबी उक्त कारोबारी को ही वहन करना होगा।

महापौर कुसुम सदरेट ने  कहा कि निगम ने भवन मालिक को पहले भी चेतावनी दी थी की जबतक भवन निर्माण पूरा ना हो इसमें शॉपिंग काम्प्लेक्स ना खोले इसके बाद भी इसमें दुकानें खोली गई । निगम ने भवन के बिजली पानी काटने के आदेश दिये है।
इस इमारत का निर्माण मंजूर नक्शे के हिसाब से नहीं हुआ हैं। दिलचस्प यह है कि जब बहुमंजिली यह इमारत बन रही थी तो नगर निगम ने यह काम नहीं रूकवाया व निगमायुक्त की अदालत में मुकदमा चलता रहा और मौके पर निर्माण होता रहा। जानकारी के मुताबिक इस दौरान निगम की ओर से कम से कम चार बार नोटिस भी जारी किए गए । लेकिन काम नहीं रुका। इस बहुमंजिली इमारत का अधिकांश काम पूरा हो जान के बाद निगम की ओर से यह आदेश हुए हैं। इस कारोबारी ने इस इमारत के मॉल की ओर के दुकानों को कपड़े व जूतों की नामी ब्रांडों को किराए पर भी दे दिया हैं। निगम अधिकारियोें के मुताबिक सरेआम मालरोड़ पर नियमों को दरकिनार कर किए जा रहे इस निर्माण को लेकर नगर निगम के कई श्किायतें भी दी गई थी। इसके अलावा निगम के अधिकारियों ने भी निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान पाया गया कि इसकी यह इमारत मंजूर नक्शे के हिसाब से नहीं बनाई गई हैं। इसकी ऊंचाई भी मंजूर नक्शे से ज्यादा पाई गई हैं। चूंकि यह कोर एरिया हैं ऐसे में नक्शे के बाहर यहां पर कुछ नहीं हो सकता था।

Have something to say? Post your comment
 
और हिमाचल खबरें