Monday, February 24, 2020
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
ब्रेकिंग : शिक्षा विभाग उठाएगा एसिड पीड़ित छात्राओं के इलाज का ख़र्च , जाँच के बाद निष्कासित होगा आरोपित छात्र , पीड़ित परिवार को नहीं मिली एफ़आईआर की कॉपी(ब्रेकिंग) हमीरपुर : मर्डर केस में पुलिस के हत्थे चढ़ा आरोपी आमिर खान, गिरफ़्तारी के बाद पुलिस ने तेज़ की जाँच Breaking News : नारकंडा में कार दुर्घटनाग्रस्त एक की मौतएसिड प्रकरण : आरोपी के ख़िलाफ़ रविवार को एफ़आईआर नंबर 13/2020 दर्ज, उटपुर पीएचसी से पुलिस ने लिए एमएलसी, आई जाँच में तेज़ी।एसिड प्रकरण : राम भरोसे सरकारी स्कूलों की विज्ञान प्रयोगशालाएँ , चपड़ासी से प्रोमोट हो लैब अटेंडेंट दे रहे सेवाएँ, हाई स्कूलों में नहीं है लैब अटेंडेंट की पोस्टअपडेट: एसिड पीड़िता शिवांगी का बयान लिख वापिस लौटी पुलिस, आज स्कूल प्रशासन से होगी पूछताछ, सिर्फ़ उटपुर में ही हुआ पीड़िता का इलाज, टौणी देवी या हमीरपुर में इलाज की ख़बरें निकली झूठीसरकाघाट राजदेई वृद्धा मामला : हाई कोर्ट से राहत मिली एक आरोपी को , गाँव में घुसे 23, राजदेई भी बेटी संग बड़ा समाहल में, जान को ख़तराअपडेट: शिवांगी ने कहा , “ वॉर्निंग देकर आरोपी कमाण्डो ने फैंका एसिड” मौक़े पर पहुँची पुलिस
-
राज्य

पैट अध्यापकों को 19 की मंत्रीमंडल बैठक में नियमित करे सरकार

January 14, 2019 02:49 PM
आनी
 
प्राथमिक सहायक अध्यापक संघ के प्रदेश अध्यक्ष रजत शर्मा ने  यहां जारी एक ब्यान में कहा कि पैट अध्यापक  पिछले 16 वर्षों से प्रदेश के दूरदराज क्षेत्रों में अपनी सेवाएं दे रहे ,मगर कोई भी सरकार उन्हें अभी तक नियमित नही कर पाई हैं। संघ के अध्यक्ष ने कहा कि प्राथमिक सहायक अध्यापक वर्तमान में प्रदेश के अंदर सर्वाधिक शोषित वर्ग है जो कि पिछले 16 वर्षों से विभिन्न दूरदराज क्षेत्रो के स्कूलों में  ज्ञान की लौ जला रहे हैं । लेकिन वावजूद इसके प्रदेश के 3400 प्राथमिक सहायक अध्यापक आज भी नियमितीकरण से वंचित हैं। उन्होंने कहा की 2003 से लेकर 2007 के मध्य में पूरे प्रदेश में प्राथमिक सहायक अध्यापकों की भर्ती एक निर्धारित चयन प्रक्रिया के माध्यम से एस डी एम के साक्षात्कार के बाद की गई ।  भर्ती में विज्ञापन के माध्यम से सभी को सूचित किया गया तथा योग्य उम्मीदवारों से आवेदन मांगे गए। तत्पश्चात एसडीएम के नेतृत्व में मैरिट के आधार पर योग्यतम उम्मीदवारों का चयन किया गया। उन्होंने कहा कि प्राथमिक सहायक अध्यापकों की भर्ती में ग्रामीण विद्या उपासकों की भर्ती प्रक्रिया को ही अपनाया गया लेकिन सभी ग्रामीण विद्या उपासक  सरकार द्वारा 2012 में नियमित कर दिए गए , जिसका संघ स्वागत करता है मगर सरकार ने 3400 प्राथमिक सहायक अध्यापकों को नियमित न कर उनसे सौतेला व्यवहार किया है ,जिससे पैट अध्यापक अपने भविष्य को लेकर बेहद चिंतित है। संघ के प्रदेश अध्यक्ष रजत शर्मा  ने कहा कि  प्राथमिक विद्यालयों में इससे पूर्व भी इस प्रकार की भर्तियां सरकार करती रही है तथा सभी को क्रमबद्ध तरीके से नियमित कर दिया गया लेकिन अभी तक 3400 प्राथमिक सहायक अध्यापकों का भविष्य अधर में लटका है। विशेष बात यह भी है कि प्राथमिक सहायक अध्यापकों की नियुक्ति में पूरे प्रदेश के अंदर सरकार द्वारा एक निश्चित रोस्टर प्रक्रिया को भी अपनाया गया तथा एक पारदर्शी तरीके से इनका चयन हुआ है। पैट के अध्यक्ष रजत शर्मा ने सभी प्राथमिक सहायक अध्यापकों को विश्वास दिलाया कि  वर्तमान सरकार उनकी  मुद्दे पर गम्भीर है और संघ आश्वस्त हैं कि आगामी 19 तारीख की मंत्रिमंडल की बैठक में 3400 प्राथमिक सहायक अध्यापकों को नियमितीकरण का तोहफा देगी।
पैट के अध्यक्ष रजत शर्मा ने प्रदेश सरकार से आग्रह किया कि सभी प्राथमिक सहायक अध्यापकों को नियमितीकरण का तोहफा ग्रामीण विद्या उपासकों की तर्ज पर 19 तारीख कि मंत्रिमंडल की बैठक में दिया जाए। यह सभी अध्यापक कनिष्ट बुनियादी अध्यापक के पद के लिए सभी प्रकार की योग्यताएं पूरी करते हैं।  पैट अध्यापकों ने वर्तमान सरकार  के मुख्यमंत्री  जयराम ठाकुर  तथा  शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज पर विश्वास भी व्यक्त किया  कि आगामी 19 तारीख की मंत्रिमंडल की बैठक में सरकार सभी प्राथमिक सहायक अध्यापकों को नियमितीकरण का तोहफा प्रदान कर इनके 16 वर्ष के बनवास को समाप्त करेंगे तथा इनके  भविष्य को सुरक्षित करेगी।
Have something to say? Post your comment
 
और राज्य खबरें
महाकालेश्वर मंदिर में  शिवरात्रि के उपलक्ष्य पर भंडारे आयोजन  लोगों ने पुल की रेलिंग पर जालियां लगाने की मांग की 4 करोड़ रुपए से बनेगा बरनोह-रैंसरी बाईपासः वीरेंद्र कंवर करण औजला लगाएंगे ‘पंजाबी तड़का थिरकन में दिखेगी हिमाचली संस्कृति की झलक क्रिकेटर मिताली राज ने नशे के विरुद्ध साइक्लोथॉन को दिखाई हरी झंडी फरवरी: हिमाचल प्रदेश सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग ने लोगो को किया जागरूक किसानों के खेतों में जाकर काम करें विभाग के अधिकारीः वीरेंद्र कंवर  प्रदेश को स्वच्छ बनाए रखने के लिए लोगों की सहभागिता आवश्यक 12 हजार लोगों को रोजगार प्रदान कर रही हैं लघु औद्योगिक इकाईयां निरमंड खंड की पहली पसंद बने एंकर अजीत डोगरा