Saturday, February 27, 2021
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
https://youtu.be/XtZXmzukedcनगर निगम के चुनाव पार्टी चिन्ह पर करवाए जाने का कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राठौर ने किया स्वागतशराब और भांग का नशा ऐसा छाया की साधु ने तोड़े गाड़ी के शीशे,https://youtu.be/j8Ck3V67CNAफिर लोगों ने की जमकर पिटाईसुबह सुबह अवैध रूप से बिजली का प्रयोग करते विद्युत विभाग ने एक आरोपी दबोचा बड़ी खबर :एसजेवीएन अंतर्राष्ट्रीय सौर एलाईंस में शामिल हुआहमीरपुर जिला में हर्षोल्लास से मनाया गया 72वां गणतंत्र दिवस समारोह, शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने की जिला स्तरीय समारोह की अध्यक्षता, राष्ट्रध्वज फहराकर मार्चपास्ट की सलामी लीसमीक्षा : वार्ड पंच से लेकर जिला परिषद तक पटक डाले जनता ने , हेकड़ी , घमंड व बड़े नेताओं की धौंस हुईं जमींदोज पंचायत चुनाव : भीतरघात का ऑडियो वायरल, खूब हो रही चर्चाप्रथम चरण में हमीरपुर जिला में दिग्गजों ने किया मतदान, धूमल अनुराग ने समीरपुर , राजेंद्र राणा व अभिषेक राणा ने पटलांदर में किया मतदान
-
हिमाचल

मुख्यमंत्री ने केन्द्रीय अंतरिम बजट को बताया ऐतिहासिक

February 01, 2019 06:08 PM
 शिमला, 
 
मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने केंद्र सरकार द्वारा संसद में शुक्रवार को पेश किए गए अंतरिम बजट 2019-20 को ऐतिहासिक बताया है। उन्होंने कहा कि बजट समाज के सभी वर्गों की उम्मीदों पर खरा उतरेगा और आने वाले वर्षों के लिए देश के विकास का एजेंडा तय करेगा। उन्होंने कहा कि यह एक विकासोन्मुखी बजट है, जो देश को प्रगति और समृद्धि के पथ पर ले जाएगा।
उन्होंने कहा कि बजट में किसानों, गरीबों, महिलाओं, छात्रों, व्यापारियों और मध्यम वर्ग के लिए कई बड़ी घोषणाएं की गई हैं। इन घोषणाओं में 12 करोड़ छोटे और सीमांत किसानों के लिए प्रत्यक्ष आय समर्थन के साथ ही 10 करोड़ असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों के लिए पेंशन योजना तथा आयकर सीमा में 5 लाख रुपये तक की छूट, स्टांप शुल्क में सुधार तथा रक्षा बजट को 3 लाख करोड़ से अधिक रखा गया है जो रक्षा क्षेत्र के लिए अभी तक उच्चतम बजटीय आवंटन है।
जय राम ठाकुर ने कहा कि उत्तर पूर्वी क्षेत्रों और शिक्षा, स्वास्थ्य, बुनियादी ढांचे के लिए उच्च बजटीय आवंटन और अनुसूचित जातियों और अनुसूचित जनजातियों सहित कमजोर वर्गों के कल्याण के लिए 58,166 करोड़ रुपये की धनराशि का रिकॉर्ड आवंटन किया गया है। उन्होंने 1.5 करोड़ मछुआरों के कल्याण के लिए अलग से मत्स्य पालन विभाग बनाने के निर्णय का भी स्वागत किया।
मुख्यमंत्री ने कहा कि नई योजना ‘प्रधानमंत्री कृषि सम्मान निधि’ पीएम-किसान की घोषणा किसान परिवारों को, जिनकी 2 हेक्टेयर तक खेती योग्य भूमि है, प्रति वर्ष 6,000 रुपये की प्रत्यक्ष आय समर्थन प्रदान करने के लिए की गई है। गायों के संरक्षण व संवर्धन के लिए ‘राष्ट्रीय कामधेनु आयोग’ की स्थापना भी एक स्वागत योग्य कदम है।
उन्होंने कहा कि असंगठित क्षेत्र के कम से कम 10 करोड़ मजदूरों और श्रमिकों को पेंशन लाभ प्रदान करने के लिए एक नई योजना ‘प्रधानमंत्री श्रम-योगी मानधन’ की घोषणा की गई है, जो अगले पाँच वर्षों में दुनिया की सबसे बड़ी पेंशन योजनाओं में से एक होगी।
मुख्यमंत्री ने कहा कि जिन व्यक्तियों की सकल आय 6.50 लाख रुपये है, उन्हें किसी भी अतिरिक्त आयकर नहीं देना होगा, बशर्ते उन्होंने भविष्य निधि, निर्दिष्ट बचत और बीमा आदि में निवेश किया हो। अंतरिम बजट में 2 लाख रुपये शिक्षा ऋण में ब्याज पर, राष्ट्रीय पेंशन योजना योगदान, वरिष्ठ नागरिकों पर चिकित्सा बीमा और चिकित्सा व्यय आदि में भी अतिरिक्त छूट प्रदान की गई हैं।
 
Have something to say? Post your comment
और हिमाचल खबरें
पेदग-शिमला बस सेवा बंद होने से लोग परेशान ! आनी में भाजपा का दो दिवसीय कार्यकर्ता अभ्यास वर्ग 27 फरबरी से जल शक्ति मंत्री 28 को करेंगे शिवरात्रि मेले के प्रबंधों की समीक्षा देव नारायण फनौटी की प्राण प्रतिष्ठा में शरीक हुए विधायक किशोरीलाल सागर जिला बाल संरक्षण समिति की समीक्षा बैठक आयोजित स्वच्छ गांव हरा भरा गांव के तहत एक दिवसीय कार्यक्रम आयोजित मंडी में शिवधाम....विकास को मिलेंगे नए आयाम परियोजना प्रभावित परिवारों की घोषणा का मामला विचाराधीन  -अतिरिक्त उपायुक्त  महिला मोर्चा ने आनी व निरमण्ड में आयोजित की बैठक प्रदेश में 2.85 लाख महिलाओं को निःशुल्क गैस कुनैक्शन उपलब्ध