Wednesday, April 08, 2020
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
हिमाचल में कोरोना पॉजिटिव के 9 नए मामलेहिमाचल प्रदेश के लिए बुरी खबर, कोरोना के 4 नए मामलेब्रेकिंग : पुलिस की बड़ी कार्यवाही , ठेका सील नेरवा के जलारा से 4 जमाती गिरफ्तारहिमाचल में एक दिन में कोरोना वायरस के सात नए मामले, 10 पहुंची मरीजों की संख्या(ब्रेकिंग ) हमीरपुर : दोस्तों संग खड्ड में नहाने गया प्रवासी युवक डूबा , मौत , मौक़े पर पहुँची पुलिसमोदी जी , केवल थाली बजाने और मोमबत्ती जलाने से महामारी का सामना नहीं हो सकता : प्रेम कौशल ब्रेकिंग : लॉक डाउन ( 14 अप्रैल ) तक निजी स्कूल नहीं कर सकते मासिक फ़ीस व एडमिसन फ़ीस जमा करने की डिमांड , होगी सख़्त कार्यवाही, शिक्षा विभाग ने जारी की नोटिफ़िकेशन
-
हिमाचल

मुख्यमंत्री ने केन्द्रीय अंतरिम बजट को बताया ऐतिहासिक

February 01, 2019 06:08 PM
 शिमला, 
 
मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने केंद्र सरकार द्वारा संसद में शुक्रवार को पेश किए गए अंतरिम बजट 2019-20 को ऐतिहासिक बताया है। उन्होंने कहा कि बजट समाज के सभी वर्गों की उम्मीदों पर खरा उतरेगा और आने वाले वर्षों के लिए देश के विकास का एजेंडा तय करेगा। उन्होंने कहा कि यह एक विकासोन्मुखी बजट है, जो देश को प्रगति और समृद्धि के पथ पर ले जाएगा।
उन्होंने कहा कि बजट में किसानों, गरीबों, महिलाओं, छात्रों, व्यापारियों और मध्यम वर्ग के लिए कई बड़ी घोषणाएं की गई हैं। इन घोषणाओं में 12 करोड़ छोटे और सीमांत किसानों के लिए प्रत्यक्ष आय समर्थन के साथ ही 10 करोड़ असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों के लिए पेंशन योजना तथा आयकर सीमा में 5 लाख रुपये तक की छूट, स्टांप शुल्क में सुधार तथा रक्षा बजट को 3 लाख करोड़ से अधिक रखा गया है जो रक्षा क्षेत्र के लिए अभी तक उच्चतम बजटीय आवंटन है।
जय राम ठाकुर ने कहा कि उत्तर पूर्वी क्षेत्रों और शिक्षा, स्वास्थ्य, बुनियादी ढांचे के लिए उच्च बजटीय आवंटन और अनुसूचित जातियों और अनुसूचित जनजातियों सहित कमजोर वर्गों के कल्याण के लिए 58,166 करोड़ रुपये की धनराशि का रिकॉर्ड आवंटन किया गया है। उन्होंने 1.5 करोड़ मछुआरों के कल्याण के लिए अलग से मत्स्य पालन विभाग बनाने के निर्णय का भी स्वागत किया।
मुख्यमंत्री ने कहा कि नई योजना ‘प्रधानमंत्री कृषि सम्मान निधि’ पीएम-किसान की घोषणा किसान परिवारों को, जिनकी 2 हेक्टेयर तक खेती योग्य भूमि है, प्रति वर्ष 6,000 रुपये की प्रत्यक्ष आय समर्थन प्रदान करने के लिए की गई है। गायों के संरक्षण व संवर्धन के लिए ‘राष्ट्रीय कामधेनु आयोग’ की स्थापना भी एक स्वागत योग्य कदम है।
उन्होंने कहा कि असंगठित क्षेत्र के कम से कम 10 करोड़ मजदूरों और श्रमिकों को पेंशन लाभ प्रदान करने के लिए एक नई योजना ‘प्रधानमंत्री श्रम-योगी मानधन’ की घोषणा की गई है, जो अगले पाँच वर्षों में दुनिया की सबसे बड़ी पेंशन योजनाओं में से एक होगी।
मुख्यमंत्री ने कहा कि जिन व्यक्तियों की सकल आय 6.50 लाख रुपये है, उन्हें किसी भी अतिरिक्त आयकर नहीं देना होगा, बशर्ते उन्होंने भविष्य निधि, निर्दिष्ट बचत और बीमा आदि में निवेश किया हो। अंतरिम बजट में 2 लाख रुपये शिक्षा ऋण में ब्याज पर, राष्ट्रीय पेंशन योजना योगदान, वरिष्ठ नागरिकों पर चिकित्सा बीमा और चिकित्सा व्यय आदि में भी अतिरिक्त छूट प्रदान की गई हैं।
Have something to say? Post your comment
 
और हिमाचल खबरें
जिलाध्यक्षों के बाद ब्लाक अध्यक्षों से वीडियो कांफ्रेसिंग कर फीडबैक लेगी कांग्रेस : अभिषेक कोविड-19 के खिलाफ स्वयं मोर्चे पर डटे हैं गोविंद ठाकुर हिमाचल में कोरोना पॉजिटिव के 9 नए मामले ग्राम पंचायत मशडोंह के उप प्रधान कमलेश बेस्टा लाकडाउन में लोगो को निरंतर दे रहे है सेवाए राज्यपाल ने विश्व स्वास्थ्य दिवस पर स्वास्थ्य कर्मियों को किया सम्मानित सोलन जिला में कोविड-19 के खतरे के दृष्टिगत 1585 व्यक्ति क्वारेनटाईन में   मंत्री गोविन्द सिंह ने पेश की मानवता की नई मिसाल मड़ावग बाज़ार को किया सैनेटाइज जिला में 2,05,549 लोगों की स्वास्थ्य स्क्रीनिंग पूरी: गोविंद ठाकुर  दलीप जोशी ने एसडीएम आनी चेत सिंह को सौंपे मास्क