Sunday, May 31, 2020
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
अपडेट/ : हमीरपुर जिला में कोरोना संक्रमित के पांच नए मामले, अबतक ज़िले में कुल 20 मामले , 15 एक्टिव , 4 ठीक हुए , एक मौत ब्रेकिंग : हमीरपुर ज़िला में एक साथ कोरोना के पाँच मामले आए सामने, संक्रमितों में एक महिला भी शामिल ,ब्रेकिंग : हमीरपुर के नादौन उपमंडल की ग्वाल पत्थर पंचायत में दो व्यक्तियों के कोविड-19 संक्रमित होने की पुष्टिब्रेकिंग: मड़ावग में नेपाली मूल के युवक ने फंदा लगाकर दी जान सेवा का ईनाम : दूसरी बार डीजीपी डिस्क अवॉर्ड से सम्मानित होंगे हमीरपुर के CID इंचार्ज जगपाल सिंह जसवाल ,ख़ास ख़बर : ग़ाज़ियाबाद का एक ऐसा स्कूल जिसने लॉकडाउन में तीन माह की फ़ीस माफ़ की और टीचरों के खाते में डाली सेलरी, हिमाचल के लालची स्कूलों के लिए करारा सबक़चौपाल, नेरवा में कल बंद रहेगी बिजलीहिमाचल प्रदेश तकनीकी विश्वविद्यालय हमीरपुर में ऑनलाईन फेसबुक लाइव के माध्यम से अध्ययन केंद्र का विधिवत उद्घाटन
-
हिमाचल

बजट सत्र के पहले दिन;3142 करोड़ के अनुपूरक बजट की अनुदान मांगों को पटल पर पेश किया

February 04, 2019 09:41 PM

शिमला,
हिमाचल प्रदेश विधानसभा का बजट सत्र मंगलवार सुबह 11 बजे तक स्थगित कर दिया गया है। सीएम ने सदन में 2018-19 के लिए 3142 करोड़ के अनुपूरक बजट की अनुदान मांगों को पटल पर पेश किया। साथ ही सदन से इसे पारित करने की गुजारिश की। अनुपूरक बजट के तहत मुख्यमंत्री ने 2021 करोड़ रुपए गैर योजना, 671 स्वीकृत सरकारी योजनाओं व 449 करोड़ रुपए केंद्रीय प्रायोजित योजनाओं के लिए रखने की बात कही।

सत्र के पहले दिन सदन में कांग्रेस व भाजपा के बीच शांति बनी रही, लेकिन बाहर निकलते ही नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने भाजपा सरकार पर शब्दों से हमला किया। बजट सत्र के दौरान अभिभाषण में सरकार की एक साल की उपलब्धियों का जिक्र हुआ। इसमें जयराम सरकार के एक वर्ष को स्वर्णिम बताया गया। 

राज्यपाल के अभिभाषण के बाद पूर्व विधानसभा सदस्य जगत सिंह नेगी व शोकिया राम के निधन पर शोक प्रकट किया गया। पत्रकारों से बातचीत के दौरान नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि अभिभाषण से वो बिन्दू गायब थे, जिन्हें होना चाहिए था।

अग्निहोत्री का यह भी कहना था कि अभिभाषण में राज्यपाल ने अनचाहे मन से सरकार की एक साल की झूठी उपलब्धियों को सदन में प्रस्तुत किया। अग्निहोत्री का यह भी कहना था कि पिछले बजट में सरकार ने जिन 30 योजनाओं का जिक्र किया था, वो धरातल पर कहीं पर भी मौजूद नहीं हैं।

वहीं नेता प्रतिपक्ष के जवाब में मीडिया से मुखातिब होते हुए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि विपक्ष का काम आलोचना ही होता है। सीएम का कहना था कि विपक्ष कैसे सरकार की उपलब्धियों की प्रशंसा कर सकता है। सदन की चल रही परंपराओं के तहत राज्यपाल ने एक साल की कार्यशैली को प्रस्तुत किया।

Have something to say? Post your comment
 
और हिमाचल खबरें