Saturday, February 27, 2021
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
https://youtu.be/XtZXmzukedcनगर निगम के चुनाव पार्टी चिन्ह पर करवाए जाने का कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राठौर ने किया स्वागतशराब और भांग का नशा ऐसा छाया की साधु ने तोड़े गाड़ी के शीशे,https://youtu.be/j8Ck3V67CNAफिर लोगों ने की जमकर पिटाईसुबह सुबह अवैध रूप से बिजली का प्रयोग करते विद्युत विभाग ने एक आरोपी दबोचा बड़ी खबर :एसजेवीएन अंतर्राष्ट्रीय सौर एलाईंस में शामिल हुआहमीरपुर जिला में हर्षोल्लास से मनाया गया 72वां गणतंत्र दिवस समारोह, शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने की जिला स्तरीय समारोह की अध्यक्षता, राष्ट्रध्वज फहराकर मार्चपास्ट की सलामी लीसमीक्षा : वार्ड पंच से लेकर जिला परिषद तक पटक डाले जनता ने , हेकड़ी , घमंड व बड़े नेताओं की धौंस हुईं जमींदोज पंचायत चुनाव : भीतरघात का ऑडियो वायरल, खूब हो रही चर्चाप्रथम चरण में हमीरपुर जिला में दिग्गजों ने किया मतदान, धूमल अनुराग ने समीरपुर , राजेंद्र राणा व अभिषेक राणा ने पटलांदर में किया मतदान
-
हेल्थ और लाइफस्टाइल

स्वाईन फ्लू पर गांव-गांव जाकर जागरूक करें आशा व स्वास्थ्य कार्यकर्ता-डाॅ. दरोच

February 06, 2019 05:53 PM

सोलन, 

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग सोलन द्वारा जिले में स्वाईन फ्लू को लेकर जागरूकता शिविर आयोजित किए जा रहे हैं। इसी कड़ी में क्षेत्रीय अस्पताल सोलन सहित चिकित्सा खण्ड अर्की, सायरी, नालागढ़, धर्मपुर तथा चण्डी में संबंधित खण्ड चिकित्सा अधिकारियों ने स्वास्थ्य पर्यवेक्षकों, स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं तथा आशा कार्यकर्ताओं के लिए शिविर आयोजित किए गए। यह जानकारी मुख्य चिकित्सा अधिकारी सोलन डाॅ. आरके दरोच ने आज यहां दी।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने कहा कि तथा इन शिविरों में स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं तथा आशा कार्यकर्ताओं को गांव-गांव जाकर लोगों को स्वाईन फ्लू के बारे में जागरूक करने बारे में जानकारी प्रदान की गई।

डाॅ. दरोच ने कहा कि स्वाईन फ्लू का उपचार संभव है और यदि समय रहते रोगी अस्पताल या अन्य किसी स्वास्थ्य संस्थान में पहुंचता है तो उसका इलाज किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि कसौली स्थित केंद्रीय अनुसंधान केंद्र, आईजीएमसी शिमला, डाॅ. राजेंद्र प्रसाद मेडिकल काॅलेज टांडा तथा मंडी में स्वाईन फ्लू के परीक्षण की सुविधा उपलब्ध है।

जिला कार्यक्रम अधिकारी डाॅ. एनके गुप्ता ने लोगों से आग्रह किया है कि वे बुखार, खांसी, सिरदर्द जैसे लक्षण दिखने पर समीप के स्वास्थ्य केंद्र में चिकित्सक से अवश्य परामर्श लें ताकि समय रहते रोग का निदान किया जा सके। उन्होंने कहा कि जिले सभी सिविल अस्पतालों, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों तथा क्षेत्रीय अस्पतालों में आइसोलेशन वार्ड बनाए गए हैं जहां पीड़ित रोगियों को अलग रखने की व्यवस्था होगी।

उन्होंने कहा कि बुखार, खांसी, सिरदर्द, गला दुखना, नाक बहना, बदन दर्द, थकान, सांस लेने में कठिनाई तथा उल्टियां व दस्त होने की स्थिति में चिकित्सक से परामर्श किया जाना जरूरी है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के विभिन्न भागों में स्वाईन फ्लू के मामलों के दृष्टिगत सोलन जिला में स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा एहतियात के तौर पर सभी तैयारियां पूरी रखी गई हैं।

डाॅ. एनके गुप्ता ने कहा कि स्वाईन फ्लू एक विशेष प्रकार के इन्फ्लुएंजा-ए (एच1 एन1) वायरस से फैलता है। यह बीमारी इस वायरस से ग्रसित व्यक्ति सेे संपर्क में आने पर भी हो सकती है। उन्होंने कहा कि स्वाईन फ्लू से उपचार व बचाव संभव है और रोगी को उपरोक्त लक्षण दिखने पर तुरंत चिकित्सक से परामर्श लेना चाहिए।

उन्होंने सलाह दी कि विभिन्न लक्षण होने पर रोगी अच्छी नींद लें, शारीरिक रूप से सक्रिय रहें तथा तनाव से बचें। उन्होंने कहा कि स्वच्छ तथा अधिक मात्रा में पानी पीएं तथा पोषणयुक्त आहार लें। उन्होंने प्रभावित माताओं को परामर्श दिया कि वे शिशुओं को दूध पिलाते समय अपना मुंह मास्क से ढक कर रखें।

उन्होंने कहा कि संक्रमित व्यक्तियांे से न तो हाथ मिलाएं, न गले मिलें और न ही किसी अन्य प्रकार का संपर्क बढ़ाएं। उन्होंने कहा कि चिकित्सक के परामर्श के बिना कोई दवा न लें। बच्चों, गर्भवती महिलाओं, बुजुर्गों, मधुमेह एवं दमे से पीड़ित रोगियों को स्वाईन फ्लू होने का खतरा अधिक रहता है।

उन्होंने लोगों से आग्रह किया है कि स्वाईन फ्लू से भयभीत न हों और अपने समीप के स्वास्थ्य केंद्र में आवश्यकता पड़ने पर तुरंत परामर्श लें ताकि संभावित रोगी को उपचार देकर ठीक किया जा सके।

 
Have something to say? Post your comment
और हेल्थ और लाइफस्टाइल खबरें
मड़ावग में आयुर्वेद शिविर का आयोजन, 300 से अधिक मरीज़ो की मुफ्त में जांच 28 दिन का अंतरात पूर्ण करने वाले हैल्थकेयर स्टाफ को लगाई जा रही टीकाकरण की दूसरा खुराक कुंभ मेले में जाने वाले श्रद्धालुओं के लिए एसओपी जारी, कोविड टेस्ट जरूरीः डीसी  नाथपा झाकड़ी हाइड्रो पावर स्टेशन में 181 लोगों ने किया रक्तदान सोलन जिला में 19186 बच्चों को घर-घर जाकर पिलाई गई पोलियो दवा स्वास्थ्य विभाग और आयुर्वेद विभाग द्वारा लगाए गए शिविरों में 325 लोगों के स्वास्थ्य की जांच  0 से 05 वर्ष तक के बच्चों को पिलाई गई पोलियो दवा ’रिवालसर में नौनिहालों को पिलाई पोलियो ड्राप्स’ कुष्ठ रोग के सम्बन्ध में जागरूकता शिविर आयोजित टीबी रोगियों को चिन्हित करने के लिए जिला ऊना में 8 फरवरी से सर्वेः डीसी