Monday, May 25, 2020
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
अपडेट/ : हमीरपुर जिला में कोरोना संक्रमित के पांच नए मामले, अबतक ज़िले में कुल 20 मामले , 15 एक्टिव , 4 ठीक हुए , एक मौत ब्रेकिंग : हमीरपुर ज़िला में एक साथ कोरोना के पाँच मामले आए सामने, संक्रमितों में एक महिला भी शामिल ,ब्रेकिंग : हमीरपुर के नादौन उपमंडल की ग्वाल पत्थर पंचायत में दो व्यक्तियों के कोविड-19 संक्रमित होने की पुष्टिब्रेकिंग: मड़ावग में नेपाली मूल के युवक ने फंदा लगाकर दी जान सेवा का ईनाम : दूसरी बार डीजीपी डिस्क अवॉर्ड से सम्मानित होंगे हमीरपुर के CID इंचार्ज जगपाल सिंह जसवाल ,ख़ास ख़बर : ग़ाज़ियाबाद का एक ऐसा स्कूल जिसने लॉकडाउन में तीन माह की फ़ीस माफ़ की और टीचरों के खाते में डाली सेलरी, हिमाचल के लालची स्कूलों के लिए करारा सबक़चौपाल, नेरवा में कल बंद रहेगी बिजलीहिमाचल प्रदेश तकनीकी विश्वविद्यालय हमीरपुर में ऑनलाईन फेसबुक लाइव के माध्यम से अध्ययन केंद्र का विधिवत उद्घाटन
-
धर्म संस्कृति

दियोटसिद्व में चैत्र नवरात्र मेले 14 मार्च से

रजनीश शर्मा | February 08, 2019 04:16 PM
 
           
हमीरपुर, 
उत्तर भारत की विख्यात सिद्वपीठ दियोटसिद्व में चैत्र नवरात्रे 14 मार्च से आरंभ होंगे, मेले की तैयारियों को लेकर प्रशासनिक अधिकारियों की एक आवश्यक बैठक शुक्रवार को उपायुक्त डा ऋचा वर्मा की अध्यक्षता में उपायुक्त कार्यालय में आयोजित की गई।
      उपायुक्त डा ऋचा वर्मा ने कहा कि एक माह तक चलने वाले चैत्र मेलों के दौरान दियोटसिद्व में श्रद्वालुओं की सुरक्षा के लिए पुलिस तथा होमगार्ड के जवानों को तैनात किया जाएगा ताकि किसी भी स्तर पर कोई अप्रिय घटना नहीं हो सके। 
    उन्होंने कहा कि इस बार चैत्र मेलों में स्वच्छता का विशेष ध्यान रखा जाएगा तथा जगह जगह पर कूड़ादान रखे जाएंगे जबकि अस्थाई तौर पर श्रद्वालुओं की सुविधा के लिए अस्थाई शौचालय ब्लाक व स्नानागर भी बनाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि बैठक में निर्णय लिया गया है कि यात्रियों की सुविधा के लिए स्क्रॉलिंग स्क्रीन भी स्थापित की जाएगी ताकि श्रद्वालुओं को मंदिर परिसर के बारे में आवश्यक जानकारी मिल सके। 
    उन्होंने कहा कि शाहतलाइ से दियोटसिद्व के लिए एचआरटीसी द्वारा मिनी बसें चलाई जाएंगी तथा इसके साथ ही शाहतलाई से दियोटसिद्व के लिए टैक्सी सेवा भी उपलब्ध रहेगी तथा बैठक में निर्णय लिया गया है। उन्होंने कहा कि दियोटसिद्व में यातायात को सुचारू रखने के लिए पार्किंग स्थल भी निर्धारित किए जाएंगे। 
   उपायुक्त ने कहा कि चैत्र नवरात्रों के दौरान मंदिर परिसर श्रद्वालुओं के लिए चौबीस घंटे खुला रहेगा। उपायुक्त ने आईपीएच विभाग के अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि मेलों के दौरान पेयजल व्यवस्था को सुचारू बनाए रखें तथा पेयजल का क्लोरीनेशन भी आवश्यक है। मंदिर परिसर में एंबुलेंस के साथ साथ चिकित्सकों की भी तैनाती की जाएगी। 
   उन्होंने कहा कि श्रद्वालुओं की सुविधा के लिए साइनबोर्ड तैयार करने के भी दिशा निर्देश दिए गए हैं। इससे पहले एसडीएम बड़सर विशाल शर्मा ने उपायुक्त का स्वागत करते हुए चैत्र नवरात्रों की तैयारियों को लेकर आवश्यक जानकारी प्रदान की गई। इस अवसर एसपी अर्जित सेन, एडीसी रतन गौतम भी उपस्थित थे।
Have something to say? Post your comment