Monday, February 24, 2020
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को जाता है बदला-बदली के दौर को ख़त्म करने का श्रेय : नरेंद्र ठाकुरब्रेकिंग : शिक्षा विभाग उठाएगा एसिड पीड़ित छात्राओं के इलाज का ख़र्च , जाँच के बाद निष्कासित होगा आरोपित छात्र , पीड़ित परिवार को नहीं मिली एफ़आईआर की कॉपी(ब्रेकिंग) हमीरपुर : मर्डर केस में पुलिस के हत्थे चढ़ा आरोपी आमिर खान, गिरफ़्तारी के बाद पुलिस ने तेज़ की जाँच Breaking News : नारकंडा में कार दुर्घटनाग्रस्त एक की मौतएसिड प्रकरण : आरोपी के ख़िलाफ़ रविवार को एफ़आईआर नंबर 13/2020 दर्ज, उटपुर पीएचसी से पुलिस ने लिए एमएलसी, आई जाँच में तेज़ी।एसिड प्रकरण : राम भरोसे सरकारी स्कूलों की विज्ञान प्रयोगशालाएँ , चपड़ासी से प्रोमोट हो लैब अटेंडेंट दे रहे सेवाएँ, हाई स्कूलों में नहीं है लैब अटेंडेंट की पोस्टअपडेट: एसिड पीड़िता शिवांगी का बयान लिख वापिस लौटी पुलिस, आज स्कूल प्रशासन से होगी पूछताछ, सिर्फ़ उटपुर में ही हुआ पीड़िता का इलाज, टौणी देवी या हमीरपुर में इलाज की ख़बरें निकली झूठीसरकाघाट राजदेई वृद्धा मामला : हाई कोर्ट से राहत मिली एक आरोपी को , गाँव में घुसे 23, राजदेई भी बेटी संग बड़ा समाहल में, जान को ख़तरा
-
कर्मचारी

एचआरटीसी पेंशनर ने नियमित पेंशन बहाली को लेकर खोला सरकार के खिलाफ मोर्चा

ब्यूरो | June 02, 2019 04:25 PM

शिमला,


प्रदेश के 6000 एचआरटीसी के पेंशनर ने नियमित पेंशन बहाली को लेकर सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। एचआरटीसी सेवानिवरित कर्मचारी कल्याण के अध्यक्ष राजिन्दर पाल ने रविवार को शिमला में आयोजित एक पत्रकार वार्ता में कहा कि सकरार एचआरटीसी पेंशनरों के साथ पशुओं जैसा ब्यौहार कर रही है। उन्होंने कहा कि पेंशनर को 2013 के बाद आज तक नियमित रूप से एक तिथि को पेंशन नही आई है।उन्होंने कहा कि की महीने में कभी 28 को कभी 25 को पेंशन आती है जबकि पहले 1,या 2 को पेंशन मिल जाती थी । उन्होंने कहा कि पेंशनरों का डीए व आईआर 2 साल से पेन्डिंग है अभी तक नही मिला है। संगठन ने सरकार से मांग की है कि उन्हें नियमति रूस से एक तिथि को पेशंन दिया जाए और डीए व आईआर भी दिया जाए जो रुका हुआ है
राजिन्दर पाल ने कहा कि यदि सरकार उनकी मांगे नही मानती तो 14जून को ओल्ड बस अड्डे पर 11से 3बजे तक धरना दिया जाएगा । और यदि फिर भी मांगे नही मानी तो भूख हड़ताल व आत्मदाह भी किया जाएगा।

Have something to say? Post your comment
 
और कर्मचारी खबरें