Saturday, February 27, 2021
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
https://youtu.be/XtZXmzukedcनगर निगम के चुनाव पार्टी चिन्ह पर करवाए जाने का कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राठौर ने किया स्वागतशराब और भांग का नशा ऐसा छाया की साधु ने तोड़े गाड़ी के शीशे,https://youtu.be/j8Ck3V67CNAफिर लोगों ने की जमकर पिटाईसुबह सुबह अवैध रूप से बिजली का प्रयोग करते विद्युत विभाग ने एक आरोपी दबोचा बड़ी खबर :एसजेवीएन अंतर्राष्ट्रीय सौर एलाईंस में शामिल हुआहमीरपुर जिला में हर्षोल्लास से मनाया गया 72वां गणतंत्र दिवस समारोह, शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने की जिला स्तरीय समारोह की अध्यक्षता, राष्ट्रध्वज फहराकर मार्चपास्ट की सलामी लीसमीक्षा : वार्ड पंच से लेकर जिला परिषद तक पटक डाले जनता ने , हेकड़ी , घमंड व बड़े नेताओं की धौंस हुईं जमींदोज पंचायत चुनाव : भीतरघात का ऑडियो वायरल, खूब हो रही चर्चाप्रथम चरण में हमीरपुर जिला में दिग्गजों ने किया मतदान, धूमल अनुराग ने समीरपुर , राजेंद्र राणा व अभिषेक राणा ने पटलांदर में किया मतदान
-
देश

गृह मंत्री अमित शाह आज लोकसभा में पेश करेंगे पहला बिल

June 24, 2019 11:24 AM

दिल्ली ,
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह सोमवार को जम्मू-कश्मीर आरक्षण संशोधन विधेयक लोकसभा में पेश करेंगे। लोकसभा के लिए निर्वाचित होने के बाद संसद में यह उनका पहला विधायी कार्य होगा। भाजपा अध्यक्ष बिल पेश करने के बाद निचले सदन में अपना पहला भाषण भी देंगे, जिसे पहले अध्यादेश के रूप में लागू किया गया था।

बता दें 28 फरवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्‍यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने संविधान (जम्‍मू-कश्‍मीर में लागू होने के लिए) संशोधन आदेश, 2019 के माध्‍यम से संविधान (जम्‍मू-कश्‍मीर में लागू होने के लिए) आदेश, 1954 में संशोधन के संबंध में जम्‍मू-कश्‍मीर सरकार के प्रस्‍ताव को अपनी मंजूरी दे दी थी।

 

इससे राष्‍ट्रपति द्वारा अनुच्‍छेद 370 की धारा (1) के अंतर्गत जारी संविधान (जम्‍मू-कश्‍मीर में लागू होने के लिए) संशोधन आदेश, 2019 द्वारा संविधान (77वां संशोधन) अधिनियम, 1955 तथा संविधान (103वां संशोधन) अधिनियम, 2019 से संशोधित भारत के संविधान के प्रासंगिक प्रावधान लागू होंगे।
क्या होगा प्रभाव
यह आदेश सरकारी सेवाओं में अनुसूचित जातियों, अनुसूचित जनजातियों को पदोनत्ति में लाभ दिलाएगा और जम्‍मू-कश्‍मीर में सरकारी रोजगार में वर्तमान आरक्षण के अतिरिक्‍त आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के लिए 10 प्रतिशत तक आरक्षण का लाभ प्रदान करेगा।

संविधान (77वां संशोधन) अधिनियम 1955 को भारत के संविधान के अनुच्‍छेद 16 की धारा 4 के बाद धारा (4ए) जोड़कर लागू किया गया। धारा (4ए) में सेवा में अनुसूचित जातियों तथा जनजातियों को पदोन्‍नति लाभ देने का प्रावधान है। संविधान (103वां संशोधन) अधिनियम 2019 देश में जम्‍मू और कश्‍मीर को छोड़कर लागू किया गया है और जम्‍मू-कश्‍मीर तक अधिनियम के विस्‍तार से राज्‍य के आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों को आरक्षण का फायदा मिलेगा।

 
Have something to say? Post your comment
और देश खबरें
विराट कवयित्री परिवार समिति ने बसंत पंचमी पर ऑनलाइन काव्य गोष्ठी आयोजित चहू ओर उड़ती धूल में कैसा वसंत;मधु सोसि शीर्षक साहित्य परिषद (भोपाल) राँची शाखा की वार्षिक काव्य गोष्ठी संपन्न नाथपा झाकड़ी हाइड्रो पावर स्टेशन ने “शहीदों” को याद किया श्री साहित्य कुंज की प्रथम स्थापना पर संगीत सहाय 'अनुभूति' की "अनुभूति सृजन" पुस्तक का लोकार्पण 1500 मे0वा0 के नाथपा झाकड़ी हाइड्रो पावर स्टेशन में गणतंत्र दिवस धूमधाम से मनाया भारत की जांच क्षमता में तेजी से वृद्धि; कुल जांच संख्या 13.5 करोड़ तक पहुंची लोकतांत्रिक व्‍यवस्‍था में बातचीत ही वह सर्वश्रेष्‍ठ माध्‍यम है जो विचार-विमर्श को विवाद में परिणत नहीं होने देता: राष्‍ट्रपति कोविंद Happy Diwali अच्छी खबर : अब मज्याठ वार्ड के बाशिंदों को नहीं रहना होगा एम्बुलेंस रोड से वंचित