Monday, February 17, 2020
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
टौणी देवी स्कूल की चारदीवारी को उपायुक्त से 25 लाख रुपए मिले, प्रिंसिपल व एसएमसी ने जताया आभारसमीरपुर की दहलीज़ से मिला देशभक्ति का पाठ आज भी याद रखते हैं अनुराग ठाकुर, मिलने वालों का लगा रहा ताँता हमीरपुर : हादसे में न सीखने वाला बचा न सिखाने वाला , पहाड़ी से लुढ़की नई इनोवा गाड़ीप्रेम कौशल ने कहा : “गाली गलौज की राजनीति बंद करने पर सीएम जयराम का स्वागत, अन्य भाजपा नेता भी लें सबक़”हमीरपुर : जेबीटी कमीशन में बीएड को शामिल करने का विरोध, धरना प्रदर्शन कर उपायुक्त के माध्यम से भेजे ज्ञापन हमीरपुर के सीआईडी इंचार्ज जगपाल सिंह जसवाल प्रेज़िडेंट पुलिस मेडल से सम्मानित, ऊना के चुरड़ू गाँव से हैं सम्बंधितये हाथ हमको दे दे ठाकुरआसमान की बुलंदियों पर उड़ता नजर आएगा मडावग का विक्रम !
-
कारोबार

टाटा ग्रुप ने हिमाचल में चुनिंदा क्षेत्रों में निवेश की इच्छा जताई

हिमालयन अपडेट ब्यूरो | June 27, 2019 10:16 PM
मुंबई में हिमाचल के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर टाटा के चेयरमैन रतन टाटा से भेंट करते हुएl

शिमला,                  

 

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने मुम्बई में टाटा ट्रस्ट के अध्यक्ष  रतन टाटा से मुलाकात की तथा उनसे प्रदेश में निवेश की संभावनाओं पर विस्तार से चर्चा की।

मुख्यमंत्री ने  टाटा से प्रदेश में विशेषकर पर्यटन, आई.टी, इलैक्ट्रीक वाहन के निर्माण जैसे क्षेत्रों में निवेश की संभावनाओं पर विचार करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि क्योंकि देशभर में डीजल व पेट्रोल वाहनों के प्रयोग को कम करके इलैक्ट्रीक वाहनों को प्राथमिकता प्रदान की जा रही है जिसके कारण ऐसे वाहनों के निर्माण की व्यापक संभावनाएं विद्यमान है।

मुख्यमंत्री ने टाटा ग्रुप से हिमाचल प्रदेश में बद्दी, परवाणू तथा नालागढ़ जैसे औद्योगिकी स्थल जोकि रेलवे सुविधा से जुड़े हुए है, ऐसे स्थलों में इलैक्ट्रीक वाहनों के निर्माण में निवेश के लिए आमंत्रित किया।

उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश सरकार राज्य में निवेश के इच्छुक उद्यमियों के लिए अनेक सुविधाएं प्रदान कर रही है। इनमें भूमि बैंक, निर्वाध विद्युत आपूर्ति तथा जिम्मेवार प्रशासन जैसी ऐसी विशेषताएं है जो अन्य राज्यों से इस प्रदेश को विशेष बनाती है।

 टाटा ने मुख्यमंत्री को आश्वासन दिया कि नवम्बर माह में होने वाली इंवेस्टर मीट से पहले टाटा ग्रुप के चेयरमेन की अध्यक्षता में हिमाचल सरकार के साथ एक संयुक्त टास्टफोर्स गठित की जाएगी ताकि प्रदेश में निवेश की संभावनाओं पता लगाया जा सके। उन्होंने यह भरोसा दिया कि टाटा सन्ज निश्चित तौर पर हिमाचल प्रदेश में कुछ चुनिंदा क्षेत्रों में निवेश के लिए आगे आएगा।

उद्योग मंत्री ब्रिकम सिंह, अतिरिक्त मुख्य सचिव डॉ. श्रीकांत बाल्दी,राम सुभग सिंह, मनोज कुमार, प्रधान सचिव प्रबोध सक्सेना, निदेशक उद्योग हंस राज शर्मा, विशेष सचिव आबिद हुसैन सादिक और मुख्यमंत्री के प्रधान निजी सचिव विनय सिंह भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

Have something to say? Post your comment
 
और कारोबार खबरें
हिमाचल सरकार ने 10095 करोड़ के समझौता ज्ञापनों पर हस्ताक्षर किए मर्जर के खिलाफ देश भर में आज बैंक रहे बंद बंजार के बागबान पदम देव ने अनार से की आर्थिकी सुदृढ़ हाईब्रीड मक्की बीज ने मालामाल किए किसान,सुदृड़ हुई आर्थिकी उद्योग मंत्री ने जीएसटी परिषद की 37वीं बैठक में भाग लिया कॉर्पोरेट टैक्स को घटाकर 22 प्रतिशत किए जाने का निर्णय सराहनीयः मुख्यमंत्री कार्यशाला के बाद प्रतिष्ठित महिलाओं ने सूरज स्वीट्स एवं रेस्टोरेंट में किया लंच , जमकर की तारीफ केसीसी बैंक ने बरोहा में लगाया वित्तिय साक्षरता शिवि आज़ादी दिवस और रक्षा बंधन के लिए बाज़ारों में दिखा जोश सेब सीजन को लेकर प्रशासन ने कसी कमर