Tuesday, March 02, 2021
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
https://youtu.be/XtZXmzukedcनगर निगम के चुनाव पार्टी चिन्ह पर करवाए जाने का कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राठौर ने किया स्वागतशराब और भांग का नशा ऐसा छाया की साधु ने तोड़े गाड़ी के शीशे,https://youtu.be/j8Ck3V67CNAफिर लोगों ने की जमकर पिटाईसुबह सुबह अवैध रूप से बिजली का प्रयोग करते विद्युत विभाग ने एक आरोपी दबोचा बड़ी खबर :एसजेवीएन अंतर्राष्ट्रीय सौर एलाईंस में शामिल हुआहमीरपुर जिला में हर्षोल्लास से मनाया गया 72वां गणतंत्र दिवस समारोह, शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने की जिला स्तरीय समारोह की अध्यक्षता, राष्ट्रध्वज फहराकर मार्चपास्ट की सलामी लीसमीक्षा : वार्ड पंच से लेकर जिला परिषद तक पटक डाले जनता ने , हेकड़ी , घमंड व बड़े नेताओं की धौंस हुईं जमींदोज पंचायत चुनाव : भीतरघात का ऑडियो वायरल, खूब हो रही चर्चाप्रथम चरण में हमीरपुर जिला में दिग्गजों ने किया मतदान, धूमल अनुराग ने समीरपुर , राजेंद्र राणा व अभिषेक राणा ने पटलांदर में किया मतदान
-
कारोबार

उद्योग मंत्री ने जीएसटी परिषद की 37वीं बैठक में भाग लिया

हिमालयन अपडेट ब्यूरो | September 21, 2019 01:05 PM

केन्द्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बैठक की अध्यक्षता की।

शिमला           

उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश एक पर्वतीय राज्य है और यहां की भौगोलिक स्थिति अन्य राज्यों से भिन्न हैं। हमारे प्रदेश में सीमित संसाधन है। प्रदेश में ज्यादा बड़े व्यापारिक केन्द्र नहीं है। जीएसटी के एक मूल सिद्धांत के अनुसार ‘बिजनेस टू कंज्यूमर’ की व्यवस्था के तहत कर प्राप्ति का अधिकार बनता है, जिससे हमारा प्रदेश वंचित है।

उद्योग मंत्री ने कहा कि प्रदेश में बड़े व्यापार उद्योग न होने के कारण प्रदेश के लोग प्रदेश में उपयोग होने वाली बड़ी मशीनरी, कंमर्शियल व घरेलू वाहन, फास्ट मूविंग कंज्यूमर गुडज इत्यादि की खरीद प्रदेश के साथ लगते बड़े महानगरों दिल्ली, चण्डीगढ़, पंजाब से करते हैं, जिससे प्रदेश के हिस्से में आने वाले जीएसटी का लाभ प्रदेश को नहीं मिल पाता जो कि जीएसटी की मूल भावना के विरूद्ध है।

उन्होंने प्रदेश के हितों की रक्षा की बात को दोहराते हुए कहा कि प्रदेश की आर्थिक स्थिति को और अधिक सुदृढ़ करने के लिए विभिन्न मामले केन्द्र सरकार से उठाए हैं। उद्योग मंत्री ने बैठक में कहा कि जीएसटी प्रणाली के तहत सभी प्रकार का कर सभी खरीद पर होना चाहिए, किंतु हमें ये अधिकार नहीं मिल पा रहा है।

उद्योग मंत्री ने बैठक की अध्यक्षता कर रही देश की केन्द्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण एवं उपस्थित केन्द्रीय वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर से अनुरोध किया कि प्रदेश में जीएसटी के मूल सिद्धांत एजैंडा आईटम नम्बर 7 (III) के अनुसार पूर्ण अधिकार का अनुमोदन करने का अनुरोध किया।

उद्योग मंत्री बिक्रम सिंह ने केन्द्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को कुल्लू शॉल और कांगड़ा चाय भी भेंट की।

इस बैठक में प्रधान सचिव (आबकारी एवं कराधान) संजय कुंडू व आवकारी कराधान आयुक्त डॉ. अजय शर्मा उपस्थित थे।

 
Have something to say? Post your comment
और कारोबार खबरें
बड़ी खबर :एसजेवीएन अंतर्राष्ट्रीय सौर एलाईंस में शामिल हुआ त्रिमंडल ने लक्ष्‍मी विलास बैंक के डीबीएस बैंक इंडिया लिमिटेड में विलय की योजना को मंजूरी दी टुटु व्यापार मंडल ने ऑनलाइन कंपनीयों को होम डिलीवरी की छूट देने पर सरकार को घेरा सरकार द्वारा दूध के दाम बढ़ाने पर जताया आभार एसजेवीएन ने अरुणाचल प्रदेश की संभावित जलविद्युत क्षमता के दोहन में रुचि व्‍यक्‍त एसजेवीएन सर्वश्रेष्‍ठ जलविद्युत कंपनी के सीबीआईपी अवार्ड 2020 से सम्मानित हिमाचल सरकार ने 10095 करोड़ के समझौता ज्ञापनों पर हस्ताक्षर किए मर्जर के खिलाफ देश भर में आज बैंक रहे बंद बंजार के बागबान पदम देव ने अनार से की आर्थिकी सुदृढ़ हाईब्रीड मक्की बीज ने मालामाल किए किसान,सुदृड़ हुई आर्थिकी