Saturday, July 11, 2020
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
नादौन पुलिस स्टेशन हिमाचल का सर्वश्रेष्ठ थाना घोषित , 47 पंचायतों की क़रीब एक लाख जनता को बेहतर सुरक्षा, व 19 मानकों पर तय हुई रैंकिंगब्रेकिंग: कलयुगी दादा ने अपनी 9 साल की पोती को बनाया हवस का शिकारशहादत : तिरंगे में लिपटे अमर शहीद अंकुश के पार्थिव शरीर को देख बिलख उठे हमीरपुरवासी, आसमान भी रोया, राजकीय सम्मान के साथ दी गई अंतिम विदाई , सीएम कल मिलेंगे परिजनों से तिरंगे में लिपटे अमर शहीद अंकुश का पार्थिव शरीर ले आज 10 बजे लेह से चण्डीगढ़ के लिए उड़ान भरेगा विशेष विमान, क़ड़ोहता के बरसेला नाला में होगी राष्ट्रीय सम्मान के साथ अंतिम विदाईअंकुश की शहादत से हमीरपुर गमगीन, हमीरपुर जिला के कड़ोहता ( भोरंज उपमंडल)का वीर सैनिक अंकुश शहीद हुआ , कड़ोहता में बेसब्री से हो रहा शहीद के पार्थिव देह का इंतज़ार ब्रेकिंग ) हमीरपुर : मानसिक परेशानी से घर से ग़ायब युवक की सातवें दिन जंगलबेरी में मिली डेड बॉडी,ब्रेकिंग : जिला सोलन के अर्की में कोरोना का पहला मामला आने से हड़कंप ब्रेकिंग: कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति गुरुग्राम से सीधे पहुंचा अस्पताल, मेडिकल कॉलेज नेरचौक में मची अफरातफरी
-
क्राइम

आनी में नावालिग बच्चों को अगवा करने का प्रयास

हिमालयन अपडेट ब्यूरो | October 15, 2019 02:40 PM
 आनी,

 

उपमण्डल मुख्यालय में किन्हीं बाहरी लोगों द्वारा पैसों का लालच देकर दो नाबालिग बच्चों को अगवा करने का सनसनीखेज मामला प्रकाश में आया है।बच्चों के परिजनों ने इस संदर्भ में पुलिस थाना में शिकायत दर्ज कर बच्चों की सुरक्षा की गुहार लगाई है।जानकसरी के अनुसारर आनी कस्बे के रहने वाले दो बच्चों भूपेश और शुभम जिनकी उम्र 12 से 15 साल के बीच है, ने परिजनों को बताया कि उन्हें किसी यूपी नम्बर की काली बड़ी गाड़ी में तीन लोग पैसों का लालच देकर कुछ दूरी तक ले गए। जहां बराड़ नामक स्थान के पास गाड़ी रोक कर जब तीनों आपस मे इन्हें यूपी ले जाने की बातें कर रहे थे,तभी ये दोनों बच्चे किसी तरह से मुस्तैदी दिखाकर गाड़ी से कूदे और झाड़ियों में छिपते छिपाते घर पहुंच गए। वहीं बच्चों की आपबीती सुनने के बाद घबराये परिजनों ने पुलिस थाना आनी जाकर सूचना दी। जिसके बाद पुलिस ने मामले की गम्भीरता को देखते हुए छानबीन शुरू कर दी है।

उधर इस बारे में एसपी कुल्लू गौरव सिंह ने बतया कि आनी के मेला मैदान से दो बच्चों के अपहरण के प्रयास मामले में पुलिस की प्राथमिक छानबीन में बच्चों के बयानों के अलावा ऐसा कोई सुराग नहीं लगा है, जिससे कि इस घटना को सही माना जाए।

एसपी कुल्लू गौरव सिंह ने बताया कि पुलिस ने सोमवार को कस्बे के अलावा आसपास के सभी सीसीटीवी कैमरों की फुटेज को भी खंगाला और ऐसी कोई भी यूपी नम्बर की काली गाड़ी आनी क्षेत्र से आती या जाती नहीं पाई गई। जबकि पुलिस इस घटना के हर पहलू की छानबीन करने में जुटी है। वहीं बच्चों को भी घटना स्थल ले जाकर अपहरण की कोशिश के क्राइम सीन को रीक्रिएट किया जाएगा। जिसके बाद सच सामने आ सकता है। जबकि पुलिस ने लोगों को फिर भी सजग रहने को कहा है। साथ ही बाहरी राज्यों से आये लोगों को पुलिस थाना में एंट्री करवाने और मकान मालिकों को अपने वाहरी किरायेदारों की एंट्री पुलिस थाना में करवाने की हिदायत दी गयी है।

Have something to say? Post your comment
और क्राइम खबरें