Monday, July 22, 2024
Follow us on
ब्रेकिंग न्यूज़
एसजेवीएन की अध्‍यक्षता में नगर राजभाषा कार्यान्‍वयन समिति, शिमला (कार्यालय-2) की छमाही बैठक का आयोजनअंतरराष्ट्रीय मिंजर मेले में सांस्कृतिक  कार्यक्रमों के लिए  ऑडिशन आरंभ ऊना जिला प्रशासन की पर्यावरण संरक्षण को प्रेरणात्मक पहल लोगों को निशुल्क बांटे 1100 पौधेमुख्यमंत्री ने देहरा विधानसभा क्षेत्र के विभिन्न प्रतिनिधिमंडलों से भेंट कीप्रतिस्पर्धा के युग में शिक्षा की भूमिका महत्वपूर्ण - डॉ. शांडिललंबलू में कुर्सी को लेकर पंचायत प्रधान और उपप्रधान के बीच उपजा विवाद, पंचायत सदस्यों सहित कोरम का किया बहिष्कारग्रामीण विकास एवं पंचायती राज विभाग के विकास कार्यों की समीक्षा बैठक आयोजितशपथ ग्रहण समारोह में मुख्यमंत्री ने नवनिर्वाचित विधायकों को शुभकामनाएं दीं
-
विशेष

https://youtu.be/U5lB4UoSEWs कोरोना महामारी के दौरान संजौली PHC में मुफ्त सेवा कर मीनाक्षी दे रही है सेवा का सन्देश |

-
के.जम्वाल 7018631199 | May 04, 2021 04:18 PM

शिमला,

देश भर पर कोरोना का कहर जारी है। हिमाचल भी इससे अछूता नहीं है और देश डर के साए में है। इस मुश्किल वक्त में जब अपने अपनों का साथ छोड़ रहे हैं। अंतिम समय में अपने से मिलने से गुरेज़ कर रहे हैं। ऐसे मुश्किल वक्त में एक बेटी अपनी मां के साथ कोरोना से जंग लड़ने के लिए मैदान में उतर गई है। मीनाक्षी नाम की ये युवती PHC संजौली में कार्यरत अपनी माँ के साथ फ्री में सेवा दे रही है

पीएचसी संजौली में तैनात फीमेल हेल्थ वर्कर अनिता वर्मा वैक्सीनशन में ड्यूटी दे रही हैं। लेकिन उनकी बेटी मीनाक्षी भी फ़्री में इस काम में अपनी मां का हाथ बंटा रही हैं।हिमाचल में स्वास्थ्य कर्मियों का टोटा है। ऐसे में फार्मा का कोर्स कर चुकी अनीता वर्मा की बेटी मीनाक्षी भी सेवाएं दे रही हैं। मीनाक्षी ने
बताया कि उनकी मां से उनको प्रेरणा मिली कि ऐसे कठिन वक़्त में लोगों की सेवा की जाए। पिछले एक माह से जब से वैक्सीनशन लगाने के लिए लोगों की लाइन लग रही है। ऐसे में उन्होंने अपनी मां की सहायता के साथ साथ लोगों की सेवा का जिम्मा उठाया है। जब तक हालात सामान्य नहीं होते वह ये सेवा करने को तैयार हैं।

-
-
Have something to say? Post your comment
-
और विशेष खबरें
उप राजिक मोहर सिंह छींटा सेवानिवृत वन चौकीदार से BO बनने तक का संघर्षपूर्ण सफर । नाम सक्षम ठाकुर योगा में हिमाचल और परिवार का नाम कर रहा ऊँचा विदेश से नौकरी छोड़ी, सब्जी उत्पादन से महक उठा स्वरोजगार सुगंधित फूलों की खेती से महकी सलूणी क्षेत्र के किसानों के जीवन की बगिया मौत यूं अपनी ओर खींच ले गई मेघ राज को ।हादसास्थल से महज दो किलोमीटर पहले अन्य गाड़ी से उतरकर सवार हुआ था हादसाग्रस्त आल्टो में । पीयूष गोयल ने दर्पण छवि में हाथ से लिखी १७ पुस्तकें. शिक्षक,शिक्षार्थी और समाज; लायक राम शर्मा हमें फक्र है : हमीरपुर का दामाद कलर्स चैनल पर छाया पुलिस जवान राजेश(राजा) आईजीएमसी शिमला में जागृत अवस्था में ब्रेन ट्यूमर का सफल ऑपेरशन किसी चमत्कार से कम नहीं लघुकथा अपने आप में स्वयं एक गढ़ा हुआ रूप होता है। इसे यूँ भी हम कह सकते हैं - गागर में सागर भरना
-
-
Total Visitor : 1,66,59,913
Copyright © 2017, Himalayan Update, All rights reserved. Terms & Conditions Privacy Policy